100% इको इंडिया ने डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के लिए क्षमता निर्माण कार्यक्रम चलाने के लिए गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (जीआईएमएस), उत्तर प्रदेश के साथ की साझेदारी

नई दिल्ली/नोएडा : उत्तर प्रदेश राज्य में स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने की दिशा में अपनी पहल के तहत, इको इंडिया ने डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के लिए क्षमता निर्माण कार्यक्रम चलाने हेतु गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज (जीआईएमएस) के साथ साझेदारी की है। ग्रेटर नोएडा में स्थित GIMS एक एकीकृत चिकित्सा पाठ्यक्रम के माध्यम से समाज के सभी वर्गों को सामर्थ्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के मिशन पर काम कर रहा है। संस्थान लखनऊ में किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी से सम्बंधित है।

GIMS के निर्देशक डॉ (ब्रिगेडियर) राकेश गुप्ता और इको इंडिया के एसोसिएट वाइस प्रेसिडेंट डॉ संदीप भल्ला ने एक सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। सहमति ज्ञापन विशेष रूप से कम संसाधनों वाली आबादी के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच और वितरण के उद्देश्य से विभिन्न क्षमता निर्माण कार्यक्रमों के माध्यम से स्वास्थ्य प्रणालियों को निरंतर मजबूत करने का मार्ग प्रशस्त करता है।

साझेदारी हस्ताक्षर समारोह में शामिल डॉ (ब्रिगेडियर) राकेश गुप्ता ने कहा, “हम इस महत्वपूर्ण पहल का स्वागत करते हैं जो GIMS और इको इंडिया के बीच संबंधों को औपचारिक और मजबूत करती है। मेरा मानना है कि क्षमता निर्माण के इको के ‘ऑल टीच ऑल लर्न मॉडल का उपयोग करके, हम नवोदित चिकित्सा पेशेवरों को खुद को उन्नत करने और उपचार प्रोटोकॉल और चिकित्सा ज्ञान में हाल के विकास के बारे में अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए सशक्त बना सकते हैं।

डॉ. (ब्रिगेडियर) राकेश गुप्ता, जो नौएडा, उत्तर प्रदेश में पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ (PGICH) के निदेशक भी हैं, उन्होंने विशेष रूप से बीटा थैलेसीमिया के प्रबंधन के क्षेत्र में बाल स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में PGICH के साथ इको इंडिया के सहयोग की सराहना की। PGICH नोएडा भी इको इंडिया का एक हस्ताक्षरित भागीदार है। इको इंडिया ने PGICH परिसर में एक टेली-भेंटरिंग हब स्थापित किया है। हब का उपयोग बीटा थैलेसीमिया के क्षेत्र में काम करने वाले स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए विशिष्ट मॅटरशिप कार्यक्रम प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

GIMS के साथ साझेदारी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए, इको इंडिया के एसोसिएट वाइस प्रेसिडेंट, डॉ. संदीप भल्ला ने कहा, “मुझे खुशी है कि हम GIMS के साथ इस समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर रहे है। GIMS एक ऐसी संस्था है जो उत्कृष्ट चिकित्सा शिक्षा, बहु विषयक अनुसंधान और अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने में सबसे आगे रही है। हम हेल्थकेयर सिस्टम को मजबूत करने और नर्सों सहित डॉक्टरों और हेल्थकेयर पेशेवरों के सभी कैडर की क्षमता बनाने के लिए मिलकर काम करने की उम्मीद करते हैं।”

यह भी देखे:-

जिम्स (GIMS ) में"नैतिकता संगोष्ठी" श्रृंखला  की वर्षगांठ , "चिकित्सा शिक्षा में नैतिकता" पर सेमिनार...
ऑनलाइन ऐप से क्रिकेट पर सट्टा लगाने वाले गैंग का पर्दाफाश, 3 सट्टेबाज़ गिरफ्तार, कब्जे से 26 एटीएम का...
मधुमेह जांच शिविर में 150 से ज्यादा लोगों का सफल परीक्षण
आतंकवाद विरोधी मोर्चा द्वारा चिकित्सा कैंप का आयोजन
रक्तदान महादान : रोटरी क्लब ग्रेटर नोएडा ने लगाया रक्तदान शिविर
कैलाश  दीपक अस्पताल का शुभारम्भ, अत्याधुनिक सुपर  मल्टीस्पेशियलिटी विश्वस्तरीय सुविधाओं से होगा सुसज...
कोरोना वायरस : 24 घंटों में कोरोना वायरस के 33,376 नए मामले , 308 लोगों की कोरोना से मौत
आने वाले तीन महीने हो सकते हैं खतरनाक, त्यौहारों के मौसम में कहर बरपा सकता है डेल्टा वैरिएंट
CORONA UPDATE : जानिए गौतमबुद्ध नगर में क्या है हाल
मास्क करेगा कोरोना और प्रदूषण से बचाव और बताएगा बीमारियों का इलाज
पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन करने करने का निर्देश द...
Corona Update: देश समेत गौतमबुद्ध नगर की हर छोटी -बड़ी कोरोना अपडेट से होइए रूबरू, पढ़ें पूरी खबर
CORONA UPDATE : जानिए गौतम बुद्ध नगर का क्या है हाल
CORONA UPDATE : जानिए उत्तर प्रदेश व गौतमबुद्ध नगर में क्या है हाल 
गलगोटिया विश्वविद्यालय में रक्तदान शिविर, छात्रों ने दिखाया उत्साह
#RespectPractitioners:ये डॉक्टर-झोला छाप..