“पद्मावती” से “पद्मावत” बनने के बावजूद है जारी है महा संग्राम

नई दिल्ली। पद्मावती’ से ‘पद्मावत’ हो चुकी फिल्म को लेकर अभी भी महासंग्रास जारी है। फिल्म की रिलीजिंग को लेकर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने ये साफ कर दिया था कि फिल्म 25 जनवरी को देशभर में एक साथ रिलीज कराई जाए, लेकिन राजस्थान और मध्यप्रदेश की सरकारें अभी भी फिल्म के खिलाफ हैं। दरअसल, राजस्थान और मध्यप्रेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की है, जिस पर मंगलवार को सुनवाई की जाएगी। राजस्थान और मध्यप्रदेश की सरकारों ने सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले के खिलाफ याचिका दाखिल की है, जिसमें कोर्ट ने चार राज्यों में फिल्म पर लगी रोक को हटाने का आदेश दिया था। इनमें राजस्थान, एमपी के अलावा हरियाणा और गुजरात का नाम शामिल था।

राजस्थान और मध्यप्रदेश सरकार की संशोधन याचिका पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा। इस मामले में हरिष साल्वे वायाकॉम की सुनवाई के लिए मौजूद थे। आपको बता दें कि देशभर में ‘पद्मावत’ 25 जनवरी को रिलीज होनी है। इससे पहले करणी सेना ने भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नाराजगी जाहिर की है। करणी सेना का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी थियेटर मालिक हमसे पूछकर ही फिल्म को रिलीज करें। वहीं सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी देशभर में ‘पद्मावत’ का विरोध किया जा रहा है।

उत्तर भारत से लेकर दक्षिण तक फिल्म का विरोध किया जा रहा है। रविवार को तो हरियाणा के कुरुक्षेत्र में केसर मॉल में अज्ञात लोगों ने फायरिंग और तोड़ोफोड़ कर दी। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, ये लोग बाइक पर सवार होकर आए थे। हमलावर सीसीटीवी में कैद हुए हैं। इस घटना को लेकर सरकार की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं आई है। हालांकि हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकार सभी थियेटर मालिकों को सुरक्षा देने के लिए तैयार है।

उधर राजस्थान में राजपूत समाज की महिलाओं ने भी फिल्म के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। राजपूत महिलाओं ने यहां फिल्म रिलीज होने पर सामूहिक जौहर की धमकी दी है। हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्टस में कहा जा रहा है कि अब महिलाओं ने ये सामूहिक जौहर स्थगित कर दिया है और अब उन्होंने राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग की है। आपको बता दें कि राजपूत महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ के किले में 24 जनवरी को सामूहिक जौहर की धमकी दी थी। श्रीराजपूत करणी सेना के प्रमुख महिपाल मकराना ने कहा था कि 24 जनवरी को राजपूत महिलाएं चित्तौड़गढ़ में जौहर करेंगी।

यह भी देखे:-

3,150 करोड़ रुपये के बिजनेस पूछताछ के साथ संपन्न हुआ IHGF 2017 DELHI FAIR , अजय शंकर मेमोरियल अवार्ड...
पाकिस्तान : गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले का मुख्य आरोपी गिरफ्तार
UNCCD कॉप-14: ग्रेटर नोएडा में आयोजित 12 दिवसीय कार्यक्रम में 196 देशों के 3 हजार अंतरराष्ट्रीय प्र...
नहीं रहे गोवा के सीएम मनोहर पर्रीकर, राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर दी जानकारी
कश्मीरी छात्र ने फेसबुक पर शेयर किया विवादित पोस्ट, IIMT कॉलेज ने किया निलंबित
T20 2021 तक मुख्य कोच बने रहेंगे रवि शास्त्री
UNCCD COP14:भूमि क्षरण को रोकने के लिए 14 अफ्रीकी देशों ने अपनाया 3S का फार्मूला
समलैंगिकता और निजता का अधिकार , क्या कहता है कानून
इनकम टैक्स रीटर्न (ITR) दाखिल करने की तारीख बढ़ी
आरएलएसपी प्रमुख ने केंद्रीय मंत्री पद से दिया इस्तीफा- सूत्र
जीएसटी काउन्सिल की बैठक में किए गए बड़े बदलाव, जानिए क्या हुआ सस्ता , छोटे कारोबारियों को राहत
भारत को दर्पण दिखाता कश्मीर की इतिहास, विद्रोह एवं घटनाक्रम
देश में मोदी-शाह की जोड़ी के मैजिक के बाद भी राज्यों में सिकुड़ते साम्राज्य को बचाना भाजपा के सामने बड़...
इस तारीख से ग्रेटर नोएडा में लगेगा ऑटोमोबाईल का महाकुम्भ - AutoExpo 2018
घंटी बजी , एक टैक्स, एक बाजार, एक देश, लागू हुआ GST   
अयोध्या केस : देश की सर्वोच्च अदालत ने सुनाया फैसला , पढ़ें