पूर्वांचल मित्र मंडल छठ पूजा समिति द्वारा की तैयारियां अंतिम चरण में, आज से शुरू सूर्य उपासना का महापर्व

पूर्वांचल मित्र मंडल छठ पूजा समिति द्वारा सेक्टर 31 स्थित शहीद भगत सिंह पार्क में आयोजित चार दिवसीय छठ पूजा महोत्सव में छठ घाट की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। छठ व्रतियों की सुविधा के लिए छठ घाट को बड़ा किया जा रहा है। छठ घाट के आस पास के पेड़ों को छांटा जा रहा है। आयोजन समिति के महासचिव एवं प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने बताया कि चार दिवसीय छठ पूजा महोत्सव के प्रथम दिवस 17 नवंबर को छठ व्रती नहाय खाय के साथ वृत शुरू करेंगे।

वहीं 18 नंबर को खरना करेंगे जिसका मतलब होता है शुद्धिकरण। इस दिन छठ व्रती पूरे दिन उपवास रखते हैं और शाम को गन्ने के रस या गुड़ से बनी खीर का भोग लगाने के बाद उपवास तोड़ते हैं। इसके बाद 36 घंटे के निर्जल व्रत के लिए तैयार होते हैं। 19 नवंबर को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा वहीं 20 नवंबर को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देकर वृत का पारायण होगा। इस अवसर पर आयोजन समिति के संयोजक अर्जुन प्रजापति, अध्यक्ष गजेंद्र सिंह, उपाध्यक्ष जय प्रकाश गुप्ता, तरुण , मयंक सिंह, सुधीर राय सहित तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे।

यह भी देखे:-

योगी बनो उपयोगी बनो सहयोगी बनो : आचार्य अशोकानंद जी महाराज
ग्रेटर नोएडा में होगा भव्य उत्तराखंडी सांस्कृतिक कार्यक्रम, रामलीला का भी होगा मंचन
कल का पंचांग, 11 जनवरी 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
कल का पंचांग, 11 अगस्त 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
बाबा बालक नाथ के भक्तों ने निकाली झंडा प्रभात फेरी
ग्रेटर नोएडा : दनकौर,जेवर, दादरी के ईदगाहों में अदा की गई ईद-उल-अजहा की नमाज
आज का पंचांग, 31 दिसंबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
अनंत चतुर्दशी एवं वासुपूज्य भगवान का मोक्ष कल्याणक महोत्सव
कल का पंचांग, 5 सिंतबर 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग , 4 अगस्त 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
महिला शक्ति उत्थान मंडल ने कुछ इस अंदाज़ में मनाया हरियरी तीज का त्यौहार
गौतमबुद्ध नगर पुलिस लाइन में आयोजित हुआ जन्माष्टमी महोत्सव
ला रेसिडेंसिया सोसाइटी में दुर्गा पूजा, धूमधाम से होगा माता के प्रतिमा का विसर्जन 
कल का पंचांग, 21 अक्टूबर 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
कल का पंचांग, 22 फरवरी 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग, 1  अक्टूबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त