विश्व सड़क सम्मेलन 14 नवंबर से इंडिया एक्सपो मार्ट में , सुरक्षित सड़क व मोबिलिटी पर होगी चर्चा

ग्रेटर नोएडा: पहली बार 14 से 17 नवम्बर तक इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड, ग्रेटर नोएडा में आयोजित होने वाले चार दिवसीय 18वें विश्व सड़क सम्मेलन (डब्ल्यूआरएम) जिसका शीर्षक है क्रॉसरोड-डब्ल्यूआरएम 2017, में दुनियाभर के देशों में सड़क परिवहन और मोबिलिटी सेक्टर में सक्रिय 1000 ग्लोबल रोड सेफ्टी एक्सपर्ट, प्रोफेशनल्स, कंपनियां, सरकारी संगठन भाग लेंगे।

दुनिया के 86 देशों तथा 6 महाद्वीपों में सुरक्षित सड़क और सुरक्षित मोबिलिटी को बढ़ावा देने के काम में लगी जेनेवा स्थित इंटरनेशनल रोड फेडरेशन (आईआरएफ) द्वारा आयोजित इस चार दिवसीय सड़क सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी करेंगे। डब्ल्यूआरएम 2017 सुरक्षित सड़क और स्मार्ट मोबिलिटीः आर्थिक विकास के इंजन के थीम पर फोकस करेगा।

डब्ल्यूआरएम 2017 में भाग लेने वाले अन्य प्रमुख लोगों में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री मनसुख एल मांडवीय, सुश्री एनी बर्नर, परिवहन मंत्री, फिनलैंड, मार्क गारनेयू, परिवहन मंत्री, कनाडा, श्री डिटरीह एवगनी इवानोविच, फर्स्ट डिप्टी मिनिस्टर ऑफ ट्रांसपोर्ट ऑफ रशियन फेडरेशन, श्री थॉमस चांडी, परिवहन मंत्री, केरल, श्री आर.एम. धावलिकर, लोनिवि तथा परिवहन मंत्री, गोवा, श्री यूनूस खान, लोनिवि तथा परिवहन मंत्री, राजस्थान सरकार, श्री जीन टॉट, प्रेसीडेंट, एफआईए (फेडरेशन इंटरनेशनल ऑटोमोबाइल) तथा यूएन सेक्रेटरी जनरल के सड़क सुरक्षा के विशेष प्रतिनिधि, जेनेवा, स्विट्जरलैंड, आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर जी, अमिताभ कांत, सीईओ, नीति आयोग तथा श्री आरसी भार्गव, नॉन एग्जीक्यूटिव चेयरमैन, मारुति सुजुकी लिमिटेड शामिल होंगे।

डब्ल्यूआरएम 2017 के कर्टेन रेजर के रूप में 13 नवम्बर 2017 को नई दिल्ली में सड़क सुरक्षा पर एक परिवहन मंत्री फोरम की बैठक का आयोजन किया जा रहा है और इसका उद्घाटन केंद्रीय सokLFk; मंत्री श्री ts ih ukMk करेंगे। इसमें विभिन्न देशों के मंत्री जिनमें बोस्निया हरजेगोविना, बुरुंडी, कनाडा, फिनलैंड, लेसोटो, लग्जमबर्ग और रशिया के साथ एफआईए प्रेसीडेंट जीन टॉट तथा अर्जेंटीना के परिवहन मंत्री के विशेष प्रतिनिधि श्री जेवियर इगुआसेल, डायरेक्टर जनरल, रोड ट्रांसपोर्ट भी भाग लेंगे। राजस्थान, गोवा, केरल, दिल्ली के राज्य परिवहन मंत्री भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। बैठक के बाद चर्चा पर आधारित 2040 तक सड़क पर मौतों की समाप्ति नामक संयुक्त घोषणापत्र भी जारी किया जाएगा।

के के कपिला, चेयरमैन, इंटरनेशनल रोड फेडरेशन (आईआरएफ) ने कहा कि इंटरनेशनल रोड फेडरेशन (आईआरएफ) का क्रॉसरोड्स-डब्ल्यूआरएम इस क्षेत्र के अग्रणी लोगों, व्यवसायियों तथा संगठनों के बीच आइडिया के विस्तार को बढ़ावा देने का वैश्विक मंच है साथ ही हरेक के लिए मोबिलिटी को वास्तविक धरातल पर लाने हाईटेक कंपनियों, क्षेत्र के अग्रणी विशेषज्ञों तथा सरकारों को आपस में जोड़ने का काम करता है। डब्ल्यूआरएम में एक कांफ्रेंस तथा एक प्रदर्शनी, एक युवा प्रोफेशनल लैब तथा इनोवेशन कैफे शामिल होंगे तथा यहां दुनियाभर में मौजूद सर्वश्रेष्ठ रिसर्च, बेहतरीन प्रैक्टिसिज तथा अनुभवों को साझा करने का मौका मिलेगा और इसका उद्देश्य सड़क, परिवहन तथा मोबिलिटी सेक्टर के सामने मौजूद महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा के लिए एक प्रमुख ज्ञानदायक कार्यक्रम का मंच उपलब्ध कराना है।

सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार ने डब्ल्यूआरएम 2017 को अपना समर्थन जारी किया है। मंत्रालय वर्ष 2020 तक देश में सड़क पर होने वाली मौतों को 50 फीसदी तक घटाने के लक्ष्य को हासिल करने के लिए सड़क सुरक्षा के लिए यूएन के डिकेड ऑफ एक्शन का हस्ताक्षरी होने के नाते इसके लिए वचनबद्ध है। सम्मेलन में बढ़ते वाहनों का ट्रैफिक प्रबंधन, प्रदूषण तथा सुरक्षा संबंधी मुद्दों के लिए समुचित हल खोजने के अलावा सेफ रोड मोबिलिटी पर भी चर्चा होगी जिसके लिए एक पूर्ण अधिवेशन होगा जिसमें उच्चस्तरीय संबोधन, 44 टेक्निकल सेशन, काफी बड़ी संख्या में विशेष सत्र, युवा प्रोफेशनल सेशन भी होंगे जिनमें 10 थीम्स पर तैयार काफी सारे विषयों पर चर्चा की जाएगी। डब्ल्यूआरएम 2017 के तहत 16 नवम्बर 2017 को कारपोरेट्स द्वारा फास्ट ट्रैक रोड सेफ्टी पर एक विशेष सत्र का आयोजन होगा जिसमें भारत के कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के चैम्बर्स के अध्यक्ष प्रमुखता से भाग लेंगे।

के के कपिला ने कहा कि डब्ल्यूआरएम 2017 की प्रमुख बातों में एक विशेष प्रदर्शनी भी शामिल होगी जिसमें सड़क सुरक्षा और ट्रैफिक नियमों पर विश्वस्तरीय तकनीकों को दिखाया जाएगा इसमें कंट्रोल सिस्टम, कम्यूनिकेशन तथा नेविगेशन डिवाइस, ड्राइवर ट्रेनिंग सिस्टम, इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टेम (आईटीएस), बैरियर्स, व्हीकल डिटेक्शन, स्पीड कैमरा, लाइसेंस प्लेट रिकगनिशन, व्हीकल क्लासिफिकेशन, फाइबर ऑप्टिक्स, रोड साइन्स, हाइवे इंफ्रास्ट्रक्चर, आधुनिक पार्किंग तकनीक, रोड बिल्डिंग, सड़क निर्माण तथा उपकरण, स्ट्रीट लाइटिंग, पार्किंग, पे एंड डिसप्ले, ट्रैफिक मैनेजमेंट, डिसप्ले सिस्टम, ट्रेफिक मॉनिटरिंग तथा ट्रेफिक कंट्रोल सिग्नलिंग शामिल होंगे।

इस कार्यक्रम के कुछ बड़े प्रायोजक तथा एग्जीबिटर्स में शामिल हैं मिशलिन, 3एम, स्वारको, सदभाव, केएमसी, गैमॉन, जेडएफ इंटरनेशनल, मारुति सुजुकी, दिनेश चंद्र अग्रवाल इंफ्राकॉन लिमिटेड, रोड ऑस्ट्रेलिया, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम, जेके सीमेंट, आईएलएंडएफएस ट्रांसपोर्टेशन, मैक्काफेरी, अबुधाबी रोड कांग्रेस, एलएंडटी तथा एफकॉन्स।
इस कार्यक्रम को सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्रालय, नीति आयोग तथा सभी नेशनल कॉमर्स चैम्बर्स तथा काफी सारे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठनों का समर्थन प्राप्त है।

यह भी देखे:-

भारत ने रचा इतिहास ,चौथी बार जीता ICC UNDER-19 WORLD CUP का ख़िताब
सुन्दर भाटी गैंग के गुर्गे के खिलाफ रासुका , दस के खिलाफ गैंगस्टर
अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के कयास तेज
फ्लैट से शादी का सामान ले उड़े चोर
DUSU ELECTION 2019: नोएडा, ग्रेटर नोएडा के सैकड़ों कार्यकर्ता करेंगे प्रचार-प्रसार
बुद्ध पूर्णिमा पर महात्मा बुद्ध के उपदेश को अपनाने का दिया संदेश
Ryanites shines in 2nd National Games National Badminton Award 18
अन्ना सत्याग्रह में शामिल होने सैकड़ों कार्यकार्ता दिल्ली रवाना
पुलिस से घिरता देख कुख्यात ने खुद को गोली से उड़ाया
AUTO EXPO 2018 : यामहा ने YZ R-15 की लांचिंग की
जीएनआईटी (आई.पी.यू. ) में ‘’इन्फिनिटी #2K18’’ की धूम
ग्रेटर नोएडा में रेस्टोरेंट में लगी आग
बढ़ती जनसंख्या को लेकर उलटी पदयात्रा की
क्राइम शो के एंकर को कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा
ग्रेटर नोएडा :एडब्लूएचओ सोसाइटी में धूम-धाम से मना गरबा नवरात्री डांडिया उत्सव
वकील से मारपीट का मामला , सात पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज