“मम्मी-पापा मैं आपका अच्छा बेटा नहीं बन पाया ” सुसाइड नोट लिख इंजीनियरिंग के छात्र ने की ख़ुदकुशी

कासना कोतवाली क्षेत्र के सेक्टर बीटा दो में स्थित किराए के मकान में रहने वाले मूलरूप से उडीसा के के इंजीनियरिंग के छात्र का शव सीढियों की ग्रिल से लटका मिला। छात्र ने आत्महत्या करने से पूर्व एक सुसाइड नोट लिखा था जोकि मणिपुरी भाषा में लिखा था। पुलिस ने छात्र के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं।

मणिपुर के शंघाई प्रोइम्फाल वेस्ट निवासी कॉपरेटिव विभाग से रिटायर्ड इंस्पेक्टर बीर मंगोल सिंह का बेटा दिपेंद्र मोनगजम (22 वर्ष) नॉलेज पार्क के एक कॉलेज से बीटेक तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। दिपेंद्र अपने दो साथियों के साथ सेक्टर बीटा दो स्थित एक किराये के मकान नंबर 276 में रहता था। पुलिस ने बताया कि दिवाली की छुट्टियों में दिपेंद्र और उसके दोनों साथी दिल्ली में रहने वाले दोस्तों के पास गए थे। शनिवार को दिपेंद्र दिल्ली से ग्रेटर नोएडा लौट आया। पुलिस को उसके दोस्तों ने बताया कि वह कुछ उदास से लगा रहा था। रविवार को रात को उन्होंने दिपेंद्र को फोन किया था उसने फोन नहीं उठाया । सोमवार को उन्होंने फिर से फोन किया। लेकिन दिपेंद्र का फोन नहीं उठा। शक होने पर उन्होंने ग्रेटर नोएडा में रहने वाले अपने एक दोस्त रोशन को घर भेजा। रोशन सेक्टर बीटा दो स्थित घर पहुंचा तो दिपेंद्र सीढ़ियों की ग्रिल से लटका हुआ था। रोशन ने तुरंत फोन करके अपने दोस्तों और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव को नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इस मामले में दिपेंद्र के एक दोस्त मुनसिबा मुतुम ने कासना कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने दिपेंद्र के पिता को फोन करके घटना के बारे में बताया। पुलिस को दिपेंद्र के पिता ने बताया कि वो शंघाई प्रोइम्फाल वेस्ट से ग्रेटर नोएडा के लिए निकल चुके हैं।

मणिपुरी भाषा में सुसाइड नोट होने से पुलिस ने पढने में साथी छात्र की सहायता ली

कासना कोतवाली पुलिस ने दिपेंद्र के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद किया है। जिसे दिपेंद्र ने मणिपुरी भाषा में लिखा है। पुलिस ने सुसाइट नोट को पढ़ने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस उसे पढ़ नहीं सकी। जिसके बाद पुलिस ने दिपेंद्र के दोस्तों से नोट को पढ़वाया।

कासना कोतवाली के उप निरीक्षक यतेन्द्र सिंह ने बताया कि मणिपुर का रहने वाला छात्र ग्रेटर नोएडा के एक कोलॅज में इंजीनियरिंग की पढाई करता था। सुसाइड नोट में किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई की मांग नही की है अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी थी। परिजनों को सूचित किया गया।

यह भी देखे:-

डॉ. सर्वपल्ली राधा कृष्णन की पुण्यतिथि मनाई
फंदे से लटकी मिली विवाहिता, दहेज़ हत्या का आरोप, जांच में जुटी पुलिस
अनुच्छेद 370 हटाने पर मिशन युवा शक्ति संगठन ने लड्डू बांटा
बिना पंजीकरण कराए पीजी, गेस्ट हॉउस व होटल संचालन करने पर होगी कार्यवाही
ह्यूमन टच फाउंडेशन का सन्देश : होली खेलें सूखे रंगों से, पानी की बरबादी से नहीं
यूएसए में करोड़ों का स्कालरशिप पाने वाली सुदीक्षा भाटी को विधायक तेजपाल नागर ने दी बधाई
उत्तर प्रदेश में पुलिस उपाधीक्षकों के तबादले
गौतमबुद्ध नगर जिले में 11 स्थानों पर 3000 से अधिक स्वयंसेवक करेंगे पथसंचलन
दनकौर पुलिस ने चलाया एंटी रोमियो अभियान
नोएडा पुलिस का आपरेशन क्लीन -19 अभियान, चलाया जा रहा है सघन चेकिंग अभियान
ग्रेटर नोएडा : सीएम योगी आदित्यनाथ को खून से लिखी चिट्ठी सौंपेंगे किसान
एसटीएफ ने एमबीबीएस में दाखिला के नाम पर ठगी का किया पर्दाफ़ाश, दो गिरफ्तार
अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा ने क्रांति के जनक धनसिंह कोतवाल को किया याद
जल्द तय करेंगे रोजगार मुद्दा आन्दोलन की रणनिति : एडवोकेट रविन्द्र भाटी
ग्रेटर नोएडा, 3 नवम्बर को भव्य उत्तराखंडी सांस्कृतिक कार्यक्रम
COVID 19 : गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने बनाया आधुनिक मल्टीपल यूज़ कंट्रोल रूम