यूपी उत्तराखंड 17वां वार्षिक आर्थिक सम्मेलन का सफलतापूर्वक सम्पन आज शारदा विश्वविद्यालय में हुआ

शारदा यूनिवर्सिटी में उत्तर प्रदेश उत्तराखंड आर्थिक संघ का 17वां सम्मेलन आज समाप्त हुआ। यह सम्मेलन शारदा विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ बिज़नेस स्टडीज द्वारा किया गया था। आज अर्थशास्त्रियों द्वारा युवा कौशल और विकास पर चर्चा हुई।

विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राज नेहरू ने बताया कि युवाओं की सोच प्रक्रिया को बदलने की जरूरत है,भारत के युवा ज्यादा करियर विकल्पों के बारे में नहीं जानते हैं,हमे पढ़ाई के साथ साथ सही दिशा में उनका मार्ग दर्शन करना भी जरूरी है।

एकेपी (पीजी) कॉलेज खुर्जा की प्रिंसिपल डॉ डिंपल विज ने बताया कि स्टार्टअप इंडिया, आत्मनिर्भर भारत को मध्यम आयु वर्ग के लोगों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए क्योंकि वे व्यवसाय को संभालने के लिए जानकार हैं। अलग-अलग खंड और कौशल लोगों को उनके अनुसार देखना सरकार को देखना होगा।

 

शारदा विश्वविद्यालय के चेयरमैन पीके गुप्ता ने बताया कि छात्रों के विचारों पर हमे काम करना चाहिए और उनके विचारों को आगे तक लेके आना चाहिए , उन्हें खुद अनुसंधान और कौशल चीज़े ,परियोजना कार्य करनी सिखनी चाहिए जो उनके भविष्य में आगे बढ़ने में काम आएगी। छात्रों को काम करने से ज्यादा बिज़नेस के तरीके और विचार की और लेके जाए जिससे देश की अर्थव्यवस्था सुधरे और बच्चे का भविष्य एक कुशलपूर्वक हो।

शारदा स्कूल ऑफ बिज़नेस स्टडीज की डीन डॉ जयन्ती रंजन ने बताया कि इस तरह के सम्मलेन और कॉन्फ्रेंस करने के लिए शारदा विवि के मैनेजमेंट, प्रोफेसर, विद्यार्थी हमेशा तैयार रहते है। सम्मलेन कराने का मुख्य उद्देश्य यह होता है कि प्रोफेसर और विद्यार्थीयो में कौशल विकास, महत्वपूर्ण सोच, नए विचार, नवाचार, और अपने आप को शैक्षिक चीज़ों में मजबूत करने की मदद मिले और आसानी से अपने कार्य क्षेत्र में आगे बढ़ सके।

इस बार यूपी उत्तराखंड संघ के लोगो के साथ मिलकर यह सम्मलेन इतने बड़े पैमाने पर कराने का हमारा मक्सद केवल विधार्थियो के जीवन मे एक नया बदलाव और उनका भविष्य अच्छा हो। हमारे प्रोफेसर के लिए भी यह सम्मेलन बहुत महत्वपूर्ण रहा वह देश के बड़े बड़े अर्थशास्त्री, नीति आयोग , रिज़र्व बैंक से जुड़े हुए लोग प्रोफेसर और रिसर्च स्कॉलर से मिले उनसे बात चीत करी ,उनकेकाम ,विचार, परिणाम देखे जो की वह छात्रों को सिखा पाएंगे और उनके आने वाले भविष्य को उज्ज्वल बनाएंगे।
कार्यक्रम को सफल सम्पन्न कराने में अपना विशिष्ट योगदान देने के लिए प्रो हरी शंकर श्याम, डॉ मनीषा गुप्ता, डॉ जितेन्द्र सिंह को उत्तर प्रदेश उत्तराखंड आर्थिक संघ के द्वारा सम्मानित किया गया।

यह भी देखे:-

जीएलबीआईएमआर को मिला ‘‘बेस्ट बी-स्कूल फार इण्डस्ट्री इण्टरफेस अवार्ड’’
"ब्रेन कंप्यूटर इंटरफेस के लिए मशीन लर्निंग के अनुप्रयोग" पर व्याख्यान
शारदा विश्वविधालय के स्कूल ऑफ़ आर्किटेक्चर के विधार्थियों ने बनाया कंक्रीट के फर्नीचर
जी. डी. गोयंका में आन लाइन श्रीकृष्णजन्माष्टमीका कार्यक्रम
सीबीएसई 12वीं के नतीजे घोषित, इन लिंक से करें चेक, 92.71 फीसदी पास
‘‘विदिशा वाल्यान प्रथम मिस डेफ वल्र्ड का जी. एल. बजाज में स्वागत’’
तारीखें घोषित : किसानों को एकजुट करने को किसान मोर्चा लगातार करेगा पंचायत, अक्तूबर में तीन जिलों में...
गलगोटिया यूनिवर्सिटी व कॉलेज ने मनाया स्वतंत्रता दिवस समारोह 
75 साल 75 बच्चे और 75 तिरंगा थीम पर   बिगिनिंग मिशन एजुकेशन सेंटर मैं बड़ी धूमधाम से मनाया गया  स्वत...
कीर्तिमान : गलगोटियाज यूनिवर्सिटी  में अब तक का सबसे अधिक प्लेसमेंट ऑफर 
RYAN BAGGED NATIONAL GAMES AND AWARD BADMINTON CHAMPIONSHIP
जहांगीरपुर आरपीएस स्कूल की छात्रा नेहा कुमारी व हिमांशी ने किया स्कूल टॉप
अमीचंद सर्वोदय कॉन्वेंट स्कूल में शिक्षकों की भूमिका निभा कर खुश हुए बच्चे
भारत-पाक नियंत्रण रेखा पर जवानों के साथ दिवाली मनाने नौशहरा सेक्टर पहुंचे PM मोदी
रीडिंग कैंपेन में भाग लेने वाले छात्र व अभिभावक हुए सम्मानित
आई.टी.एस. डेन्टल काॅलिज में ”ओरल इम्पलांटोलोजी" पर कार्यशाला का आयोजन