जीबीयू के बौध अध्ययन विभाग के विदेशी छात्रों ने वियतनाम का बौध पर्व वू-लान मनाया

आज वियतनाम बौध परंपरा के अनुसार अपने पूर्वजों, माता-पिता और शिक्षकों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए वु-लान पर्व जीबीयू में बौध-अध्ययन विभाग के विदेशी छात्रों ने बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जिसमें विदेशी छात्रों के अलावा विश्वविद्यालय के कुलपति, अधिष्ठाता शैक्षणिक एवं बौध अध्ययन विभाग के शिक्षकों ने प्रतिभाग किया।

यह त्यौहार वियतनाम में लोकप्रिय बौद्ध त्यौहारों में से एक है। इस त्योहार का भारतीय जुड़ाव है या हम कह सकते हैं कि यह साझा बौद्ध विरासत का प्रमाण है जो भारत से चीन होते हुए वियतनाम और अन्य बौद्ध देशों तक पहुंचा है। यह कहानी मौदगल्याना से जुड़ी है, जिसने अपनी मां को नर्क की यातनाओं से बचाया था और मान्यता के अनुसार इस विशेष दिन नरक का द्वार खुलता है ताकि दिवंगत आत्मा रिश्तेदारों द्वारा दी गई भिक्षा और उपहार स्वीकार करने के लिए पृथ्वी पर आ सके। चीन में इसे युलान पेन कहा जाता है जबकि भारत में इसे उलम्बन कहा जाता है।

इस कार्यक्रम का आयोजन वियतनाम के बौद्ध छात्रों द्वारा किया गया था जो मुख्य रूप से वियतनामी बौद्ध धर्म की खत-सी परंपरा से संबंधित हैं। कार्यक्रम का समन्वय आदरणीय भिक्षु न्गुयेन दुय चुओंग और आदरणीय भिक्षु तू खाक हाई द्वारा किया गया और अध्यक्षता आदरणीय भिक्षु लीम ने की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रोफेसर रवींद्र कुमार सिन्हा, कुलपति, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, प्रोफेसर एन पी मेलकानिया, और बौद्ध अध्ययन विभाग के संकाय सदस्य और जीबीयू के विदेशी छात्र थे। प्रोफेसर सिन्हा पूरे कार्यक्रम को छात्रों द्वारा आयोजित करने के तरीके से बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने इस महोत्सव के बारे में भी जाना। उन्होंने निमंत्रण और वियतनामी बौद्ध परंपरा के बारे में और अधिक जानने के अवसर के लिए अपनी गहरी कृतज्ञता व्यक्त की। प्रोफेसर मेलकानिया ने भी अपना अनुभव व्यक्त किया। कार्यक्रम में डॉ अरविन्द कुमार सिंह, डॉ चंद्रशेखर पासवान, डॉ प्रियदर्शिनी मित्र, डॉ ज्ञानदित्य शाक्य, डॉ चिंतल वेंकट सिवासाई, डॉ मनीष मेशराम, डॉ विमलेश कुमार राय, एवं बौध छात्रों ने भाग लिया।

यह भी देखे:-

नोएडा एक्सप्रेसवे पर हुए सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौत
महिला दिवस के दिन लखनऊ में पति ने पत्नी को गोली से उड़ाया
ईस्टर्न पेरिफेरल पर जबरदस्त सड़क हादसा 6 लोगों की मौत
आईआईए पदाधिकारियों ने बैठक कर आरएम यूपीएसआईडीसी को गिनाई समस्या
ग्रेनो प्राधिकरण पर आंदोलनरत किसानों की महापंचायत को कॉमरेड वृंदा करात ने किया संबोधित
श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में नया दावा, आगरा के लाल किले में दबा है मंदिर का विग्रह
विधायक तेजपाल नागर ने गुरुकुल में किया योग
निकाय चुनावों के जरिए उत्तर प्रदेश में आप करेगी एंट्री
ग्रेनो वेस्ट से 35 वर्षीय युवक लापता, परिजनों ने सूचना देने की अपील की
World Dairy Summit 2022: भारत डेयरी सेक्टर के कारण पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभावों को कम करने के वि...
महिला डॉक्टर ने सिर में गोली मारकर की ख़ुदकुशी, सुसाइड नोट में  शरीर के अंग दान कर देने कि बात कही
ग्रेटर नोएडा ईटा 1 सेक्टर में भव्य दुर्गा पूजा का आयोजन, भक्तों की उमड़ी भीड़
ईपीसीएच में ई-वोटिंग प्रक्रिया का निलंबन
कितनी पीढ़ियों तक जारी रहेगा कोटा? सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- 50% की सीमा नहीं रहने पर समानता का क्या मत...
जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने किया सिकंदराबाद क्षेत्र के गांवों का दौर...
विधायक के निर्देश पर प्राधिकरण अधिकारियों का चार गांवो में दौरा