किसानों के लिए ग्रेनो प्राधिकरण बोर्ड ने खोला राहत का पिटारा

–ग्रेनो के किसानों को 10 फीसदी विकसित भूखंड देने पर बोर्ड की सहमति
–वेंडिंग जोन में 33 फीसदी आरक्षण व 296 लीज बैक के प्रकरणों को भी मंजूरी
—————————————
ग्रेटर नोएडा। गेटर नोएडा प्राधिकरण बोर्ड ने मंगलवार को बैठक में किसानों के लिए राहत का पिटारा खोल दिया है। प्राधिकरण ने किसानोें सुप्रीम कोर्ट व उच्च न्यायालयों के आदेशों पर 64.7 फीसदी अतिरिक्त मुआवजा पाने वाले किसानों को 10 फीसदी विकसित आबादी भूखंड दिए जाने के प्रस्ताव पर बोर्ड ने सहमति दे दी है। अब इसे षासन के पास भेजा जाएगा। वहां से अनुमोदन के उपरांत इसे लागू किया जाएगा। किसानों की लंबे समय से चली आ रही मांग को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार की तरफ से चेयरमैन मनोज कुमार सिंह के समक्ष इस प्रस्ताव को रखा गया, जिस पर चेयरमैन ने इसे तत्काल स्वीकार कर लिया। अब इस पर अनुमोदन के लिए षासन को भेजा जाएगा। वहां से अप्रूवल के बाद किसानों को अधिग्रहित जमीन का 10 फीसदी (अधिकतम 2500 वर्ग मीटर) मिल सकेगा। इससे लंबे समय से किसानों की लंबित मांग पूरी हो जाएगी। पात्र किसानों को आरक्षण पत्र जारी किए जाएंगे। विकसित भूखंड का आवंटन शीघ्र भूमि अर्जित कर दिया जाएगा। अगर किसी पात्र किसान ने अवैध कब्जा कर रखा है तो उसे स्वेच्छा से अवैध कब्जा हटा लेने के बाद ही भूमि का आवंटन किया जाएगा। किसानों को शपथ पत्र देना होगा कि उनके पास आरक्षित या आवंटित भूखंड 2500 वर्ग मीटर से अधिक नहीं है। इस बाबत किसान की तरफ से अगर कोई याचिका या फिर विषेष अनुज्ञा अपील की गई है तो उसे वापस लिया जाएगा। बोर्ड ने इस प्रस्ताव को शासन को भेजने के निर्देश दिए हैं। किसानों की दूसरी मांग पर प्राधिकरण बोर्ड ने आपसी सहमति से भूमि विक्रय करने वाले किसानों को नए भूमि अधिग्रहण कानून के तहत परियोजना प्रभावित मानकर उन्हें भूमि अर्जन पुनर्वासन और पुर्नव्यवस्थापन के हिसाब से उचित मुआवजा और पारदर्शिता का अधिकार अधिनियम 2013 (नये भूमि अधिग्रहण कानून) के तहत लाभ दिए जाने पर सकारात्मक फैसले के लिए शासन के पास भेजने पर हरी झंडी दे दी है। किसानों की तीसरी मांग के रूप में प्राधिकरण बोर्ड ने वेंडिंग जोन में किसानों को 33 फीसदी आरक्षण के प्रस्ताव को भी स्वीकार कर लिया है। इसके अलावा किसानों की ही मांग पर प्राधिकरण बोर्ड ने लीज बैक के 533 में से शासन से अनुमोदित 296 पात्र किसानों को लीज बैक करने के प्रस्ताव पर सहमति दे दी है। जल्द ही पात्र किसान लीज बैक करा सकेंगे। इन फैसलों से बड़ी संख्या में किसानों को लाभ मिल सकेगा।

यह भी देखे:-

मरम्मत के लिए ग्रेटर नोएडा का ये रेलवे फाटक रहेगा बंद
नरेंद्र भूषण यमुना समेत अन्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण के चेयरमैन बने
शारदा विश्वविद्यालय में नेपाली छात्रों ने मनाया नववर्ष
मुद्रकों एवं प्रकाशकों को निर्वाचन सामग्री प्रकाशित करने संबंधी निर्देश जारी
शिव नादर विश्वविद्यालय ने सफलता पूर्वक किया 10K चैलेंज 2023 के पहले संस्करण का आयोजन
ईशान कॉलेज में आज विश्व पर्यावरण दिवस पर वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन
ग्रेटर नोएडा में दूसरा जीआई मेला भारत 23 का आगाज़
भारत निर्वाचन आयोग के स्वीप कार्यक्रम के तहत "वोट फॉर रन" का हुआ आयोजन
दिल्ली-गाजियाबाद के कई मार्गों पर भारी ट्रैफिक, एनएच-9 और एनएच 24 के सभी छह लेन बंद
ग्रेटर नोएडा के एक्सपो मार्ट में लगे गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के स्टाल पर पहुंचे सीएम योगी
एकेटीयू के छात्रों को नौकरी पाने का है सुनहरा अवसर, अप्तारा कॉर्पोरेशन कराने जा रही है कैंपस प्लेसमे...
फरिश्ता बनी पुलिस, नाले में गिरी बच्ची को बाहर निकाला, नए कपड़े पहनाए
AKTU: 20 अप्रैल तक आवेदन करना होगा अपलोड
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने जा रहे किसानों को पुलिस ने रोका, तीन नेताओं को हाउस अरेस्ट करने...
ट्रेन की चपेट में आकर अज्ञात महिला की मौत
गलगोटियाज विश्वविद्यालय में फैकल्टी र्स्पोटस फैस्ट 2021 का भव्य आयोजन