एसएसपी लव कुमार ने दो दरोगा को किया सस्पेंड

नोएडा : एसएसपी लव कुमार ने नोएडा के हरौला पुलिस चौकी में तैनात दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। दोनों शराब के नशे में धुत मिले थे जिसके बाद एसएसपी ने ये कार्यवाही की है।

जानकारी के मुताबिक एएसपी अभिनंदन ने पुलिस चौकी का औचक निरीक्षण किया था। जहां दोनों दरोगा नशे में मिले थे। एएसपी की रिपोर्ट पर एसएसपी लव कुमार ने यह कार्रवाई की है। निलंबित किए गए दरोगाओं में थाना सेक्टर-20 में तैनात संजीव बालियान व योगेन्दर सिंह शामिल हैं। एएसपी अभिनंदन ने बताया कि सोमवार देर रात को वह हरौला पुलिस चौकी चेकिंग के लिए पहुंचे जहां दोनों दरोगा नशे में मिले।

एक कंपनी के लोग कई बार हरौला पुलिस चौकी में कोर्ट का स्टे ऑर्डर देने गए थे लेकिन वहां स्टे ऑर्डर रिसीव नहीं किया जा रहा था। सोमवार रात को भी कंपनी के लोग कोर्ट का आदेश पुलिस चौकी पर देने गए थे। इस दौरान पुलिस चौकी पर दोनों दरोगा शराब के नशे में धुत थे। इसकी शिकायत मिलने पर उन्होंने पुलिस चौकी का निरीक्षण किया। निरीक्षण में दोनों दरोगा शराब के नशे में धुत मिले। इसकी रिपोर्ट एसएसपी को भेजी गई थी। रिपोर्ट के आधार पर एसएसपी ने दोनों को निलंबित कर दिया।

यह भी देखे:-

नकली बम रखकर मांगी फिरौती , पैसे न देने पर मकान उड़ाने की धमकी
नोएडा प्राधिकरण ने 50 फीसदी गार्डों को हटाया, लाखों की हो रही थी फिजूल खर्ची 
प्रदेश पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने किया नोएडा शिल्पोत्सव का उद्घाटन
SMOG पर जिला  प्रशासन द्वारा प्रदूषण की  लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है : डीएम बी.एन. सिंह
मशहूर उद्योगपति हरिभाई के निधन पर एमएसएमई ने शोक जताया
एसएसपी ने दो पुलिसकर्मियों को किया निलंबित
दलित उत्थान संघर्ष महासभा ने मनाया बाबा साहब का परिनिर्वाण दिवस
कैराना सांसद हुकुम सिंह नहीं रहे
पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक वृक्ष लगाएं - डीएम बी. एन. सिंह
लोगों को सम्मानित किया
डंपिंग ग्राउंड के विरोध में प्राधिकण अध्यक्ष का पूतला फूंका
नोएडा : सैमसंग पर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण व किसान गिरफ्तार
नवरत्न ने जो आये वो गाये में शमशाद बेगम का मनाया सौवां जन्मदिन  
जीएनआईओटी में एबीवीपी का जिला अभ्यास वर्ग का आयोजन
कच्ची शराब पर प्रतिबंध के उद्देश्य से आबकारी विभाग का अभियान जारी
नोएडा प्राधिकरण द्वारा किसानों की पुरानी आबादियों को तोड़े जाने की समस्या का शीघ्र निस्तारण की मांग