YAMUNA EXPRESSWAY पर पेड़ काटने के मामले में हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

ग्रेटर नोएडा। यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि को भूमि का आवंटन किया है । इस जमीन पर हरे पेड़ लगे हुए थे। आरोप है इन्हे बिना किसी अनुमति के काट दिया गया।

यह मामला इलाहाबाद पहुँच गया है। आज इस मामले में हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए पतंजलि और यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण से 14 नवंबर तक जवाब दाखिल करने को कहा है। प्राधिकरण ने पतंजलि को जमीन का आवंटन किस तरह से किया और यहां हजारों पेड़ काटने के लिए क्या अनुमति ली गई थी, इस मामले की सुनवाई जस्टिस तरुण अग्रवाल और जस्टिस भनोट की खंडपीठ ने की। इससे पतंजलि और यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। क्योंकि एक ओर पर्यावरण को बचाने के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की कोशिशें जारी है। वहीं, हजारों की संख्या में पेड़ों का कट जाना पर्यावरण संतुलन बिगाड़ सकता है।

यह भी देखे:-

कोई भूखा न रहे का लक्ष्य लेकर आगे आए समाजसेवी भुजंग वाडेकर
गुर्जर सम्राट मिहिर भोज की 1201वीं जयंती पर वाहन रैली का आयोजन
प्रभारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने स्कूल चलो अभियान रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया
सपा ने मोरना गांव में अलाव पर किसानों से किया संवाद 
ग्रेनो सिटिज़न्स को मिलेगा ORGANIC FOODS, BJP VICE PRESIDENT श्याम जाजू ने किया "जीवामृत" स्टोर का ...
दर्दनाक : सड़क हादसे में दम्पति की मौत, मासूम घायल
अब कुपोषित बच्चों के परिवार का बनेगा राशन कार्ड
विस्तृत खबर : बदमाशों ने मकैनिक की गोली मारकर हत्या की
जन विकास मंच ने मनाया योगा दिवस
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के प्रोजेक्ट विभाग में कई कर्मचारियों के तबादले
डंपिंग ग्राउंड के विरोध में धरना स्थल पर किया गया यज्ञ हवन
जेवर एयरपोर्ट की तर्ज पर पारदर्शी तरीके से किसानों को वितरित किया जायेगा मुआवजा : धीरेन्द्र सिंह
दो कारों में टक्कर के बाद लगी भीषण आग
ईस्टर्न पेरीफेरल पर कोहरे का कोहराम, कई गाड़ियां आपस में भीड़ी, 1 की मौत 
सामाजिक कार्यों से रूबरू हुई एनसीसी की छात्राएं 
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा द्वारा फ्री नेत्र जांच कैम्प आयोजित