रयान प्रदुम्न मर्डर केस में ट्विस्ट , तो क्या इसलिए की गयी थी प्रद्युम्न की हत्या !

गुरुग्राम: यहाँ रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 2 nd क्लास में पढ़ने वाले छात्र प्रद्युम्न के हत्या की जांच कर रही सीबीआई के नए खुलासे के दावे ने पूरी कहानी में ट्विस्ट ला दिया है। सीबीआई का कहना है कि प्रद्युम्न की हत्या उसी स्कूल के 11वीं के छात्र ने अंजाम दिया है। वो परीक्षा को टालना चाहता था इसलिए उसने प्रद्युम्न की हत्या कर दी। सीबीआई ने इसे यौन शोषण में की गई ह्त्या मानने से इंकार करते हुए एक तरह से कंडक्टर को क्लीन चिट दे दी है। सीबीआई इ खुलासा किया है आरोपी छात्र ने अपने दोस्तों से कहा था कि वो लोग परीक्षा की चिंता न करें क्योंकि वह टलने वाली है। जांच एजेंसी ने भले ही इस मामले का खुलासा करने का दावा किया है लेकिन उसकी थ्योरी अभी गले नहीं उतर रही है और कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं।

सीबीआई के दावों पर ये हैं सवाल

1- सीसीटीवी फुटेज में इस आरोपी छात्र के साथ ही गिरफ्तार कंडक्टर अशोक और पांच लोग भी दिख रहे हैं , लेकिन अशोक उस समय मौके पर कैसे और क्यों पहुंचा था इस पर सीबीआई ने जवाब नहीं दिया है।

2- गुड़गांव पुलिस की माने तो इस मामले में गिरफ्तार बस कंडक्‍टर अशोक ने हत्‍या का कन्फेशन किया था। पुलिसके मुताबिक , अशोक ने बताया है कि उसने बच्‍चे के साथ यौन सम्बन्ध बनाने की कोशिश की थी और इसका विरोध करने पर उसने बच्‍चे की हत्‍या कर दी थी।

3- पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह कहा गया है कि बच्चे के गली की एक नस काटी गई है जिससे वह बोल या चीख नहीं पाया। बताया जा रहा है कि इस नस की वजह से मनुष्य बोलते हैं। सवाल इस बात का है क्या 11वीं छात्र किसी पेशेवर अपराधी की तरह इस हत्याकांड को अंजाम दे सकता है।

4- अशोक ने हरियाणा पुलिस के सामने शुरू में क्यों जुर्म कबूला था इस पर भी सीबीआई कुछ भी स्पष्ट रूप से बता नहीं पाई।

5- सीसीटीवी फुटेज में बाकी लोग कौन थे इस पर भी कुछ नहीं बताया गया है.

क्या था पूरा मामला

बता दें क्लास -2 का छात्र प्रद्युमन ठाकुर आठ सितम्बर को स्कूल के शौचालय में लहूलुहान हालत में मृत मिला था। इस मामले में स्कूल के बस के कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया गया था। बच्चे की हत्या को लेकर पूरे देश में रोष फैल गया था और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ आरोप भी लगे थे। हरियाणा सरकार ने इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश की थी और जांच एजेंसी ने 22 सितम्बर को इस मामले को अपने हाथों में लिया था।

यह भी देखे:-

घाटी में अतिरिक्त सुरक्षाबल पर कश्मीर के नेताओं ने जताई चिंता
COVID-19:भारत को करीब 22 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद देगा अमेरिका
RBI गवर्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, जानिए आपके काम की बड़ी बातें
ट्रिपल तलाक़ पर ऐतिहासिक बिल लोकसभा में पारित, सारे संशोधन हुए खारिज
DUSU 2019: ABVP ने अध्यक्ष-उपाध्यक्ष समेत 3 पदों पर लहराया परचम
स्कूल ऑफ बुद्धिस्ट स्टडीज एंड सिविलाइजेशन के संकाय सदस्यों का वियतनाम दौरा
26 वर्षीय विवेक पाटिल ने 6 दिन में ऐसे जमा किए 6 करोड़ रुपये, शहीदों के परिवार को करेगा Donate
कोरोना से भारत में पहली मौत की खबर, डरो नहीं , जयपुर में एक मरीज ठीक होने का दावा, मिल गया ठीक होने ...
ममता बनर्जी ने मांगे पाक के ख़िलाफ़ सेना की #AirStrike के सबूत
"संकल्प से सिद्धि" होगा राष्ट्रीय युवा उत्सव का उद्धेश्य
Women's Day: जानिए क्यों मनाया जाता है महिला दिवस?
सुषमा स्वराज की यादें:अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से शुरू हुआ 1970 में राजनीतिक सफर
बवेरियन संसद में संदीप मारवाह सम्मानित
लालू प्रसाद यादव अब जेल में खिलाएंगे फूल
साध्वी रेप केस मामले में डेरा सच्चा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दस साल की जेल
मोकामा शेल्टर होम: "लड़कियां भागी नहीं है बल्कि उन्हें भगाया गया है" -आरजेडी नेता