साल का आखिरी चंद्र ग्रहण वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा

चंद्र ग्रहण के दौरान शिव आराधना करने से मिलता लाभ साल -2021-का आखिरी चंद्र ग्रहण  ,19 नवंबर 2021 दिन शुक्रवार को लगेगा. यह चंद्रग्रहण वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा. इससे वृषभ राशि सबसे अधिक प्रभावित होगी. हालांकि ये आंशिक चंद्र ग्रहण होगा, जो भारत के असम और अरुणाचल प्रदेश में ही कुछ समय के लिए दिखाई देगा. इसके अलावा अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र में इस चंद्र ग्रहण को देखा जा सकेगा.
भारत में चंद्र ग्रहण का समय
भारतीय समयानुसार 19 अक्टूबर 2021 दिन शुक्रवार को सुबह 11:34 मिनट से चंद्र ग्रहण शुरू हो जाएगा, जो शाम 05:33 मिनट पर खत्‍म होगा. हालांंकि भारत में ग्रहण का सूतक मान्य नहीं होगा, लेकिन धार्मिक मान्यता के अनुसार, ग्रहण के दौरान कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना आवश्यक है. सूतक काल में भोजन-करना पूजा-पाठ से परहेज करना चाहिए. इस दौरान भगवान का ध्यान करें. ग्रहण के बाद स्‍नान जरूर करें. इस अवधि में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है. चंद्र ग्रहण के दौरान अपने इष्ट की आराधना करने से लाभ मिलता है.
इस राशि के जातक रहें सावधान
यह चंद्रग्रहण वृष राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा. इसलिए वृषभ राशि वालों के लिए यह चंद्र ग्रहण ठीक नहीं रहेगा. इस राशि के जातकों को किसी से वाद-विवाद और फिजूल खर्चों से बचने की सलाह दी जाती है. यदि संभव हो सके, तो इस अवधि के दौरान वृष राशि के जातक एकांत में रहकर प्रभु का ध्यान करें. ऐसा करने से मन शांत रहेगा और ये कठिन समय आसानी से गुजर भी जाएगा.
क्या होता है उपछाया ग्रहण
चंद्र ग्रहण के शुरू होने से पहले चंद्रमा धरती की उपछाया में प्रवेश करता है. जब चंद्रमा पृथ्वी की वास्तविक छाया में प्रवेश किए बिना ही बाहर निकल आता है तो उसे उपछाया ग्रहण कहते हैं. चंद्रमा जब धरती की वास्तविक छाया में प्रवेश करता है, तभी उसे पूर्ण रूप से चंद्र ग्रहण माना जाता है. उपछाया ग्रहण को वास्तविक चंद्र ग्रहण नहीं माना जाता है।

यह भी देखे:-

दिल्ली : स्कूलों में शिक्षकों के 12,065 रिक्त पद भरने की प्रक्रिया शुरू
कोरोना की बेकाबू रफ्तार: संक्रमण की दर 12 दिन में दोगुनी, मृत्युदर गिरकर 1.20 फीसदी
ब्लॉक प्रमुख चुनाव में भाजपा का दबदबा : 300 सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों का निर्विरोध निर्वाचित तय
महिला उन्नति संस्था भारत की मासिक समीक्षा बैठक सम्पन्न, महिलाओं को जागरूक कर रही है संस्था 
दिल्ली के लिए भी चलेगी ऑक्सीजन एक्सप्रेस, रेलवे बनाएगा ग्रीन कॉरिडोर
हाईकोर्ट : मनमाने तरीके से बंगलों पर कर्मचारी तैनात नहीं कर सकेंगे पुलिस अफसर
बेवन नागर ने सुंदर भाटी के भाई समेत इन सात पर कराया एफआईआर, जानलेवा हमला करने का आरोप
महंगाई, पंचायत व ब्लॉक प्रमुख विवाद को लेकर सपाइयों ने किया प्रदर्शन, धारा 144 के उलंघन में इन नेताओ...
विश्व रक्तदान दिवस के अवसर पर कीजिये स्वैच्छिक रक्तदान, रोटरी क्लब ग्रीन गेटर नोएडा द्वारा होगा आयोज...
रोटरी क्लब ग्रेनो ने किया वृक्षारोपण
18 साल बाद राष्‍ट्रपति कोविंद आज प्रेसिडेंशियल ट्रेन से करेंगे सफर,जानें इस स्‍पेशल ट्रेन की खासियत
स्वर्गीय चौधरी वेद राम सिंह नागर की पुण्यतिथि पर होगा कवि सम्मेलन का आयोजन
गलगोटियाज विश्वविद्यालय में सात दिवसीय योग अभ्यास का आगाज
युवा कांग्रेस का पोल खोल प्रदर्शन : सांसद महेश शर्मा से कहा - जवाब दो , हिसाब दो
मनमाने तरीके से फीस वसूली का आरोप , धरने पर बैठे बी.टेक के छात्र
चिंताजनक: गाजियाबाद दुनिया का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर, दिल्ली सबसे प्रदूषित राजधानी