प्राचीन कालीन ऐतिहासिक बाराही मेला- 2022, सूरजपुर मे 14 अप्रैल-.2022 से शुरू होगा

सूरजपुर में वर्षो से लगता चला आ रहा प्राचीन ऐतिहासिक बाराही मेला-.2022 इस बार फिर 14 अप्रैल.-2022 से शुरू होने जा रहा है। कोविड.-9 महामारी में भारी त्रासदी के बाद अब धीरे धीरे सब कुछ सामान्य सा होता जा रहा है। देश में बडे पैमाने पर होते जा रहे वैक्सीनेशन के बाद सरकार की ओर से कई तरह की पाबंदियां हटाई जा रही है, यही कारण है कि धार्मिक, सांस्कृतिक और सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजनां को भी अब छूट मिलनी शुरू हो गई है। सूरजपुर में प्राचीन ऐतिहासिक बाराही मेला.-2022 का आयोजन करने वाली शिव मंदिर मेला समिति( पजी0 ) ने फैसला किया है कि इस बार सूरजपुर में प्राचीन ऐतिहासिक बाराही मेला.2022 का आयोजन किया जाएगा। गुरूवार को एक बैठक आहूत कर शिव मंदिर मेला समिति ( पजी0 )ने घोषणा की है कि इस वर्ष.-2022, प्राचीन कालीन बाराही मेला.-2022 आगामी 14 अप्रैल.-2022 से लेकर 26 अप्रैल.-2022 तक आयोजित किया जाएगा। शिव मंदिर मेला समिति ( पजी0 ) की बैठक सूरजपुर स्थित बाराही मेला प्रांगण में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता शिव मंदिर मेला समिति के अध्यक्ष चौधरी धर्मपाल भाटी प्रधान ने की और संचालन मेला समिति ( पजी0 )  महामंत्री ओमवीर बैंसला ने किया। बैठक को संबोधित करते हुए शिव मंदिर मेला समिति अध्यक्ष चौधरी धर्मपाल भाटी प्रधान ने कहा कि सूरजपुर में हर वर्ष लगने वाला प्राचीन बाराही मेला.-2022, इस बार कोविड.19 महामारी के बाद पुनः आयोजित किया जाएगा। बाराही मेला.-2022 का आयोजन 14 अप्रैल.-2022 से लेकर 26 अप्रैल.-2022 तक किया जाएगा और जिसकी सभी तैयारियां युद्धस्तर पर शुरू कर दी गई हैं। भूमि पूजन आगामी 5 अप्रैल.-2022 को किया जाएगा। मेला समिति महामंत्री ओमवीर बैंसला ने कहा कि वर्ष.-2019 में प्राचीनकालीन बाराही मेले का आयोजन भव्य तरीके से किया गया था, किंतु वर्ष.- 2020 और साथ ही वर्ष.-2021 कोविड.-19 महामारी की वजह से भारत ही नही अपितु पूरे विश्व के लिए एक तरह से काल बन कर आए और यहां तक की कई लोगों ने अपनों को भी खोया, किंतु अब धीरे धीरे सब कुछ सामान्य हो रहा है, इसलिए निर्णय लिया गया है कि बाराही मेला रूपी इस सांस्कृतिक परंपरा को पुनः चालू किया जाए। बाराही मेला समिति मीडिया प्रभारी मूलचंद शर्मा ने बताया कि इस बार लगने वाले बाराही मेला.-2022 की तैयारियां पूरे जोर शोर से शुरू कर दी है। यहां प्राचीन मंदिरों की रंगाई पुताई कर प्रति वर्ष की भांति सजाया जा रहा है। शिव मंदिर मेला समिति के कोषाध्यक्ष लक्ष्मण सिंघल ने कहा कि बाराही मेले में आने वाले दर्शकों के लिए पार्किंग की व्यवस्था पूर्व भांति की गई है, जहां लोग अपने वाहन पार्क कर मेले का लुत्फ उठा सकते हैं। इसके साथ ही बाराही मेले में प्रवेश के लिए दो मुख्य प्रवेश द्वार होंगे जिनमें एक कसबे के अंदर से आता है। नोएडा दादरी रोड से बर्फ खाना के पास से प्रवेश कर मेला स्थल तक पहुंचा जा सकता है। जब कि दूसरा प्रवेश द्वार सूरजपुर पुलिस चौकी और देवला के बीच नोएडा दादरी रोड पर है, जहां से लोग अपने वाहनों द्वारा पार्किंग स्थल पर पहुंच कर मेला स्थल पर प्रवेश पा सकते हैं। इसके साथ ही किसी भी तरह की समस्या होने पर मेला समिति अथवा वॉल्येंटरों से संपर्क किया जा सकता है। इस मौके पर बाराही मेला समिति संरक्षक डा0 धनीराम देवधर, श्रीचंद भाटी, मेला अध्यक्ष चौधरी धर्मपाल भाटी प्रधान, महामंत्री ओमवीर बैंसला, उपाध्यक्ष बिजेंद्र ठेकेदार, भूदेव शर्मा, मीडिया प्रभारी मूलचंद शर्मा, सह मीडिया प्रभारी लीलू भगतजी और राजवीर शर्मा, उप सचिव विनोद सिंकद्राबादी, व्यवस्थापक रवि भाटी, भोपाल ठेकेदार, धर्मवीर तंवर, तोलाराम, उप प्रचार मंत्री हरि किशन और सदस्यों में महाराज सिंह उर्फ पप्पू, सतपाल शर्मा, प0 शिवदत्त आर्य, राजेश शर्मा, सुनील शर्मा, अज्जू भाटी, देवा शर्मा, हरि शर्मा आदि पदाधिकारीगण उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

स्वच्छता के प्रति जागरुकता के लिए पतवाड़ी गांव में रैली
ग्रेटर नोएडा में कोजीकार देगी कार डिटेलिंग की आधुनिक सुविधा :अभिषेक पाराशर
बीटा - 1 आरडब्लूए ने मनाया गणतंत्र दिवस समारोह
विधायक ने छात्राओं से कराया सड़क का शिलान्यास
भाजपा युवा मोर्चा व सपा के कार्यकर्ताओं ने अपने नेता के स्वागत के दौरान उड़ाई नियमों की धज्जियाँ 
अलीगढ़ में मासूम की हत्या के बाद उबाल , जगह-जगह निकला कैंडल मार्च, न्याय दिलाने की मांग
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की 108 वीं बोर्ड बैठक सम्पन्न
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने चलाया स्वछता अभियान
चन्द्रशेखर आजाद के जन्मदिन पर वेदार्णा फाउंडेशन ने कि मिशन मानसून पोधारोपण की शुरुआत
लोकेश भाटी बने समाजवादी पार्टी मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य
जन अयोग्य योजना के 60 कार्ड बनाए : राकेश ठाकुर
बारिश, जलजमाव और जाम ने बढ़ाई टेंशन, जलभराव रोकने के लिए करोड़ों रुपए खर्च के दावों बारिश ने धो दिया
कोरोना टीकाकरण में पिछड़े जिलों की समीक्षा करेंगे पीएम मोदी
Weather Updates Today: यूपी-हरियाणा और बिहार में आज बरसेंगे मेघा
डॉक्टर विकास प्रधान बने भारतीय किसान यूनियन अंबावता के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष
ग्रेटर नोएडा : बंदरों का आतंक, मुसीबत में जान