सुमित गुर्जर एनकाउंटर मामले में मानवाधिकार आयोग ने जारी किया नोटिस

नई दिल्ली : ग्रेटर नोएडा के कासना कोतवाली क्षेत्र में 50 हज़ार के ईनामी बदमाश सुमित गुर्जर को मार गिराने के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारीयों को नोटिस जारी किया है। मीडिया रिपोर्ट पर स्वत: संज्ञान लेते हुए आयोग ने यह कार्रवाई की है।

आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी करते हुए चार हफ्ते के भीतर विस्तृत रिपोर्ट पेश करने को कहा है। मालूम हो कि बीते 3 अक्टूबर को गौतमबुद्धनगर पुलिस ने कासना थाना क्षेत्र में शराब कैश वैन से लूट और दो कर्मचारियों की हत्या के आरोपी सुमित गुर्जर को मुठभेड़ के दौरान ढेर कर दिया था। जिसके बाद सुमित के परिजनों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए एनकाउंटर को फर्जी करार दिया था। विरोध में परिजनों और सुमीत के गांव वालों ने महामाया फ्लाईओवर पर पौने घंटा जाम भी लगाया था।

परिजनों का कहना है पुलिस ने सुमित को बीच बाजार से उठाया था। इधर गौतमबुद्धनगर ने दावा किया है सुमीत गुर्जर ही लूट हत्या काण्ड का मुख्य सूत्रधार था। उसके पास से गार्ड से लूटा गया राइफल भी बरामद किया गया है। मौके से उसके तीन साथ भाग निकले थे। एसएसपी नोएडा लव कुमार ने कहा है इस मामले में पारदर्शिता के साथ जांच की जाएगी।

यह भी देखे:-

उत्तरप्रदेश में आईएएस अधिकारियों के तबादले
उत्तर प्रदेश में पीपीएस अधिकारीयों के तबादले
शक्ति राय बनीं एडमीरिया मिसेज इंडिया
स्कूली बच्चों की सुरक्षा को लेकर यूपी डीजीपी का पुलिस कप्तानों को मिला ये निर्देश
उत्तर प्रदेश : शराब के शौकीनों के लिए अच्छी खबर , कैसे? पढ़े पूरी खबर
यूपी योद्धा बेंगलुरु बुल्स को 45-33 से हराते हुए अपने होम लेग का किया अंत
यूपी में 26 आईएएस अफसरों के तबादले, नोएडा को मिला नया सीईओ
उत्तप्रदेश में आईएस/पीसीएस अधिकारियों के तबादले
उत्तर प्रदेश  में  मुख्य चिकित्सा अधिकारीयों  के तबादले 
मुलायम सिंह यादव की तवियत बिगड़ी , पीजीआई में भर्ती
जेवर काण्ड खुलासे पर यूपी सीएम योगी ने एसएसपी लव कुमार की सराहना की
यूपी में 15 बीएसए के तबादले
उत्तरप्रदेश में आईपीएस अधिकारियों का तबादला
21 साल बाद अमेठी जीत सकती है BJP: CM योगी
उत्तर प्रदेश में आईएएस अधिकारीयों के हुए तबादले
जांबाज सिपाही रजनीश को डीजीपी ने किया सम्मानित