आईटीएस में एमबीए विभाग में ओरिएंटेशन प्रोग्राम आयोजित

ओरियंटेशन प्रोग्राम एमबीए बैच 2022- 24 एमबीए विभाग आई टी एस इंजीनियरिंग कॉलेज में 23 नवंबर 2022 को एमबीए 14 वे फ्रेशर बैच 2020-22 के स्वागत के लिए ओरियंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उदघाटन प्रोफ़ेसर सना वकील के स्वागत और ब्रीफिंग के साथ हुआ। इसके बाद आई टी एस इंजीनियरिंग कॉलेज मैं एमबीए के एच ओ डी सचिन सिन्हा ने यूनीक सेलिंग प्रपोजल पर सत्र लिया। उन्होंने 2 साल के कार्यक्रम के बारे में एक विस्तृत प्रस्तुति भी दी और अपने संकाय सहयोगियों का परिचय दिया। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए कालेज के निदेशक डॉक्टर मयंक गर्ग ने संबोधित किया। उन्होंने सबसे पहले छात्रों का स्वागत किया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की उन्होंने छात्रों को आई टी एस एजुकेशन ग्रुप की संस्कृति और उपलब्धियों के बारे में बताया उनकी बहुमूल्य अंतर्दृष्टि और दूरदर्शी शब्दों ने छात्रों को अपने जीवन में सफल होने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बिजनेस, मैनेजमेंट, एंटरप्रेन्योरशिप, इनोवेशन और लीडरशिप के बारे में कई बातें बताई जो एमबीए करने के बाद उन्हें अपने परिवार और समाज और देश के प्रति योगदान देने में मदद कर सकती है। मुख्य अतिथि डॉ श्रुति सिन्हा प्रौद्योगिकी शिक्षक, एलकेएम- बिजनेस इन्नोवेशन एंड हुमन स्किल्स एक्सचेंजर इंडिया, ने “एमबीए स्नातकों के लिए उद्योग की अपेक्षाएं” पर एक अद्भुत सत्र लिया। उन्होंने छात्रों के लिए व्यवहारिकता सीखने के दृष्टिकोण, रचनात्मकता और नवाचार पर ध्यान केंद्रित किया, उन्होंने उद्योग के वर्तमान परिदृश्य पर भी चर्चा की जो कोविड-19 महामारी के कारण पूरी तरह से बदल गया और उसी से मेल खाने के लिए आवश्यक नए कौशल। उन्होंने बहुत ही सूझ-बूझ से विद्यार्थियों के प्रश्नों का उत्तर दिया। बाहरी उद्योग विशेषज्ञ श्री सुनील रैना ने “एमबीए स्नातकों के लिए सफलता का मंत्र” पर एक व्याख्यान दिया। उन्होंने इंडस्ट्री के उदाहरणों के साथ अपने वास्तविक जीवन के अनुभव भी साझा किए। ओरियंटेशन प्रोग्राम का पहला दिन रोमांचक और मस्ती से भरी प्रक्रिया थी जिसमें विभिन्न खेल, अनुभवत्मक अभ्यास, केस साल्विंग सेशन, रोल प्ले आदि शामिल थे। इनमें से अधिकांश छात्रों को एक समूह में भाग लेने के लिए शामिल किया गया, इस प्रकार प्रबंधन पर पहला पाठ लाया गया। अगले दिन आने वाले सत्र के लिए छात्रों को हार्दिक शुभकामनाओं के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। प्रोफेसर सना वकील ने कार्यक्रम के आयोजन में अपना पूरा सहयोग देने के लिए सभी छात्रों और फैकेल्टी को धन्यवाद दिया। कार्यक्रम का समन्वय प्रोफेसर सना वकील और प्रोफेसर प्रतीक द्विवेदी, सहायक प्रोफेसर एमबीए विभाग द्वारा किया गया था।

यह भी देखे:-

ईएमसीटी की ज्ञानशाला में गरीब और मज़दूरों के बच्चों के कौशल की पहचान और सकारात्मक दृष्टिकोण लिए मई स...
शारदा विश्वविद्यालय में मना अंतरष्ट्रीय शिक्षक दिवस
राजेश पायलट शिक्षा समिति ट्रस्ट ने मेधावी छात्रों को किया सम्मानित
जगगन्नाथ इंस्टीट्यूट में विधि क्षेत्र व शोध विकास पर हुई परिचर्चा
हैकथॉन श्रृंखला आयोजित करेगा गलगोटिया यूनिवर्सिटी : ध्रुव गलगोटिया
शारदा विश्वविद्यालय में मनाया गया योग दिवस
गायत्री देवी चैरिटेबल ट्रस्ट के बच्चों ने पर्यावरण को हरा-भरा बनाने की ली शपथ
जी डी गोयनका पब्लिक स्कूल में अभिभावकों के लिए कार्यशाला का आयोजन
शारदा विश्विद्यालय : पत्रकारिता के छात्र रूबरू होंगे मोबाईल जर्नलिज्म तकनिकी से
जीबीयू में ऑनलाइन — वर्ल्ड ऑफ कैरियर सम्मिट
JNU Incident: वामपंथ के नकारात्मक विचारधारा का परिणाम :अनुराग त्यागी
ग्रेटर नोएडा : आईटीएस कॉलेज में मनाई गई अटल जयंती
शारदा विश्वविधालय में 70 वे गणतंत्र दिवस धूम धाम से मनाया गया
ब्रिटिश कोलंबिया कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट - हॉस्पिटैलिटी शिक्षा में एक क्रांति, करेगा भारत में हॉस्पिटैलि...
जिला बाल सुधार केंद्र में प्रतियोगिता का आयोजन
आईआईएमटी कॉलेज समूह में मनाया गया  विश्व पृथ्वी दिवस