सीएम योगी ने तीनों प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ की बैठक, जन कल्याणकारी योजनाओं को जनता तक पहुंचाने के लिए निर्देश, यूपीएससी के सफल अभ्यर्थियों को किया सम्मानित

-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गौतमबुद्ध नगर भ्रमण के दौरान यूपीएससी परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को किया सम्मानित

-मुख्यमंत्री ने गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के सभागार में जनपद के तीनों प्राधिकरणों के अधिकारियों के साथ की बैठक।

-प्राधिकरण के माध्यम से संचालित परियोजनाओं को निर्धारित समय अवधि में गुणवत्ता के साथ करें पूर्ण

-प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों का आम जनमानस को पहुंचाएं भरपूर लाभ: मुख्यमंत्री

25 जून 2023 गौतम बुद्ध नगर। आपातकाल की 48 वीं बरसी पर उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी आज गौतम बुद्ध नगर के एक दिवसीय भ्रमण के दौरान नोएडा स्टेडियम सेक्टर 21A नोएडा में विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के उपरांत ग्रेटर नोएडा की गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय पहुंचे जहां पर उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को सम्मानित किया, जिसमें यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाली इशिता किशोर एवं तीन अन्य अभ्यर्थी शामिल रहे। यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को सम्मानित करने के उपरांत माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के सभागार में जनपद की तीनों प्राधिकरणों के अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की गई। माननीय मुख्यमंत्री जी ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्राधिकरण एवं अन्य संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद गौतम बुध नगर उत्तर प्रदेश का शो विंडो कहां जाने वाला जनपद है एवं औद्योगिक दृष्टि से भी बहुत ही महत्वपूर्ण जनपद की श्रेणी में आता है। इसलिए अधिकारियों का दायित्व और अधिक बढ़ जाता है कि उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जो भी जन कल्याणकारी कार्यक्रम एवं योजनाएं आम जनमानस के कल्याणार्थ संचालित की जा रही हैं, उनका लाभ आम जनमानस तक पहुंचाने में अधिकारियों के माध्यम से कोई भी कोर कसर बाकी न रहे। मा0 मुख्यमंत्री जी ने प्राधिकरण के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि आज जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है अधिकारीगण उन सभी परियोजनाओं को निर्धारित समय अवधि में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने की कार्रवाई सुनिश्चित करें, ताकि आम जनमानस को उन सभी परियोजनाओं का भरपूर लाभ निर्धारित समय अवधि में प्राप्त हो सके। इस अवसर पर प्राधिकरण के अधिकारियों ने माननीय मुख्यमंत्री जी को प्राधिकरण के माध्यम से संचालित की जा रही परियोजनाओं एवं अन्य कार्यक्रमों के विषय में बहुत ही विस्तारपूर्वक रूप से अवगत कराया और उनको आश्वस्त किया कि आज जो भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं उनका अधिकारियों के माध्यम से पालन सुनिश्चित कराते हुए, आम जनमानस तक उनका लाभ पहुंचाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। इस महत्वपूर्ण बैठक में माननीय मंत्री औद्योगिक विकास उत्तर प्रदेश सरकार नंद गोपाल गुप्ता ‘नंदी’, माननीय राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग बृजेश सिंह, माननीय राज्यमंत्री औद्योगिक विकास उत्तर प्रदेश सरकार जसवंत सिंह सैनी, जनपद की तीनों प्राधिकरणों, मंडल एवं जिला स्तरीय अधिकारी गण तथा पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी गण उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

यमुनाएक्सप्रेस वे के सर्विस रोड के नाली सीवर में गिरी कार, दो छात्र की दर्दनाक मौत, 1 नाजुक
क्षेत्रीय सासंद द्वारा कौशल विकास केन्द्र का कैम्प आयोजित करने की माँग
Kashmir में आतंकवाद पर अंतिम प्रहार, आतंरिक सुरक्षा के लिए 14 साल बाद BSF की वापसी
Auto Expo 2023: अशोक लेलैंड वाणिज्यिक वाहन क्षेत्र में अत्याधुनिक तकनीकों को पेश करने में हमेशा अग्र...
भारत का बदला रुख, तालिबान के साथ रिश्तों पर पुनर्विचार संभव, जानें क्‍या होगी रणनीति
राष्ट्रीय लोक अदालत में 476896 वादों का हुआ निस्तारण- जिला जज
डीएम मनीष कुमार वर्मा ने  विकास भवन परिसर का किया औचक निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा निर्देश 
दीपों के उत्सव पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, PM मोदी ने दी शुभकामनाएं
कांग्रेस की जड़ों में खामियां- पीके , लखीमपुर के बाद वापसी बड़ी गलतफहमी
योगी राज में दुरुस्त हुआ यूपी का स्वास्थ्य
जुमे की नमाज से पहले पुलिस ने निकाला फ्लैग मार्च, किया मॉक ड्रिल
रश्मि चौधरी बनी किसान मज़दूर संघर्ष मोर्चा की महिला प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय अध्यक्ष
डीएम मनीष कुमार वर्मा के नेतृत्व में जनपद की तीनों तहसीलों में संपूर्ण समाधान दिवस हुआ संपन्न
यूपी में ओवैसी: सपा-बसपा और कांग्रेस को घेरा, कहा-मुस्लिम का वोट लेते हैं और बच्चों को जेल में सड़ात...
सीईओ ग्रेनो प्राधिकरण ने जी-20 के कार्यों के लिए 30 जून तक टेंडर फाइनल करने का दिया लक्ष्य
शीत लहर/ठंड के समय "क्या करें व क्या ना करें" को लेकर जिला प्रशासन की ओर से एडवाइजरी की गई जारी।