बसपा सुप्रीमो मायावती ने गौतमबुद्ध नगर के इन तीन बड़े नेताओं को किया निष्काषित , पढ़ें पूरी खबर 

ग्रेटर नोएड्स : बसपा सुप्रीमो  मायावती ने जिला गौतमबुद्ध नगर के तीन बड़े नेताओं को पार्टी से निष्काषित कर दिया है। इनमें दादरी से दो बार विधायक रहे सतवीर गुर्जर के अलावा  पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष  वीरेंद्र डाढ़ा व उनके भाई और जेवर विधानसभा से बसपा के टिकट पर इसी बार चुनाव लड़े नरेंद्र भाटी डाढ़ा शामिल हैं। तीनों पर अनुशासनहीनता व पार्टी विरोधी गतिविधियां में शामिल होने का आरोप लगा। इधर  बसपा से निष्कासन पर  वीरेंद्र डाढ़ाबोले , 12 मार्च को ही हम दोनों भाइयों ने दे दिया था इस्तीफा तो निष्कासन किस बात का। पार्टी के पदाधिकारियों ने ही डुबोई पार्टी की नैया।

सतवीर गुर्जर  के बारे में  बताया जाता है कि उनके रिश्तेदार व बादलपुर निवासी पूर्व जिला पंचायत चेयरमैन जयवती नागर, उनके पति गजराज नागर व अच्छेजा गांव निवासी पूर्व जिला पंचायत सदस्य रामशरण नागर विधानसभा चुनाव के दौरान बसपा छोड़कर सपा में शामिल हो गए। सतवीर गुर्जर के करीबी संजीव त्यागी भी बसपा छोड़कर सपा में चले गए। इससे बसपा हाईकमान सतवीर गुर्जर से नाराज हो गया। पार्टी का मानना था कि पूर्व विधायक अपने रिश्तेदारों और करीबी लोगों को सपा में शामिल होने से नहीं रोक सके, इसलिए उन्हें अब पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है। इधर सतवीर गुर्जर ने कहा कि वह बसपा के वफादार सिपाही की तरह हैं। हमेशा पार्टी के हित में काम किया है। शीघ्र बहन मायावती ने मिलकर पक्ष रखेंगे।

इसके अलावा पूर्व जिला पंचायत चेयरमैन वीरेंद्र डाढ़ा व उनके छोटे भाई नरेंद्र भाटी डाढ़ा को भी पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है। नरेंद्र भाटी जेवर विधान सभा से इसी बार चुनाव लड़े थे। वह तीसरे नंबर पर रहे थे। वीरेंद्र डाढ़ा को भी पार्टी ने 2019 के चुनाव में लोकसभा का प्रत्याशी बनाया था, लेकिन बाद में उनका टिकट काट दिया गया था। बताया जाता है कि नरेंद्र भाटी हार का ठीकरा पार्टी के पदाधिकारियों पर फोड़ रहे थे। इससे हाईकमान उनसे नाराज हो गया।

लखमी सिंह फिर से बने बसपा के जिलाध्यक्ष – वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती ने कुछ दिन पहले पार्टी के जिला संगठन की सभी इकाईयों को भंग कर दिया था। नए सिरे से गठन किया जा रहा है। गौतमबुद्ध नगर के जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी फिर से लखमी सिंह को सौंपी गई है। वह लगातार दूसरी बार जिलाध्यक्ष बने हैं। उनके साथ जिला कार्यकारिणी भी घोषित कर दी गई है। लखमी सिंह ने बताया कि पार्टी सुप्रीमों बहन मायावती के निर्देश पर मेरठ मंडल प्रभारी प्रदीप जाटव, पूर्व विधान परिषद सदस्य सतपाल पीपला, मनोज जाटव, विजय सिंह व अजीत पाल की संस्तुति पर अयूब मलिक को उपाध्यक्ष, मनवीर भाटी बिसरख को जिला महासचिव, बाबूलाल गौतम, ओमप्रकाश सिंह व मेघानंद को सचिव, प्रताप सिंह फौजी को जिला खजांची, सुभाष जाटव, जोगिंद्र सिंह, स्वदेश बर्मन व वीरपाल सिंह को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया है।

यह भी देखे:-

बनारस की सबसे बड़ी परियोजना: अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं से लैस होगा देश का पहला इंटर मॉडल स्टेशन काशी 
यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट ने की बाबा अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग
एनसीआरबी : 2017-19 तक 24000 से अधिक बच्चों ने की खुदकुशी, परीक्षा और प्रेम प्रसंग बनी बड़ी वजह
गौतमबुद्ध नगर पंचायत चुनाव, जानिए शाम 5 बजे तक क्या रहा मतदान प्रतिशत 
सिंघु बॉर्डर पर SHO पर तलवार से हमला, पुलिस की जीप लेकर भागा आरोपित गिरफ्तार
प्राधिकरण के मुख्य कार्यालय में मॉडल क्रेच की से शुरुआत, सीईओ ने किया लोकार्पण -औद्योगिक क्षेत्रों म...
सख्ती: अधिक संक्रमण वाले इन राज्यों से यूपी आने पर आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट जरूरी
Coronavirus Live : 1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को भी लगेगा टीका, केंद्र सरकार ने लिया बड़ा ...
ट्रेड ट्रेवल एक्सपो  'सात्ते-2022'  का शानदार आगाज़, आर्थिक क्षेत्र में यात्रा और पर्यटन उद्योग का ह...
पुलिस एंड फायर गेम्स बैडमिंटन खेल में गौतमबुद्ध नगर के कॉन्स्टेबल गगन पासवान ने लहराया भारत का परचम
DATA STORY: दुनियाभर में प्रति व्यक्ति हर साल चार पेड़ हो रहे हैं कम, भारत का यह है हाल
डीएम बी.एन. सिंह ने जनपद वासियों को दी विजयदशमी की बधाई
ह्युमन टच फाउंडेशन द्वारा एनीमिया रोग का नि:शुल्क शिविर का आयोजन
"KBC" के नाम पर कॉल आए तो हो जाएं सावधान , खबर जरुर पढ़े
टीकाकरण में बना रिकॉर्ड : देश में नंबर वन हुआ यूपी, छह करोड़ पार, 31 तक 10 करोड़ का लक्ष्य
हिंदू बनी मुस्लिम लड़की ने सुरक्षा के लिए इलाहाबाद हाई कोर्ट से लगाई गुहार, कोर्ट ने SSP मेरठ को दिय...