भाजपा नेता हत्याकांड में वांटेड शार्प शूटर गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा/मुज़फ्फरनगर : यूपी एसटीएफ की नोएडा ईकाई ने ग्रेटर नोएडा के बिसरख इलाके में भाजपा नेता शिव कुमार हत्याकांड में वांछित चल रहे शार्प शूटर अनिरुद्ध भारद्वाज उर्फ़ पंडित उर्फ़ रावण उर्फ़ छपार को मुजफ्फरनगर से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है . बता दें बीते 16 नवम्बर को बिसरख कोतेअली क्षेत्र के हैबतपुर गाँव के निकट भाजपा के नेता शिव कुमार की गोलियों से भुनकर हत्या कर दी गई थी . इस दौरान उनका एक गनर और ड्राइवर समेत एक युवती भी मारी गयी थी . सीओ एसटीएफ राजकुमार मिश्र ने बताया गिरफ्तार शार्प शूटरअनिरुद्ध, कुख्यात अपराधी अनिल भाटी के लिए काम करता है । इसके पास से 9 mm पिस्टल भी बरामद हुई। अन्निरुद्ध 2011 में हत्या के आरोप में मुज़फ़्फ़रनगर से जेल जा चुका है। गिरफ़्तार अभियुक्त ने अनिल भाटी गैंग के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारी भी दी है।

अभियुक्त अनिरुद्ध पर गौतमबुद्ध नगर से इसी हत्याकांड में 25,000 का ईनाम घोषित किया गया था। उल्लेखनीय है कि पूर्व में यूपी एसटीफ द्वारा इस घटना का अनावरण करते हुए शार्प शूटर नरेश तेवतिया, घटना कराने वाले अरुण यादव और रेकी करने वाले धरमदत्त शर्माउर्फ़ सोनू को 4 दिसम्बर में गिरफ़्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

यह भी देखे:-

3.30 किलो गांजे के साथ दो तस्कर गिरफ्तार
नोएडा : शातिर भूमाफिया गिरफ्तार
जिला उपभोक्ता फोरम ने एयरटेल पर लगाया जुर्माना
पुलिसकर्मी बताकर कब्जे में ली गाड़ी, फिर हो गए फरार
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अधिकारियों के तबादले, पढ़ें किसे कहाँ तैनाती मिली
लड़की बन विदेशी युवक खेल रहे हैं ठगी का खेल, एसटीएफ यूपी का बड़ा खुलासा, एक गिरफ्तार
दादरी पुलिस के वाहन चेकिंग के दौरान पकड़ा गया शराब तस्कर
पेड़ से लटका मिला अज्ञात युवक का शव, पुलिस ने की पहचान करने की अपील
दुस्साहस : कोतवाली के पास बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम
धारदार हथियार से युवक की गर्दन रेतकर हत्या
ग्रेटर नोएडा के निर्माणाधीन बिल्डिंग से गिरकर मजदूर की मौत
3 वर्ष की बच्ची की संदिग्ध परिस्थिति में दर्दनाक मौत
रंजिश के चलते दो युवकों की गई थी निर्मम हत्या, चार आरोपी गिरफ्तार
हथियार के नोंक पर अकाउंटेंट से लूट
देखें विडियों, नोएडा : पुलिस एनकाउंटर में ठक-ठक गैंग का सरगना घायल, तीन गिरफ्तार
आईपीएस के नाम पर बनाई फर्जी फेसबुक आईडी , फिर उसके दोस्त के साथ की ठगी, जानिए कैसे