कैपिटल एथेना के 900 फ्लैट खरीदारों की जल्द पूरी होगी आशियाने की आस

–कैपिटल एथेना को दूसरी किस्त जारी, प्राधिकरण को भी दिए 17 करोड़
–एसबीआई कैपिटल से बिल्डर को 165 करोड़ रुपये हुए हैं स्वीकृत

ग्रेटर नोएडा। कैपिटल एथेना के 900 फ्लैट खरीदारों के लिए एक और राहत की खबर है। भारत सरकार की तरफ से बने स्वामी फंड (स्पेशल विंडो फॉर अफोर्डेबल एंड मिड इनकम हाउसिंग ) से ग्रेनो वेस्ट स्थित कैपिटल एथेना रिहायशी प्रोजेक्ट को स्ट्रेस फंड की दूसरी किस्त भी जारी हो गई है। इसकी पहली किस्त बीते मई माह में ही जारी हो चुकी है। स्वामी फंड से वित्तीय सहायता पाने वाला कैपिटल एथेना ग्रेटर नोएडा का पहला प्रोजेक्ट है। बिल्डर ने इस रकम में से ग्रेनो प्राधिकरण की बकाया प्रीमियम धनराशि की दूसरी किस्त (करीब 17 करोड़ रुपये) भी दे दी है। स्ट्रेस फंड से इस प्रोजेक्ट के 900 फ्लैट खरीदारों के लिए अपना आशियाना जल्द मिलने का रास्ता साफ हो गया है। इससे पहले पंचशील ग्रींस टू प्रोजेक्ट को एसबीआई कैप से 249 करोड़ रुपये की मदद स्वीकृत हुई थी, जिसकी पहली किस्त भी मिल चुकी है।
फ्लैट खरीदारों को आशियाना दिलाने के लिए वर्ष 2019 में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 20 हजार करोड़ रुपये के स्वामी फंड का एलान किया था। अधूरे रिहायशी प्रोजेक्टों को वित्तीय सहायता देकर पूरा कराने की जिम्मेदारी एसबीआई कैपिटल को दी गई। ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अटके प्रोजेक्टों को स्ट्रेस फंड से पूरा करने के लिए प्राधिकरण ने भी बिल्डरों को सहयोग किया। इस फंड से मदद पाने के लिए कई बिल्डरों ने आवेदन किए। सबसे पहले कैपिटल एथेना को स्ट्रेस फंड से मदद मिली। स्ट्रेस फंड से मदद पाने वाला कैपिटल एथेना ग्रेटर नोएडा का पहला प्रोजेक्ट बना। अब इस प्रोजेक्ट की दूसरी किस्त भी जारी हो गई है, जिससे प्राधिकरण को करीब 17 करोड़ रुपये भी मिल गए हैं। स्ट्रेस फंड से वित्तीय सहायता मिलने से प्रोजेक्ट पर तेजी से काम भी हो रहा है। इसके 900 फ्लैट खरीदारों को जल्द अपने फ्लैट मिल जाएंगे। गौरतलब है कि स्ट्रेस फंड से पंचशील हाईनिश टू को भी 249 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए हैं। पंचशील को पहली किस्त बीते अक्तूबर माह में जारी हो चुकी है, जिससे प्रोजेक्ट का निर्माण चल रहा है और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को प्रीमियम धनराशि की बकाया किस्त (करीब 34 करोड़ रुपये) भी मिल गई है। पंचशील हाइनिश टू के बनने से 1300 फ्लैट खरीदारों को घर मिल सकेगा। साथ ही प्राधिकरण की बकाया धनराशि भी मिल जाएगी। इसके अलावा सिक्का ग्रुप को भी स्ट्रेस फंड से स्वीकृति मिल चुकी है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी संतोष कुमार ने बताया कि कैपिटल एथेना से दूसरी किस्त भी प्राप्त हो गई है। प्रोजेक्ट का निर्माण भी तेजी से हो रहा है। फ्लैट खरीदारों को अपना घर शीघ्र मिल सकेगा। साथ ही प्राधिकरण की बकाया प्रीमियम धनराशि भी प्राप्त हो रही है, जिसे प्राधिकरण विकास परियोजनाओं पर खर्च कर सकेगा।
————————————————————-
बन पाने वाले प्रोजेक्टों को ही मिलता है यह फंड ः सीईओ
———————————————————-
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने कैपिटल एथेना प्रोजेक्ट के लिए स्ट्रेस फंड से दूसरी किस्त जारी होने पर खुशी जताते हुए कहा कि एसबीआई कैप से उन परियोजनाओं को ही स्ट्रेस फंड जारी होता है, जो बन पाने की स्थिति में होते हैं। एसबीआई कैप पूरी छानबीन करने के बाद ही फंड जारी करता है। उन्होंने कहा कि स्ट्रेस फंड पाने के लिए और भी बिल्डरों को आगे आना चाहिए। वे इसकी मदद से प्रोजेक्ट को पूरा करने और प्राधिकरण की बकाया रकम चुकाने की पहल करें। प्राधिकरण भी उनका सहयोग करने को तैयार है। सीईओ ने कहा कि फ्लैट खरीदारों को पजेशन दिलाने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण अपने स्तर से प्रयास जारी रखेगा। ————————————————-
स्ट्रेस फंड के लिए दो और प्रोजेक्ट कतार में
————————————————-
स्ट्रेस फंड से वित्तीय सहायता पाने के लिए दो और बिल्डरों ने आवेदन किए हैं। इनमें सुपरसिटी और जतस्या शामिल हैं। इनको स्ट्रेस फंड दिलाने के लिए कागजी प्रक्रिया चल रही है। इन परियोजानाओं में करीब 2500 फ्लैट हैं, जिनके स्ट्रेस फंड से पूरे होने की उम्मीद है।
——————–
स्ट्रेस फंड में आवेदन के लिए रेरा में पंजीकरण अनिवार्य
————————————————————-
इस फंड के लिए प्रोजेक्ट का रेरा में पंजीकरण होना अनिवार्य है। आवेदन मिलने पर एसबीआई कैपिटल की टीम साइट पर जाकर देखेगी कि प्रोजेक्ट कितना वायबिल है। अगर प्रोजेक्ट घाटे का नहीं है तभी उसके लिए फंड जारी होता है। मसलन प्रोजेक्ट को पूरा करने में अगर ५० करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं तो बन जाने के बाद उससे अधिक लाभ मिल पाएगा या नहीं, इसके लिए प्राधिकरण से मोर्टगेज परमिशन लेनी पड़ती है। जारी होने वाले फंड में से प्राधिकरण को जमीन की बकाया रकम भी देनी होती है।
———————————
वेबसाइट पर करें आवेदन
—————————
स्ट्र्रेस फंड के अंतर्गत लाभ पाने के लिए बिल्डरों को ई मेल आईडी –ahf@sbicaps.com पर आवेदन करना होगा। इसके लिए पात्रता शर्तें http://www.sbicaps.com पर उपलब्ध हैं।
—————–

यह भी देखे:-

फोर्टिस अस्पताल, ग्रेटर नोएडा में व्यापक ऑन्कोलॉजी सेवाओं की हुई शुरुआत, कैंसर रोगियों को मिलेगा एड...
किन्नर हिना चौधरी ने शोषण के खिलाफ की प्रेस वार्ता, क्या कहा पढ़िए
मेडिकल डिवाइस पार्क में शत प्रतिशत हो सकेगा विदेशी निवेश
डीएम मनीष कुमार वर्मा के नेतृत्व में जनपद में 09 मार्च से 30 मार्च 2024 तक चलेगा पोषण पखवाड़ा
Sidharth Shukla Death: सिद्धार्थ शुक्ला के अचानक निधन से सदमे में है स्टार्स
ग्रेटर नोएडा कांग्रेस ने मनाई राहुल गांधी की "भारत जोड़ो" की प्रथम वर्षगांठ, निकाली गई पदयात्रा
ग्यानेकोलॉजी और आईवीएफ के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए डॉ. सोनाली गुप्ता सम्मानित
दिल्ली: हाईकोर्ट बम धमाकों में शामिल था अशरफ, पाकिस्तानी आका के हुक्म पर करता था 'खास काम'
डीएम मनीष कुमार वर्मा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में स्वयं पहुंच कर ले रहे हैं स्थिति का जायजा
संक्रमण के मामलों में फिर आया उछाल, 26 हजार के पार पहुंचे नए केस
मंगलमय इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी में बीएबीएड और बीकॉम के लिए दो दिवसीय ओरिएंटेशन कार्...
मुलायम सिंह यादव की जयंती सपाइयों ने गरीबों में बाटे कंबल
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेनो द्वारा रजिस्ट्रार ऑफिस में लगाये गये रक्तदान शिविर में कैम्पस के लोगों ने कि...
दिल्ली को थी दहलाने की साजिश ; AK-47 और हैंड ग्रेनेड के साथ पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार
व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने पीडित के परिजनों के साथ मिलकर की DCP से मुलाकात
डीएम मनीष कुमार वर्मा के नेतृत्व में द्वितीय सड़क सुरक्षा पखवाड़ा