22 महीनों में 11 करोड़ 72 लाख से ज्यादा भक्तों ने किए बाबा विश्वनाथ के दर्शन

श्री काशी धाम के शुभारंभ के बाद अब तक खुद सीएम योगी आदित्यनाथ भोलेनाथ के दिव्य दरबार में सौ बार से अधिक लगा चुके हैं हाज़िरी

-विस्तारित धाम में दर्शन, पूजन समेत भक्तों के हर छोटी-बड़ी जरूरतों का योगी सरकार रख रही है पूरा ध्यान, श्रद्धालुओं ने भी उत्तम व्यवस्था को सराहा

-धाम में अब हर महीने औसतन कम से कम 31 लाख से अधिक व अधिकतम 95 लाख से अधिक श्रद्धालु महादेव के दरबार में शीश नवा रहे हैं

-धाम में दर्शनार्थियों के रहने-खाने से लेकर हर सुविधा है उपलब्ध, गर्मी-ठण्ड और बरसात में श्रद्धालुओं को परेशानी न हो इसके लिए बेहतर की जा रही है व्यवस्था

श्री काशी विश्वनाथ धाम के नए अवतरण में आने के बाद धाम में श्रद्धालुओं की संख्या नित नया कीर्तिमान बना रही है। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के बाद लगभग 22 महीनों में 11 करोड़ 72 लाख से ज्यादा भोले के भक्तों ने अब तक बाबा का दर्शन किये हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद बाबा के दरबार में सौ बार से अधिक हाज़िरी लगा चुके हैं और भक्तों को सुविधाएं दिए जाने के लिए ख़ाका खींचते रहे हैं। प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट श्री काशी विश्वनाथ धाम को धरातल पर उतारते हुए योगी सरकार ने विस्तारित धाम में भक्तों के हर छोटी-बड़ी जरूरतों का ध्यान रखा है, जिससे भक्तों को असुविधा न होने पाए। यही कारण है जिससे श्री काशी विश्वनाथ धाम में आस्था का जनसैलाब उमड़ रहा है। लोकार्पण के बाद हर महीने कम से कम 31 लाख से अधिक और अधिकतम 95 लाख से अधिक शिव भक्त देवो के देव महादेव के दरबार में शीश नवा रहे हैं।

भक्तों के मंदिर तक पहुंचने की राह हुई आसान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण होने के बाद से रोजाना धाम में लाखों श्रद्धालु बाबा के दर्शन के लिए आ रहे हैं। श्री काशी विश्वनाथ धाम के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि श्री काशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण 13 दिसंबर 2021 को हुआ था। तब से अब तक 11 करोड़ 72 लाख 71 हज़ार 7 सौ उन्नचास श्रद्धालुओ ने दर्शन किया है। मुख्यकार्यपालक अधिकारी ने बताया कि गर्मी ,ठण्ड और बरसात में श्रद्धालुओ को परेशानी न हो इसके लिए बेहतर से बेहतर इंतज़ाम किये जा रहे है। तेज धूप से बचाने के लिए जर्मन हैंगर, पैर न जले इसके लिए मैट, कूलर, पीने का पानी, सावन में दिव्यांगजनों के लिए निःशुल्क व्हीलचेयर, सभी के लिए चिकित्सा व्यवस्था आदि व्यवस्था ने शिव भक्तों की मंदिर तक पहुंचने की राह आसान कर दी है। उल्लेखनीय है कि दिसम्बर 2021 में लोकार्पण के बाद 2022 के जनवरी महीने में 74,59,471, 2022 के सावन माह में लगभग 7681561, 2023 अधिक माह के श्रावण माह के महीने में जुलाई में 7202891 अगस्त में 9562206 श्रद्धालुओं ने काशी पुराधिपति के दर्शन किये।

लोकार्पण के बाद काशी विश्वनाथ मंदिर में भक्तों की संख्या

वर्ष 2021 दिसंबर — 48,42716 दर्शनार्थी

वर्ष 2022 जनवरी से दिसम्बर -71,147,210 दर्शनार्थी

वर्ष 2023 जनवरी से 11 सितम्बर -41,281,823 दर्शनार्थी

धाम में मिल रही हैं तमाम सुविधाएं
धाम में समय के साथ से सुविधाएं भी जुड़ती जा रही हैं। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में श्रद्धालुओं के लिए शॉपिंग की भी सुविधा मिल रही है। यहां दुकानों पर पीतल की मूर्तियां, कलाकृतियां, पूजन सामग्री, प्रसाद, मंदिर और बाबा की तस्वीरें, बनारसी सिल्क की साडिय़ां व कपड़ों समेत अन्य सामान उपलब्ध हैं। धाम परिसर में फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट भी हैं जहां उचित दर पर बिना प्याज और लेहसून का शुद्ध शाकाहारी भोजन है और व्रत की थाली भी उपलब्ध है। अन्न क्षेत्र में निःशुल्क भोजन की व्यवस्था भी है। धाम परिसर में ही रुकने के लिए होटल और काशी दर्शन के लिए टूर पैकेज़ उपलब्ध हैं। मोक्ष की राह देख रहे वृद्धों के लिए निःशुल्क मुमुक्षु भवन की भी व्यवस्था की गई है।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा में गणेशोत्सव की धूम, नृत्य-गायन प्रतियोगिता में बच्चों ने मचाया धमाल, राधा कृष्ण लीला...
दनकौर : विवेकानंद विद्यापीठ स्कूल में नवरात्रि और दशहरा पर्व के उपलक्ष्य मे फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता...
हिन्दू युवा वाहिनी ने दनकौर में शहीद भगत सिंह की जयंती मनाई 
नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से बदलेगी पूरे एनसीआर क्षेत्र की तकदीर और तस्वीर
गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में iNeuron प्रौद्योगिकी के सहयोग से टेक-ए-थॉन 2022 का हुआ आयोजन
राजभवन में मनाया गया उत्तर प्रदेश दिवस, नोएडा-ग्रेनो के अधिकारी भी हुए शामिल
PM Modi Varanasi : पीएम मोदी का हुआ जबरदस्त स्वागत, लहरतारा पुल पर सीएम योगी के साथ कि चहलकदमी
Ryanites, Greater Noida Shine as star at International Dance Competition
हैंडबॉल एवं बास्केट बॉल खेल के लिए महिला टीम का चयन
राम मंदिर में दर्शन-पूजन के नए नियम बनाए गए, भीड़ बेकाबू होने के बाद आज सख्त पहरा
कल का पंचांग, 14 फ़रवरी 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग ,जानिए शुभ व अशुभ मुहूर्त
COVID-19 India News : संक्रमितों की तुलना में ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी, 24 घंटे में 14 हजार से ...
कल का पंचांग, 19 नवम्बर 2022, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आईआईए ग्रेटर नोएडा के उद्यमियों की "मंथन ब्रेकफास्ट गोष्ठी" का हुआ आयोजन
कल का पंचांग, 23 जुलाई 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त