श्रीकांत त्यागी की जमानत याचिका जिला कोर्ट ने की खारिज, अभी जेल में ही रहेगा ‘गालीबाज’ नेता

नोएडा के ओमेक्स सोसाइटी में महिला के साथ बदसलूकी के आरोपी श्रीकांत त्यागी की जमानत अर्जी को सूरजपुर कोर्ट ने खारिज कर दिया है. ‘गालीबाज’ नेता को अभी जेल के अंदर ही रहना पड़ेगा. कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था.

नोएडा के ओमेक्स सोसाइटी में महिला के साथ बदसलूकी के आरोपी श्रीकांत त्यागी की जमानत अर्जी को सूरजपुर कोर्ट ने खारिज कर दिया है. श्रीकांत त्यागी ने महिला से छेड़छाड़ को लेकर दर्ज किए गए एफआईआर में जमानत याचिका दायर की थी. ‘गालीबाज’ नेता को अभी जेल के अंदर ही रहना पड़ेगा. कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था.

इसके अलावा श्रीकांत त्यागी पर दर्ज 420, 419, 482 IPC के केस में सुनवाई 16 अगस्त को होगी. गौरतलब है कि नोएडा पुलिस ने 25 हजार के इनामी ‘गालीबाज’ श्रीकांत त्यागी को मंगलवार को मेरठ से गिरफ्तार किया था. उसी दिन कोर्ट ने सुनवाई करते हुए त्यागी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था.

पुलिस की हिरासत में जाते हुए आरोपी मीडिया के सवालों से बचता रहा. हालांकि उसकी हेकड़ी कम होती नहीं दिखी. श्रीकांत त्यागी को लुक्सर जेल के हाई सिक्योरिटी वार्ड में रखा गया है. श्रीकांत त्यागी जेल की पहली रात के दौरान काफी परेशान दिखा और उसने खाना नहीं खाया, लेकिन दूसरे दिन वह सामान्य था और खाना खा रहा था.

यह भी देखे:-

“लक्ष्य चुनो, एकाग्र हो, श्रम करो, धैर्य धरो, और विजय प्राप्त करो”- श्रीगुरु पवन सिन्‍हा
सरकार ने जताई चिंता: संक्रमण फैलाने का बड़ा आयोजन बन सकता है किसानों का प्रदर्शन, रद्द करने का किया ...
इंडस्ट्री में शोक की लहर, ‘तितली’ और ‘मुक्ति भवन’ जैसी फिल्मों के अभिनेता ललित बहल का कोरोना से निधन
क्या सुधरेंगे भारत-पाकिस्तान के संबंध? इमरान खान ने बुलाई है हाई-लेवल बैठक, व्यापार शुरू करने को लेक...
वर्क फ्रॉम होम के जमाने में 1Gbps का प्लान क्यों है जरूरी
यूपी : इंजीनियरिंग और डिप्लोमा छात्रों को बड़ी राहत, कॉलेजों में नहीं होगी शुल्क वृद्धि
वाराणसी : पीएम ने खींंचा यूपी के विकास का खाका, दस बिंदुओं में जानिए प्रमुख बातें...
कैलाश मासूम को नोबल एसियन ऑफ़ दि ईयर अवार्ड से सम्मानित
ग्रेटर नोएडा वेस्ट वासियों की शिकायत का निरंतर होगा निस्तारण : विधायक तेजपाल नगर
मेहंदी लगाने वालों हाथों ने जीता शूटिंग का खिताब
प्रदर्शनकारियों को मानवीय मूल्यों से नही देखे भारत सरकार -राजा राजेन्द्र सिंह।
नासा की भविष्यवाणी: 2030 में चांद पर होगी हलचल और धरती पर आएगी विनाशकारी बाढ़
दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण: हर पांच में से चार परिवार स्वास्थ्य संबंधी समस्या से प्रभावित
राम लीला मैदान पर जुटे सरकारी कर्मचारी, पेंशन योजना बहाल करने की मांग
दुनिया का सबसे बड़ा भारतीय हस्तशिल्प मेला का हुआ आगाज़
कोरोना की तीसरी लहर के लिए बच्चों का आसीयू कितना तैयार, विशेष सचिव ने जिम्स का किया निरीक्षण