नोटबंदी से देश के आर्थिक जगत, डिजिटल लेन-देन की प्रक्रिया में क्या-क्या हुए बड़े बदलाव

नई दिल्‍ली,। नोटबंदी (Demonetisation) के 5 साल बाद डिजिटल भुगतान (Digital Transaction) में तेजी के बावजूद चलन में नोटों की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार डेबिट/क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) जैसे माध्यमों से डिजिटल भुगतान में भी बड़ी वृद्धि हुई है।

देश में मोबाइल और इंटरनेट बैंकिंग लेनदेन 2020 में प्रति 1,000 वयस्कों पर 13,615 पर पहुंच गया है, जो 2015 में 183 था। 2020 में बैंक शाखाओं की संख्या प्रति एक लाख वयस्कों पर 14.7 तक पहुंच गई, जो 2015 में 13.6 थी। यह संख्या जर्मनी, चीन और दक्षिण अफ्रीका से अधिक है। एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

Harvard University के मुताबिक नोटबंदी से कई तरह के उपाय हुए। इनमें काला धन पर अंकुश, नकली नोट पर नियंत्रण, आंतकी फंडिंग रुकना, नॉन फॉर्मल इकोनॉकी से फॉमल इकोनॉकी की ओर कदम और डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना शामिल है। इसके साथ ही नोटबंदी के पांच साल पूरे होने पर भारतीय स्टेट बैंक (SBI) समूह के मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट के मुताबिक, उच्च वित्तीय समावेशन/अधिक बैंक खातों वाले राज्यों में शराब और तंबाकू की खपत में सार्थक गिरावट के साथ-साथ अपराध में भी गिरावट देखी गई है।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा: भारतीय नववर्ष स्वागत उत्सव का शुभारंभ
Weather Update: यूपी-दिल्ली-एनसीआर -बिहार सहित इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, जानें- आपके राज...
ग्रेटर नोएडा में कोरोना का विस्फोट, गौर सिटी को किया गया सील
शिक्षक पर्व 2021: NEP के कई पहल लांच, पढें पूरी रिपोर्ट
एसीईओ ने अस्तौली लैंडफिल साइट का लिया जायजा, एप्रोच रोड शीघ्र बनाने के निर्देश
एक गांधीवादी क्रांतिकारी हृदय: श्री गणेश शंकर विद्यार्थी को श्रद्धांजलि
नोएडा: जिला बदर किए गए इन 50 गुण्डों पर डीएम ने मांगी जनता से फीडबैक
गलगोटिया विश्वविद्यालय में रूसी पत्रकारों के साथ विशेषज्ञ वार्ता का आयोजन
देश में पहली बार ड्रोन से की जाएगी दवाओं की डिलीवरी, इस राज्य ने शुरू किया प्रोजेक्ट 'मेडिसिन फ्रॉम ...
गलगोटिया विश्वविद्यालय के इन छात्रों को विदेशों में मिली अच्छे पैकेज पर नौकरी
अभिनेत्री जूही बब्बर ने किया शारदा का दौरा
सेंट जोसफ विद्यालय में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 'क्रिसमस डे'
गलगोटिया विश्वविद्यालय के सहयोग से COVID 19 महामारी पर वेबिनार, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और छात्र हुए...
पेड़ों में पानी पटा रहे ग्रेनो प्राधिकरण के दो संविदा कर्मचारियों को डम्पर ने रौंदा, मौत
कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद PM Modi ने की नर्स से बात, जानें क्या कहा
गैस चैंबर में तब्दील हुआ एनसीआर, प्रमुख शहर डार्क जोन में