स्कूल 6 जनवरी तक बन्द, DM ने दिए निर्देश, आगामी एक सप्ताह तक भीषण ठंड के आसार

नोएडा में कड़ाके की ठंड और शीत लहर के चलते सभी बोर्ड के नर्सरी से लेकर कक्षा आठ तक के स्कूल 6 जनवरी तक बंद कर दिए गए है। जिला अधिकारी के निर्देश पर जिला बेसिक अधिकारी ने ये सूचना जारी की। दरअसल पहले स्कूलों में दो जनवरी तक छुट्टी थी। लेकिन बीते कुछ दिनों से मौसम में तेजी बदलाव आया और तेज ठंड हो रही है। इस कारण ये निर्णय लिया गया। यही नहीं निर्देश का पालन नहीं करने वाले स्कूलों पर सख्त एक्शन भी लिया जाएगा।

नोएडा में आगामी 8 जनवरी तक तेज ठंड पड़ने के आसार है। अधिकतम तापमान 18 से 20 और न्यूनतम तापमान 9 से 10 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है। इसके अलावा वातावरण में कोहरा और धूल की अधिकता रहेगी। इसके अलावा ठंडी हवा चलेगी। आंशिक धूप निकल सकती है। ऐसे में बच्चों का घर से बाहर निकला उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ है। लिहाजा स्कूल बंद करने का निर्णय लिया गया है। वहीं वातावरण में नमी कीवहीं वातावरण में नमी की मात्रा 80 प्रतिशत और हवा की रफ्तार 3 किमी प्रतिघंटा रिकार्ड की गई।

यह भी देखे:-

दिल्ली-एनसीआर: वायु गुणवत्ता सूचकांक में मामूली सुधार, 'गंभीर' से 'बहुत खराब' श्रेणी में पहुंचा एक्य...
शारदा स्कूल ऑफ नर्सिंग साइंस एंड रिसर्च में कार्यशाला का आयोजन
NCR चैंपियंस एवम् स्वैग साइक्लिंग समूह ने तिरंगा रैली निकाली
सपा-कांग्रेस के संयुक्त प्रत्याशी डॉ. महेंद्र नागर ने किया नामांकन
जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने किया सिकंदराबाद क्षेत्र के गांवों का दौर...
अमित शाह बोले- लोकतंत्र हमारे देश का स्वभाव, बिना कानून व्यवस्था नहीं हो सकता सफल
विकास यात्रा थीम पर आधारित तीन दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन
ग्रेटर नोएडा: आपदाओं से बचाएगा बारकोड- भूकम्प, आकाशीय बिजली, सर्पदंश एवं बाढ से होगा बचाव
गौतमबुद्ध नगर में आज कोरोना के कितने मरीज मिले , जानिए , 670 अब भी सक्रिय
उम्र बढ़ने के साथ बढ़ती स्वास्थ्य चुनौतियां
World Arthritis Day 2021: आइए जानें अर्थराइटिस से जुड़े 7 मिथकों की सच्चाई!
कन्हैया मित्तल के भजन पर झूमे हजारो दर्शक
सूरजपुर में प्राचीनकालीन ऐतिहासिक बाराही मेला-2024, हवन यज्ञ और ध्वाजारोहण के साथ शुरू
शिवपाल , औवैसी, चंद्रशेखर व ओमप्रकाश राजभर ने की बड़ी बैठक- अखिलेश को अल्टीमेटम
जीबीयू की बायोटेक की छात्रा देवंशिका झा वायस ऑफ बीटी में पाया पहला स्थान
महिला की मौत के बाद मुआवजे को लेकर हजारों की संख्या में श्रमिकों ने किया हंगामा, तोड़फोड़ का आरोप