आईआईएमटी कॉलेज में प्रबन्‍धन और मीडिया पर राष्‍ट्रीय कांन्‍फ्रेंस आयोजित

ग्रेटर नोएडा। इंडियन इंटीट्यूट मास कम्‍यूनिकेशन (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. के जी सुरेश ने कहा कि आधुनिक समय तीन विषयों तकनीक, प्रबन्‍धन और मीडिया का संगम है । ये तीनों एक दूसरे के सहायक एवं पूरक हैं । प्रो. सुरेश आईआईएमटी कालेज आफॅ मैनेजमेंट में आयोजित लैटेस्‍ट एडवांसेस इन टेक्‍नालॉजी, मैनेजमेंट एंड मीडिया विषय पर आयोजित राष्‍ट्रीय कांन्‍फ्रेंस में रिसर्च स्‍कॉलर और शिक्षा विशेषज्ञों को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्‍य अतिथी प्रो सुरेश के साथ ही डॉ एम समीर गोपालन, डॉ गौरव जोशी, डॉ आशीष जोशी ने किया।

प्रो. सुरेश ने कहा कि तकनीकी के विकसित होने के कारण ही मीडिया अधिक प्रभावशाली हुआ है । तकनीकी और मीडिया के विस्‍तार के कारण ही आज प्रधामंत्री मीडिया के द्वारा ही मन की बात कार्यक्रम में सीधे जनता से संवाद करते हैं। तकनीकी और मीडिया के विकसित होने के कारण ही आजकल हर एक व्‍यक्‍ति सीधे अपने आप को सरकार से जोड़ सकता है ।

काव प्रकाशन के संरक्षक डॉ गौरव जोशी ने तकनीकी और प्रबन्‍धन पर जोर देते हुए कहा कि फेसबुक अलीबाबा, गूगल, जैसी कंम्‍पनियां का अपना कोइ उत्‍पाद एवं सामग्री न होने पर भी सोच एवं तकनीकी की वजह से दुनिया की सबसे बड़ी कंम्‍पनियों मे सामिल हैं।

आईआईएमटी कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट के निदेशक डॉ. राहुल गोयल ने कार्यक्रम के प्रारंभ में सभी अति‍थियों और विशेषज्ञों का स्‍वागत करते हुए विषय प्रर्वतन किया।

शोध पत्र प्रस्‍तुत करने वाले शोधकर्ताओं को तीन श्रेणियों में पुरस्‍कार दिये गए। युवा शोध वैज्ञानिक का पुरस्‍कार डॉ अब्‍दुल आजाद को उच्‍च शिक्षा में कार्य के लिये पारुल खन्‍ना एवं थिंक टैंक का पुरस्‍कार डॉ एस के लाल को दिया गया।

संगोष्‍ठी का संयोजन कर रहे आईआईएमटीं कालेज आफॅ मैनेजमेंट के निदेशक डॉ डॉ. गोयल ने बताया कि इस राष्‍ट्रीय कांन्‍फ्रेंस में देश विदेश के करीब 169 शोधकर्ताओं ने अपने शोध पत्र प्रस्‍तुत किए। वक्‍ताओं ने आधुनीक परिवेश में तकनीकी ,मैनेजमैन्‍ट और मिडिया में नित नये प्रयोग की मानव समाज में उपयोगिता के बारे में एवं इसके भविष्‍य में होने वाले दूरगामी परिणामों के बारे में भी वर्णन किया।

इस अवसर पर आईआईएमटी कालेज ऑफ पोलिटेक्‍नीक के निदेशक उमेश कुमार, पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के डीन प्रो अनिल निगम, प्रबन्‍धन विभाग के डीन डॉ. अंशुल शर्मा एवं आई आई एम टी कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी के डायरेक्टर डॉ मलिकार्जुन बी पी आदि उपस्‍थित थे ।

यह भी देखे:-

दीपावली के शुभ अवसर पर जूनियर दिल्ली पब्लिक स्कूल ने बांटी खुशियाँ
शारदा विश्वविद्यालय में "निरंतर चिकित्सा शिक्षा" कार्यक्रम
Mother’s Day Celebration at Ryan Greater Noida
शारदा यूनिवर्सिटी में 'वर्ल्ड ब्लड डोनर डे', स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन
कोरोना वायरस एवं देश व्यापी बन्दी में बुद्ध की शिक्षाओं की प्रासंगिकता
ITS EDUCATION GROUP का नाम गिनीज़ बुक आॅफ वल्र्ड रिकाॅर्ड में दर्ज , ’’एक साथ विश्व में सर्वाधिक लोग...
आइटीएस डेंटल कॉलेज में स्पोर्ट्स डे का आयोजन
शिक्षा से ही मिलेगी सफलता : डॉ.अजय पाल शर्मा
Grads International School has hosted Miss Teen International Environmental Seminar
शारदा विश्विद्यालय : नवप्रवेशित मेडिकल छात्रों काे बताया गया , चिकित्सा पेशा नहीं, सेवा का कार्य ...
आज का इतिहास: 9 जुलाई की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
"भारत को बेटी की जरुरत" पर शारदा यूनिवर्सिटी में गोष्ठी का आयोजन
स्कूल कॉलेज फी रेगुलेशन एक्ट का अनुपालन करें : डीएम बी.एन. सिंह
जीएल बजाज संस्थान में पुस्तक प्रदर्शनी का भव्य आयोजन
शारदा विश्विद्यालय में "विश्व गर्भ निरोधक दिवस" कार्यक्रम का आयोजन
आइआइएमटी : रोबोट्स हमारे कार्य करने के तरीके को बदल देंगे: डा डी आर सोमशेखर