नियमों का हवाला देकर मैच में जो हुआ उसपर हंसा जाए या नाराज़ हुआ जाए

इंडिया वर्सेज़ साउथ अफ़्रीका. दूसरा वन-डे मैच. सेंचुरियन का मैदान. इंडिया ने साउथ अफ़्रीका को 118 रन पर सुलटा दिया. साउथ अफ़्रीका की टीम मात्र 32.2 ओवर में ही निपट गई. लिहाज़ा 10 मिनट का ब्रेक देकर इंडिया को बैटिंग करने के लिए कहा गया. अमूमन इनिंग्स ब्रेक 40 मिनट का होता है जिसमें एक इनिंग्स ख़त्म होने के बाद खाना-वाना खाने के लिए वक़्त दिया जाता है. लेकिन चूंकि साउथ अफ़्रीका की टीम बहुत जल्दी आउट हो गई थी, इनिंग्स ब्रेक सिर्फ 10 मिनट का दिया.

इंडिया ने टार्गेट का पीछा करना शुरू किया. रोहित शर्मा जल्दी आउट हो गए लेकिन शिखर धवन और कोहली ने साथ मिलकर बढ़िया बैटिंग करनी शुरू की. धवन ने पचासा भी मारा. 19 ओवर ख़त्म हुए तो कोहली 44 रन बना चुके थे. धवन 51 रन पर खेल रहे थे. तभी अम्पायर ने लंच का ऐलान किया. इंडिया को जीतने के लिए मात्र 2 रन और बनाने थे. कोहली ने अम्पायर की ओर ऐसे देखा जैसे उनकी किडनी मांग ली गई हो. उन्होंने अम्पायरों को याद दिलाने की कोशिश की दो ही रन बनाने थे लेकिन अम्पायरों ने कहा कि नियम जो कहता है वही होगा. हांलाकि अम्पायरों ने इंडिया की बैटिंग के सेशन को 15 मिनट और बढ़ाया था. लेकिन उन 15 मिनट के बाद भी इंडिया के 2 रन बचे हुए थे जो उन्हें 40 मिनट के ब्रेक के बाद बनाने पड़े.

इस नियम के बारे में सभी ने आश्चर्य ज़ाहिर किया. समझ ही में नहीं आ रहा था कि लकीर के फ़कीर बन कर नियमों को इस तरह से क्यूं फॉलो किया जा रहा था जैसे वो इंसानी खेल के नियम नहीं बल्कि गणित का फ़ॉर्मूला हो. कमेंट्री बॉक्स से भी यही आवाज़ आ रही थी कि ‘जो भी हो रहा है हास्यास्पद है. ऐसा कतई नहीं होना चाहिए और नियमों के साथ साथ कॉमन सेन्स को भी थोड़ी जगह दी जानी चाहिए।

यह भी देखे:-

UNCCD कॉप-14: ग्रेटर नोएडा में आयोजित 12 दिवसीय कार्यक्रम में 196 देशों के 3 हजार अंतरराष्ट्रीय प्र...
पूर्व सीएम मधु कोड़ा को कोयला घोटाले में जेल की सजा
ट्रिपल तलाक़ पर ऐतिहासिक बिल लोकसभा में पारित, सारे संशोधन हुए खारिज
जनता कर्फ्यू के दिन ट्रेन सेवा बंद करने का फैसला
वर्ष 2019 में आयोजित होने वाले “PRINTPACK INDIA” के 14वें संस्करण का उद्घाटन
अयोध्या मामला: क्या जन्मस्थान एक न्यायिक व्यक्ति हो सकता है? - न्यायालय
जम्मू बस स्टैंड पर ग्रेनेड हमला, 1 की मौत, 30 से ज्यादा घायल
WhatsApp पर कोई कर रहा है परेशान? तो इस Email-Id पर करें शिकायत
बजट 2019 : पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े, जानिए क्या रहा ख़ास
नई शिक्षा नीति छात्र-केंद्रित है, मूल्य आधारित है और नवाचार के लिए छात्रों को प्रेरित करेगी
क्या चिदम्बरम की गिरफ्तारी से कांग्रेस के पापों का घड़ा फूटेगा?
यूपी योद्धा बेंगलुरु बुल्स को 45-33 से हराते हुए अपने होम लेग का किया अंत
सांसद महेश शर्मा के वायरल वीडियो को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता ने साधा निशाना
राम मंदिर सुनवाई:19 जनवरी 1885 से 2019 तक के न्यायालय का सफर आखिरी पड़ाव पर..
कुमारस्वामी सरकार गिरी, भारतीय जनता पार्टी को 105 वोट मिले
Triple Talaq Bill 2019: पढ़िए, तीन तलाक बिल से जुड़ी 10 बातें