पर्यावरणविद की शिकायत पर औचक निरीक्षण , जल प्रदूषण करती दो पकड़ी गई दो फैक्ट्री

ग्रेटर नोएडा : बुलंदशहर के सिकंदराबाद औधोगिक क्षेत्र में कुछ औधोगिक इकाई अधिक कमाई के फेर में लोगो की जिंदगी से खिलवाड़ करती हुई पाई गई है। पर्यावरण कार्यकर्ता रामवीर तँवर लंबे समय से उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से इस बारे में शिकायत कर रहे थे, लेकिन अधिकारी कार्यवाही करने की बजाय उधोगो का बचाव करते हुए नजर आते थे। जिसके बाद पर्यावरण कार्यकर्ताओ ने इस मामले को केंद्र सरकार के समक्ष उठाया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने मामले की गंभीरता को देखते हुए लखनऊ तैनात उच्च अधिकारियों को इस मामले में अपने स्तर से जाँच करने के आदेश जारी कर दिए।

मामला बढ़ता देख बुलंदशहर क्षेत्रीय अधिकारियों ने करीबन आधा दर्जन उधोगो का औचक निरीक्षण किया।
औचक निरीक्षण में शान्ति डाइंग मिल एवम् हौजरी नाम की दो फैक्ट्री प्रदूषित जल को बिना शुद्धिकरत किये खुले में निस्तारित करती हुई पकड़ी गई। दोनों उद्योगों में एसटीपी भी चलता हुआ नही पाया गया।
क्षेत्रीय कार्यलय ने रिपोर्ट बना कर कार्यवाही करने के लिए लखनऊ भेज दी है जंहाँ से दोनों सील भी हो सकती है।

यह भी देखे:-

निष्कासन से नाराज़ ऑटो कंपनी के श्रमिक हड़ताल पर गए
कड़ाके की ठण्ड में छात्र मंगलमय कॉलेज गेट पर बैठने को हुए मजबूर, पढ़ें पूरी खबर
देखें Video, ग्रेटर नोएडा को मिला एमबीबीएस कॉलेज का नायब तोहफा, जानिए क्या होगा खास इस (GIMS) मेडि...
गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में सफाई कर्मचारियों का धरना जारी, वार्ता विफल
क्राउन प्लाजा ग्रेटर नोएडा ने विश्व का पहला होटल वर्चुअल रियलिटी एक्सपीरियंस सेंटर टेक्नोलॉजी लॉन्च...
रजत पदक विजेता निखिल कुमार को करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने किया सम्मानित
दत्त-गौरक्ष पिपुल फाउंडेशन का पारिवारिक मिलन समारोह सम्पन्न
एक्टिव सिटिज़न टीम ने दिया पानी बचाने का संदेश
ठंडी रात में भी ग्रेनो प्राधिकरण पर लगातार अनशन पर बैठे हुए हैं प्रवीण भारतीय, जानिए क्यों
शारदा विश्वविधालय में धूम धाम से मनी हरियाली तीज
ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब की वार्षिक महासभा में बोले भाजपा प्रांतीय संगठन महामंत्री चंद्रशेखर : पत्र...
मकर संक्रांति पर हिंदू युवा वाहिनी ने किया खिचड़ी वितरण
मरम्मत कर रहा बिजली कर्मचारी करंट से झुलसा
दर्दनाक : सड़क हादसे में मां बेटे की मौत
"पद्मावती" फिल्म का राजपूत उत्थान सभा ने किया विरोध, पीएम मोदी को भेजा ज्ञापन
पेड़ स्थान्तरित करने की सलाह देने पर वन विभाग ने दिया चौकाने वाला जवाब - रामवीर तंवर (पर्यावरणविद )