डीएम मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में जिला वृक्षारोपण समिति की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न

Grenonews:उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की मंशा के अनुरूप जनपद में निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष शत् प्रतिशत वृक्षारोपण कराने के उद्देश्य से आज डीएम मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला वृक्षारोपण समिति की महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वृक्षारोपण कार्यक्रम माननीय मुख्यमंत्री जी के हृदय से जुड़ा हुआ कार्यक्रम है, इसलिए सभी अधिकारियों का दायित्व और अधिक बढ़ जाता है कि वृक्षारोपण के लिए शासन के द्वारा जो जनपद के लिए आगामी 15 अगस्त के लिए 1.95 लाख पौधे लगाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, उसी के सापेक्ष अपनी कार्य योजना बनाते हुए संबंधित विभाग अपनी अपनी तैयारी को अंतिम रूप प्रदान करें, ताकि माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप जनपद में वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाते हुए माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशा को मूर्त रूप प्रदान किया जा सके। इस महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने लक्ष्य आवंटित किए गए विभागों की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि सभी विभागों के द्वारा अभियान चलाकर निर्धारित किए गए लक्ष्य के अनुरूप वृक्षारोपण के लिए स्थलों का चिन्हांकन करते हुए पौधों के लिए गड्ढा खोदने की कार्रवाई समय रहते सुनिश्चित कर ली जाए एवं सभी विभागों के द्वारा निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष पौधों की डिमांड वन विभाग को उपलब्ध करा दी जाए। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा 22 जुलाई को सम्पन्न वृक्षारोपण कार्यक्रम की जियो टैगिंग की प्रगति की समीक्षा की गई। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुये सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि लक्ष्य के सापेक्ष जियो टैगिंग का कार्य ससमय सम्पन्न कराने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। उन्होंने माध्यमिक एवं बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उनके द्वारा भी विद्यालय परिसरों में भी वृहद स्तर पर वृक्षारोपण कराते हुए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कराए जाएं। बैठक की अध्यक्षता करते हुये उन्होने कहा कि ‘‘मेरी माटी-मेरा देश’’ कार्यक्रम के तहत सभी आवश्यक तैयारियां समय से कर ली जाये। वसुधा वंदन कार्यक्रम के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में 75 स्थानीय प्रजाति के वृक्ष लगाने का कार्यक्रम है। यह वसुधा वंदन कार्यक्रम उस ग्राम पंचायत में स्थित अमृत सरोवर के आस-पास आयोजित किया जाये। यदि अमृत सरोवर उपलब्ध न हो तो ऐसी स्थिति में किसी भी जलाशय के स्थान पर वृक्षारोपण किया जा सकता है। अमृत सरोवर या जल निकायों के अतिरिक्त जैसे पंचायत भवन, स्कूल, खेल मैदान आदि के अलावा किसी अन्य स्थान पर अमृत वाटिका लगाया जा सकता है। इस कार्यक्रम में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये। संबंधित विभागीय अधिकारियों के द्वारा कार्ययोजना की मॉनिटरिंग की जाये, जिससे इस अभियान को सफल बनाया जा सके। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी जनार्दन सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 सुनील शर्मा, डिप्टी कलेक्टर उमेश चंद निगम, प्रभागीय वन अधिकारी प्रमोद कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी कुंवर सिंह, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी शिवराज, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ऐश्वर्या लक्ष्मी व अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।

यह भी देखे:-

पहल : बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में दर्ज हुआ गाजियाबाद नगर निगम, ग्रीन बॉन्ड जारी करने की तैयारी
राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने के लिए मुख्य न्यायाधीश ने ली बैठक 
आबकारी विभाग ने की छापेमारी
सैलरी लेने वाले शहीद नहीं... माओवादी हमले को लेकर आपत्तिजनक कॉमेंट पर लेखिका गिरफ्तार
जहांगीरपुर: भाजपाइयो ने जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया सूखा राशन और मास्क
आत्मनिर्भर नारी शक्ति : PM मोदी आज करेंगे कृषि सखी चंपा सिंह से बात
फर्जी आईडी बनाने वाले 3 शातिर गिरफ्तार
पुलिस कमिश्नर कार्यालय, पुलिस लाइन एवं जनपद के अन्य पुलिस कार्यालयों में गांधी जयंती कार्यक्रम का आय...
किसान पंचायत के बाद मुजफ्फरनगर से ग्राउंड रिपोर्ट: जाटों में सरकार से नाराजगी है, पर इतनी नहीं कि दू...
आनलाइन काॅल गर्ल सप्लाई करने वाले रैकेट का पर्दाफाश, दो गिरफ्तार   
दनकौर रेलवे स्टेशन पर किसानों का रेल रोको आंदोलन को लेकर पुलिस प्रशासन अलर्ट
CMAI के नॉर्थ इंडिया गारमेंट फेयर 2023 में 500 करोड़ रुपये का हुआ कारोबार, उत्तर भारत में एमएसएमई अप...
ग्रेटर नोएडा : पुलिस लाइन में स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम का शुभारम्भ
पुलिस ने किया पीछा तो बदमाश ने घर की छत पर चढक़र खुद को मारी तीन गोली, वीडियो वायरल
कल का पंचांग , 12 नवम्बर 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
75 हजार से अधिक लोगों ने कराया यमुना प्राधिकरण के आवासीय भूखंड योजना में पंजीकरण