गरीबी नहीं आई आड़े, जानिए इन तीन होनहारों ने कैसे बनाई UP BOARD 12 वीं के टॉप टेन में जगह , क्या है लक्ष्य

बिलासपुर । एक तरफ तो लोग अपने बच्चों को सुख सुविधा देते हुए बडे -बडे इंग्लिश मीडियम स्कूलों में इसलिए दाखिला दिलाते हैं कि आज कम्पटीशन के दौर में वो किसी से पीछे न रह जाएं और सफलता का कीर्तिमान स्थापित करें। लेकिन दनकौर ब्लॉक के निर्धन परिवार के चार छात्रों ने पूरे जिले में टॉप टेन में जगह बनाकर परिवार क्षेत्र का नाम रोशन किया है। इनमें दिनेश शिवकुमार और विशांत नागर ने क्रमश: आठवां , नवां और दसवां स्थान प्राप्त किया है। आठवां स्थान प्राप्त करने वाले विशांत नागर नवादा गाँव के साधारण परिवार से हैं। उनके पिता आजाद सिंह किसान हैं। विशांत नागर की मां कुसुम देवी गृहणी है। विशांत ह एयरफोर्स में जाकर देश की सेवा करना चाहता है। वह अपनी सफलता का श्रेय अपने माता- पिता और अपने अध्यापकों को देता है। उसने बताया कि वह पैदल अपने गाँव से स्कूल जाता था ।

वहीं जिले में नौवां स्थान प्राप्त करने वाले शिवकुमार भट्टा गाँव के रहने वाले हैं। उनके पिता महावीर सिंह प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं। उनकी माता दयावती गृहणी हैं। शिवकुमार जो साईकिल द्वारा गाँव से दनकौर पढाई करने दनकौर जाता था उसका सपना डॉक्टर बनने का है। वह अपनी सफलता का श्रेय अपने अध्यापकों और अपने माता- पिता को देता है ।

बिहारी लाल स्कूल के ही जिले में दसवें स्थान पर आए दिनेश कुमार दनकौर से 15 किमी दूर रामपुर खादर गाँव के गजेंद्र सिंह के पुत्र हैं। वह मेहनत मजदूरी करके परिवार चलाते हैं। दिनेश की मां जगवती गृहणी हैं। दिनेश आईएएस बनकर देश की सेवा करना चाहता है। — रिपोर्ट : शफी मोहम्मद सैफी

यह भी देखे:-

अगस्तया इंटरनेशनल फाउंडेश द्वारा विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन
AKTU: पीएचडी में दाखिले की प्रवेश परीक्षा 20 फरवरी को
अब छात्र नौकरी करेंगे नहीं नौकरी देंगे , आईआईएमटी के छात्रों ने जाना बिजनेस का फंडा
आईटीएस में उद्यमिता विकास पर संकाय विकास कार्यक्रम
शारदा विश्वविद्यालय, ओरिएंटेशन प्रोग्राम में नवप्रवेशित छात्रों को बताया गया शिक्षा का महत्व
भारत सरकार एक पालि केंद्रीय विश्वविद्यालय या नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पालि की स्थापना करे
जीएनआईओटी में इंडक्शन प्रोग्राम का आगाज
4 फरवरी : विश्व कैंसर दिवस पर जानिए इसके मुख्य कारण और लक्षण
कोरोना अपडेट : दक्षिण भारत से फैल रहा है नया कोरोना, कहिं लॉक डाउन तो नही लगने वाला, जानें कैसे
आईटीएस इन्जीनियरिंग काॅलेज ने राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस मनाया
Five sitting Judges from SAARC Countries Judge the Fourth Prof. N R.Madhava Menon SAARC Law Mooting ...
ईशान आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज: नस्य चिकित्सा पर आयुर्वेद कार्यशाला
शारदा विश्वविद्यालय में सांस्कृतिक महोत्सव "CHORUS 2017 " नौ नवम्बर से
एनआईयू का दूसरा दीक्षांत समारोह सम्पन्न, शहीद जवानों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्रदान करेगा विवि : ड...
आईआईएमटी कॉलेज में ‘आरंभ-2021’ नए साल का जश्न मना
आईटीएस में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का आयोजन