YAMUNA EXPRESSWAY पर पेड़ काटने के मामले में हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

ग्रेटर नोएडा। यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि को भूमि का आवंटन किया है । इस जमीन पर हरे पेड़ लगे हुए थे। आरोप है इन्हे बिना किसी अनुमति के काट दिया गया।

यह मामला इलाहाबाद पहुँच गया है। आज इस मामले में हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए पतंजलि और यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण से 14 नवंबर तक जवाब दाखिल करने को कहा है। प्राधिकरण ने पतंजलि को जमीन का आवंटन किस तरह से किया और यहां हजारों पेड़ काटने के लिए क्या अनुमति ली गई थी, इस मामले की सुनवाई जस्टिस तरुण अग्रवाल और जस्टिस भनोट की खंडपीठ ने की। इससे पतंजलि और यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। क्योंकि एक ओर पर्यावरण को बचाने के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की कोशिशें जारी है। वहीं, हजारों की संख्या में पेड़ों का कट जाना पर्यावरण संतुलन बिगाड़ सकता है।

यह भी देखे:-

जेवर : काम के एवज में कोई सुविधा शुल्क मांगे तो हमसे सम्पर्क करें : प्रिंस भरद्वाज
UNCCD कॉप-14: ग्रेटर नोएडा में आयोजित 12 दिवसीय कार्यक्रम में 196 देशों के 3 हजार अंतरराष्ट्रीय प्र...
ग्रेटर नोएडा : रामकथा से पहले महिलाओं ने निकाली कलश यात्रा
लोकसभा चुनाव : आचार संहिता के उल्लंघन और अफवाहें फैलाने पर होगी सख्त कार्रवाई
पत्रकार शफी मोहम्मद सैफी को मातृशोक
ट्रेन के बेटिकट यात्रियों के विरुद्ध चला अभियान
धूमधाम से मनाएंगे योगी का जन्मदिन
बच्चा चोरी की अफवाहों से बचने की साईट - 5 थाना पुलिस की अपील
HAPPY NEW YEAR 2018 - BY GRENONEWS TEAM
ग्रेटर नोएडा में फर्जी तरीके से चल रहा था अस्पताल सील , डॉक्टर गिरफ्तार
एसएसपी लव कुमार ने तीन पुलिसकर्मियों को किया निलंबित
फैक्ट्री के गोदाम में आग लगने से मचा हड़कंप
मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार: योगी सरकार में शामिल हुए 23 नए चेहरे
प्रभारी मंत्री ने स्वच्छता रथ को झंडी दिखाकर किया रवाना
ह्यूमन टच फाउंडेशन ने मनाया गणतंत्र दिवस
जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह के प्रयास से सऊदी से भारत पहुंचा इरफ़ान का शव