जी.बी.यू. में बुद्ध पूर्णिमा समारोह सम्पन्न

गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय ग्रेटर नोएडा में स्थित महात्मा ज्योतिबा फूले ध्यान केन्द्र में 5 मई 2023 को बुद्ध पूर्णिमा का अयोजन किया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत जी.बी.यू. के माननीय कुलपति प्रो. आर. के. सिन्हा ने बुद्धमूर्ति के समक्ष प्रदीप प्रज्ज्वलन एवं पुष्पार्पण के साथ की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय कुलपति प्रो. सिन्हा ने बुद्ध पूर्णिमा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संसार के इतिहास में गौतम बुद्ध ही एकमात्र ऐतिहासिक व्यक्ति हैं, जिनके जीवन की तीन महत्वपूर्ण घटनाएँ वैशाख पूर्णिमा के दिन घटित हुई। सिद्धार्थ गौतम का जन्म होना, बोधिसत्व गौतम को सम्यक् सम्बोधि की प्राप्ति होना एवं गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण होना – ये तीनों महत्वपूर्ण घटनाएँ वैशाख पूर्णिमा के दिन ही घटित हुई थी, जिसके कारण ही इसे बौद्ध जगत् में त्रिविध पावनी बुद्ध पूर्णिमा के रूप में जाना जाता है। यह पर्व मैत्री एवं करुणा का सन्देश देता है तथा गौतम बुद्ध द्वारा देशित धम्म के सम्यक् अनुशीलन से ही समाज में सुख एवं शान्ति की स्थापना की जा सकती है। उनकी शिक्षाओं के पालन के
द्वारा ही सामाजिक सौहार्द को स्थापति किया जा सकता है।

बौद्ध अध्ययन एवं सभ्यता संकाय के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. ज्ञानादित्य शाक्य ने गौतम बुद्ध के महापरिनिर्वाण एवं अन्तिम वचन पर विस्तार से प्रकाश डाला तथा सुखी मानव जीवन के लिए अप्रमाद के पालन को नितान्त
आवश्यक बताया।

कार्यक्रम के आयोजक एवं बोधि ध्यान साधना के समन्वयक डॉ. मनीष मेश्राम ने स्वागत भाषण दिया तथा उपस्थित जनसमूह को बुद्ध पूर्णिमा समारोह की रूपरेखा से अवगत कराया। इसके साथ ही, बौद्ध अध्ययन एवं सभ्यता संकाय के
असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. मेश्राम ने इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को बुद्धानुस्सति ध्यान भावना का अभ्यास भी करवाया।

कार्यक्रम की विधिवत् शुरुआत बुद्ध वन्दना से हुई, जिसमें भारतीय बौद्ध श्रद्धालुओं तथा बौद्ध अध्ययन एवं सभ्यता संकाय में अध्ययनरत् विदेशी बौद्ध भिक्षु एवं भिक्षुणियों ने भाग लिया।

बौद्ध अध्ययन एवं सभ्यता संकाय के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. चिंतल वेंकट सिवसाई ने धन्यवाद ज्ञापन दिया तथा जीबीयू में अध्ययनरत् छात्रा डोली ने इस कार्यक्रम का सफल संचालन किया।

इस कार्यक्रम में डॉ. पंकजदीप, डॉ. चन्द्रभानु भरास, डॉ. कमालिका बनर्जी, स्वपनिल तिवारी, डॉ. दिनेश कुमार शर्मा, श्री विक्रम सिंह यादव, डॉ. सुभोजित बनर्जी, डॉ. विमलेश कुमार, श्री कन्हीया, श्री अजय सहित लगभग 120 गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया, जिसमें विश्वविद्यालय के सदस्य, कर्मचारी, छात्र-छात्रों के साथ कासना गाँव से आये कई बौद्ध अनुयायियों
ने भी भाग लिया।

यह भी देखे:-

पितृ पक्ष श्राद्ध की तिथि एवं जानिए ,  घर में प्रेत या पितृ दोष होने के लक्षण और उपाय
ओएसिस वेनेशिया हाइट्स में होगा नवरात्रि 2022 महोत्सव , महिलाओं ने लिया संकल्प
पाम ग्रीन्स सोसायटी में धूमधाम से मनाया गया
कल का पंचांग, 31 अक्टूबर , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहुर्त
कल का पंचांग, 29 मार्च 2023, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
श्री बाला जी मानव सेवा समिति द्वारा अरणी मंथन 21 कुण्डीय महायज्ञ सम्पन्न
उद्यमियों ने निकाली प्रभु श्री राम की शोभा यात्रा
हर्ष उल्लास के साथ ग्रेटर नोएडा में गणेशोत्सव की शुरुआत
Brahmakumaris organized Shivratri Celebrations
कल का पंचांग, 11 जुलाई 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
सावन के पहले सोमवार को शिवालय में उमड़ी भक्तों की भीड़ , हर हर महादेव के लगे जयकारे
अग्रवाल समाज ग्रेटर नोएडा ने धूमधाम से मनाया गोवर्धन पूजा महोत्सव
श्री दाऊजी मंदिर पर प्रिंस भारद्वाज  द्वारा 251 दीपक  जलाए गए 
श्रीराम मित्र मंडल नोएडा रामलीला समिति द्वारा सेक्टर 62 के रामलीला मैदान में श्रीरामलीला महोत्सव 202...
कल का पंचांग, 28 फरवरी 2024, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग, 22 सितम्बर 2020 , जानिए शुभ एवं  अशुभ मुहूर्त