लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा : ग्रेटर नोएडा-नोएडा-ग्रेनो वेस्ट में विभिन्न जगहों पर व्रतियों ने डूबते हुए सूर्य को दिया अर्घ्य, देखें झलकियां

लोक आस्था का महापर्व  छठ पूजा   में काफी उत्साह देखने को मिला है.  ग्रेटर नोएडा में छठ पूजा को लेकर धूम मची है.  आसपास की सोसायटी व सेक्टर में रहने वाले श्रद्धालुओं ने आज डूबते हुए सूर्य का अर्घ्य दिया।  अब कल उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर छठ महापर्व का समापन हो जायेगा । आज छठ महापर्व का तीसरा दिन मनाया जा रहा है. शाम को डूबते सूर्य की उपासना की गई  और सूर्य देव को पहला अर्घ्य दिया गया . इस अर्घ्य को संध्या अर्घ्य भी कहते हैं. अर्घ्य देने से पहले सूर्य देव और छठी मइया की पूजा की जाती है. छठ व्रत को सबसे कठिन व्रतों में से एक माना जाता है. इसमें महिलाएं अपने सुहाग और संतान की मंगल कामना के लिए 36 घंटों का निर्जला व्रत रखती हैं. छठ पूजा का प्रारंभ चतुर्थी तिथि को नहाय खाय से होता है और सप्तमी के दिन उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के बाद समाप्त होता है.

ग्रेटर नोएडा के आईईसी कॉलेज नॉलेज पार्क के निकट  पूर्वांचल बिहार वेलफेयर सोसाइटी की ओर  से छठ व्रतियों के लिए इंतजाम किया गया था।  


 

छठ महापर्व की फ़ोटो – नेफोमा की महासचिव रश्मि पांडेय व छठ श्रद्धालु – ग्रीनआर्च सोसाइटी 



ग्रेटर नोएडा वेस्ट में छठ पूजा का आयोजन 

हर वर्ष की भाँति गैलेक्सी नार्थ एवेन्यू-2, गौर सिटी-2 के निवासीगण ने छट पूजा कोविड प्रोटोकोल के साथ मनाया। लगभग 30 परिवार ने छट का व्रत रखा था। व्यस्थापक मेन पप्पू कुमार, नीरज चौधरी, आलोक शर्मा, संजीव कुमार, पंकज कुमार, दुर्गेश कुमार इत्यादि छठ पर्व को सफल बनाने के लिए अहम भूमिका निभा रहे हैं।



ग्रेटर नोएडा के सेक्टर म्यू 1 के छठ घाट का दृश्य। फोटो साभार : ओम रायज़ादा  



लोक आस्था का महापर्व छठ प्रकृति की पूजा के साथ-साथ सामाजिक समरसता के लिए भी जरूरी है। इस पर्व के द्वारा पहले डूबते सूर्य को अर्घ दिया जाता है और दूसरे दिन सुबह उगते सूर्य को अर्घ दिया जाता है।

इस पूजा का मुख्य संदेश यह है कि जिसका उदय होता है, उसका अस्त होना तय है यह हम सब जानते हैं लेकिन छठ पर्व से हमें जो सीख मिलती है़ वो है कि जो अस्त होता है, उसका उदय होना भी तय है।

डॉ अरविंद कुमार सिंह
गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय

 



सूर्योपासना और आस्था के महापर्व छठ पूजा पर महिला उन्नति संस्था के सदस्यों ने सेक्टर 110 में बने तालाब पर  अस्त होते सूर्य को अर्घ्य देकर छठ पर्व मनाया। संस्था की जिला महासचिव वंदना झा ने बताया कि छठ पर्व पर सूर्योपासना का बहुत महत्व है और यह एक मात्र ऐसा पर्व है जिसमे अस्ताचलगामी सूर्य की उपासना की जाती है। इस अवसर संस्था के सदस्यों ने महिलाओं की सुरक्षा और सुविधा के लिए लगातार लोगों को जागरूक किया। इस दौरान मनोज झा सुषमा झा अंजू ओझा आरती शर्मा शालिनी दुबे  और पंकज त्रिपाठी मानस झा  देव कुमार चौबे आदि लोग मौजूद रहे।



ऐस सिटी के छठ मैया भक्तों ने सोसाइटी के निकट मैदान में *हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी कृतिम घाट बनाकत भव्य तरीके से पावन पर्व छठ पूजा की तैयारी की जा रही है जिसमे भिन्न भिन्न सोसाइटी के लगभग 100 छठ व्रती व उनके परिवार सम्मिलित होंगे। कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरीके से पालन करते हुए छठ पूजा मनाया जाएगा। सुरक्षा के दृष्टिकोण से छठ पूजा के घाट पर पुलिस बल भी तैनात रहेगी । घाट के साफ सफाई, मरम्मत आदि का काम पूरा हो चुका है, पानी भी भरा जा चुका है। ऐस सिटी के बहुत से सदस्य तन, मन, धन से लगे हुए है इस पावन पर्व को सफल बनाने में। ऐस सिटी मेंटेनेंस के लोग भी हर तरीके से मदद करने में जुटे हुए हैं।



 

सेक्टर 31 के शहीद भगत सिंह पार्क में पूर्वांचल मित्र मंडल छठ पूजा समिति के तत्वावधान में आयोजित छठ पूजा महोत्सव में छठ व्रतियों द्वारा अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया गया। आयोजन समिति के प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने जानकारी देते हुए बताया कि  रोशनी से जगमग छठ घाट को केले के पत्तों से सजाया गया था । छठ घाट के पानी में गंगा जल के साथ गुलाब की पंखुड़िया डाली गई एवं छठ वृतियों के ऊपर एक कुंतल गुलाब की पंखुड़ियों की वर्षा की गई।



 

छठ महापर्व की साय क़ालीन अर्घ्य की फ़ोटो – ग्रीनआर्च



देव मणि शुक्ल

नोएडा सेक्टर 82 पाकेट 7 मे आज छठ महापर्व का त्यौहार बडे धूम-धाम से मनाया गया ।
नि:शुल्क छठ पूजा सेवा समिति के पदाधिकारियों ने घाट को बडे ही खूबसूरती से सजाया था।और शाम 4 बजे से सभी व्रती अपना अपना डाला
लेकर छठ घाट पर बैन्ड बाजे के साथ पहुंचे और पानी मे सूर्यास्त तक खडे रहे उसके बाद सूर्य भगवान को अर्घय देकर अपने अपने घर गये फिर कल सुबह सूर्योदय के समय अर्घय देने के लिए आएगें छठ का महापर्व बडे धूम-धाम से मनाया गया और लोगों की अपार भीड देखने को मिली । इस मौके पर अमितेश कुमार सिंह,दीपक तिवारी,रवि राघव,संजय पाण्डेय,रमेश चंद्र शर्मा,वीरेन्द्र,विनोद तिवारी,एस के तिवारी,हरि शंकर सिंह,हिमान्शु,शशिभूषण,दीपक तिवारी,गोरे लाल,राजेश गुप्त,बी डी गुप्त,शैलेन्द्र गोस्वामी संजय शुक्ल आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे ।

यह भी देखे:-

आज का पांचांग , 5  सितम्बर 2020 , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
आज का पंचांग, 30 दिसंबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
रक्षाबंधन पर विशेष: श्रावणी पूर्णिमा का महत्त्व, बता रहे हैं पंडित सागर शर्मा
ग्रेटर नोएडा : विधि विधान से पूजे गए देव शिल्पी विश्वकर्मा, आज शाम भोजपुरी कलाकार बिखेरेंगे जलवा
सिन्दूर खेला की धूम के साथ माँ दुर्गा की हुई विदाई
आज का पंचांग, 20 जनवरी 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहुर्त
आज का पंचांग, 4 नवम्बर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग, 16 जनुअरी 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
जहांगीरपुर कस्बे में भगवान श्रीकृष्ण का डोला धूमधाम से निकाल गया
आज का पंचांग, 19  सितम्बर 2020 , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
ग्रेटर नोएडा से धूम- धाम से मनाया गया राधाष्टमी
नोएडा : पूर्वांचल मित्र मंडल छठ पूजा समिति ने शुरू की छठ महापर्व की तैयारी
आज का पंचांग, 12 जनवरी 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
भगवान श्री जगन्नाथ की निकली भव्य शोभा यात्रा
आज का पंचांग, 21 जुलाई 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मूहुर्त
आज का पंचांंग, 13 सितम्बर, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त