मौसम अपडेट: लखनऊ में प्रदूषण से गिरा पारा, मंगलवार सुबह कई इलाकों में हुआ थोड़ा सुधार

राजधानी लखनऊ में स्मॉग और गिरते पारे का असर इस सीजन में पहली बार दिखने लगा है। लोगों ने कंबल-जैकेट-स्वेटर तक निकाल लिए और कई दोपहिया वाहन सवार सुबह के समय जैकेट में नजर आने लगे हैं। मौसम विज्ञानी और भू-वैज्ञानिकों का मानना है कि दीपावली पर दागे गए पटाखों के धुएं से बनी चादर ने सूरज की किरणों को धरती तक आने में रोक दिया।

इसके चलते पारा गिरा और वायु प्रदूषण भी बढ़ गया। वहीं, पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से पछुआ हवाएं जल्द चलेंगी। इससे प्रदूषण का स्तर तो कम होगा, पर सर्दी बढ़ेगी। हालांकि, मंगलवार सुबह 11 बजे तक अलीगंज, गोमती नगर, बीबीएयू व कुकरैल के इलाकों की हवा थोड़ा बेहतर हुई है पर लालबाग और तालकटोरा इलाके की हवा अब भी खराब है जबकि ओवरऑल लखनऊ की हवा अभी बहुत खराब स्थिति में है।

आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक, जेपी गुप्ता के मुताबिक, प्रदूषण का असर मौसम पर दिख रहा है। यही वजह है कि धुंध के साथ प्रदूषक कण बने हुए हैं। वहीं, यूपीपीसीबी ने भी अलर्ट किया है कि आने वाले दो-तीन दिन तक स्मॉग से वायु प्रदूषण बढ़ा रह सकता है।

ऐसे बदली शहर की हवा
नवंबर — एक्यूआई
पांच — 278, खराब
छह — 260, खराब
सात — 299, खराब
आठ — 338, बहुत खराब

कहां कितना एक्यूआई
इलाका — एक्यूआई
तालकटोरा — 377, बहुत खराब
अलीगंज — 227, थोड़ा बेहतर
लालबाग — 335, बहुत खराब
गोमतीनगर — 255, थोड़ा बेहतर
बीबीएयू  — 227, थोड़ा बेहतर
कुकरैल — 220, थोड़ा बेहतर

दो-तीन दिन तक बढ़ा रहेगा प्रदूषण
यूपीपीसीबी के क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. रामकरन का कहना है कि हवा थमने के चलते धुएं के कणों के पूरी तरह नहीं छंट पाने से वायु प्रदूषण बढ़ा हुआ है। वायु प्रदूषण को कम करने के जरूरी प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। जहां सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जा रहा है। वहीं, नगर निगम की मदद से स्मॉग गन का उपयोग कर हवा और पेड़ों पर जमी धूल व धुएं के कणों को हटाया जा रहा है। सबसे अधिक चौंकाने वाली स्थिति औद्योगिक इलाकों की है। तालकटोरा आदि में फैक्टिरयां दीपावली के चलते बंद थीं। फिर भी यहां प्रदूषण बढ़ा हुआ है।

यह भी देखे:-

गौतमबुद्ध नगर समेत पूरे उत्तर प्रदेश में क्या है कोरोना का हाल, जानिए 
बाबा रामदेव के खिलाफ IMA की नई रणनीति, बिहार में जगह-जगह मुकदमे कराएंगे डॉक्‍टर
दुनिया की टेंशन बढ़ा रहा कोरोना का नया वैरिएंट AY.4.2, भारत के डेल्टा वैरिएंट से कितना अलग?
बाईक बोट मामला: पुलिस ने खंगाला ऑफिस, सभी खाते मिले ....
ग्रेनो प्राधिकरण ने हिमसागर अपार्टमेंट पर लगाया जुर्माना
उत्तर प्रदेश : लॉकडाउन में इन इलाकों में बिक रही है शराब, उमड़ी भीड़
हस्तशिल्प मेला : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पिक्चर फ्रेमिंग टेक्नोलॉजी के पेशेवरों को गिल्ड प्...
शारदा विश्विद्यालय में न्यायपालिका व कार्यशैली  पर संगोष्ठी का आयोजन
CORONA UPDATE: जानिए गौतमबुद्ध नगर में क्या है हाल 
कोरोना का खतरनाक रूप: मरीजों को बढ़ी सांस की तकलीफ, बहुरूपिये वायरस ने बदले लक्षण
करोड़ों लेकर भागा बिल्डर तो सड़क पर उतरे बायर्स
सीएम योगी का एलान: छोटे बच्चों के परिजनों को बिना पंजीकरण कोरोना वैक्सीन, बनाए जाएंगे अभिभावक बूथ
आपातकाल: लोकतंत्र सेनानियों में 80% से अधिक संघ के कार्यकर्ता थे - श्री रामलाल
कानपुर राजकीय बालिका बालगृह मामले में आम आदमी पार्टी ने ज्ञापन सौंपा. दोषियों के विरोध कठोर कार्यवाह...
पर्यावरणविद् विक्रांत को केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय ने किया सम्मानित
गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस(जिम्स) ग्रेटर नोएडा ने डायबिटिक क्लिनिक किया शुरू