दिल्ली-एनसीआर की हवा हुई जहरीली: पर्यावरणविद् ने बताई हेल्थ इमरजेंसी, स्कूलों को बंद कर लॉकडाउन लगाने की सलाह

दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण के चलते डॉक्टरों और पर्यावरण विशेषज्ञों ने हेल्थ इमरजेंसी बताते हुए गहरी चिंता व्यक्त की है। पर्यावरणविद् विमलेन्दु झा ने कहा कि हमारा उत्तर भारत में वर्तमान वायु प्रदूषण संकट की गंभीरता को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने इसे हेल्थ इमरजेंसी जैसी स्थिति बताते हुए कहा कि पराली जलाने का इस स्थिति में बड़ा योगदान है।

उनका कहना है कि वायु प्रदूषण के वर्तमान संकट को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर और उसके आसपास स्कूलों को बंद करने, वाहनों की आवाजाही को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय किए जाने चाहिए। उनका मानना है कि शायद अगले एक हफ्ते के लिए निर्माण गतिविधियों पर रोक लगनी चाहिए।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार की सुबह ठंडक रही और न्यूनतम तापमान सामान्य 14.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि, दिल्ली में तीसरे दिन भी वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई और यह 433 दर्ज किया गया।

यह भी देखे:-

दीदी की रसोई टीम ने सेक्टर 70 नोएडा में जरूरतमंदों में किया गर्म कपड़ों का वितरण- गंगेश्वर दत्त शर्म...
दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण: हर पांच में से चार परिवार स्वास्थ्य संबंधी समस्या से प्रभावित
फर्जी पुलिसकर्मी बनकर एक प्रतिष्ठित डॉक्टर को लगातार ब्लैकमेल और वसूली करने वाले बदमाश पुलिस ने गिरफ...
प्रिंसिपल सेक्रटरी औधगिक विकास से मिले नेफोवा के पदाधिकारी, बायर्स की समस्या सामने रखी 
गलगोटिया विश्वविद्यालय में छात्रों के लिए व्याख्यान संगोष्ठी, मैन पावर की प्लानिंग विषय पर जोर
51 हजार की छात्रवृत्ति के लिए आईआईएमटी आयोजित करेगा ऑनलाइन परीक्षा
Covid-19 Vaccine: Pfizer ने कहा, बच्चों के लिए भी 100% असरदार और सुरक्षित है कोविड-19 वैक्सीन
एसएसपी लव कुमार ने तीन पुलिसकर्मियों को किया निलंबित
नेफोमा की एनपीसीएल के साथ बैठक, मल्टीपॉइंट कनेक्शन की मांग
ग्रेटर नोएडा : रिटायर अधिकारी को लिफ्ट देने कर बहाने लूटा
फर्नीचर की कंपनी में लगी भीषण आग 
गौतमबुद्ध नगर : चार थाना-कोतवाली प्रभारियों में फेरबदल
एकादशी के पावन पर्व पर पिलाया शरबत
वाराणसी : बेटी होने पे नही लेती कोई चार्ज, मोदी भी है इनके फैन, डॉक्टर शिप्रा धर
लखीमपुर खीरी मामला: आशीष मिश्र समेत तीन की जमानत पर टला फैसला, अब तीन नवंबर को होगी सुनवाई
समसारा विद्यालय में ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से विश्व पृथ्वी दिवस मनाया गया