Uphaar Fire Tragedy Case: कोर्ट ने अंसल बंधुओं पर लगाया 2.25 करोड़ का जुर्माना, सुनाई 7-7 साल की सजा

नई दिल्ली । दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने उपहार सिनेमा अग्निकांड ( Uphaar cinema fire) के मामले में सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने के लिए रियल एस्टेट कारोबारी सुशील और गोपाल अंसल को 7-7 साल की जेल की सजा सुनाई है। इसके अलावा कोर्ट ने अंसल बंधुओं पर 2.25- 2.25 करोड़ रुपये जुर्माना भी लगाया है। साल 1997 में हुए अग्निकांड में 59 लोगों की जान चली गई थी। आदेश सुनाए जाने के बाद जमानत पर छूटे दोषियों को तुरंत हिरासत में ले लिया गया। कोर्ट के आदेश पर सभी दोषियों को जेल भेजा जा रहा है।
मिली जानकारी के अनुसार, अदालत ने कोर्ट के पूर्व कर्मचारी दिनेश चंद शर्मा और दो अन्य दोषियों पीपी बत्रा और अनूप सिंह को भी सात-सात सजा की सजा सुनाई है। इसके अलावा तीनों दोषियों पर तीन-तीन लाख रुपये जुर्माने की सजा भी सुनाई है।

बता दें कि 13 जून, 1997 को हिंदी फिल्म ‘बॉर्डर’ की स्क्रीनिंग के दौरान उपहार सिनेमा में आग लग गई थी, जिसमें 59 लोगों की जान चली गई थी। जबकि 100 से अधिक लोग झुलस गए थे। इस मामले में कोर्ट ने अंसल बंधुओं को दोषी ठहराया था।

22 जुलाई 1997 को दिल्ली पुलिस ने उपहार सिनेमा के मालिक सुशील अंसल को मुंबई से गिरफ्तार किया। 24 जुलाई 1997 को मामले की जांच सीबीआइ को सौंपी गई। सीबीआइ ने 15 नवंबर 1997 को सुशील अंसल और गोपाल अंसल समेत 16 आरोपितों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। सेशन कोर्ट में 10 मार्च 1999 में केस का ट्रायल शुरू हुआ। 27 फरवरी 2001 को कोर्ट ने सभी आरोपितों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या और लापरवाही समेत अन्य में आरोप तय किए।

यह भी देखे:-

महिलाओं व बच्चों पर बढ़ते अपराध पर जताई चिंता
HANDICRAFTS FRATERNITY WELCOMES PRIME MINISTER’S BUMPER PACKAGE  
दादरी पुलिस ने किया चार शातिर लुटेरे को गिरफ्तार
जलभराव की समस्या के खिलाफ करप्शन फ्री इंडिया संगठन का ग्रेनो प्राधिकरण पर हल्ला बोल प्रदर्शन
रेस्टोरेंट एवं होटल को होगा प्लास्टिक प्रतिबंध से सबसे बड़ी समस्या
गौतमबुद्ध नगर पंचायत चुनाव : आज इन लोगों ने किया नामांकन, देखें पूरी रिपोर्ट 
समाजसेवी रंजन तोमर को मिला संयुक्त राष्ट्र - करमवीर सम्मान
होर्डिंग लगाते समय बिजली से टकराया युवक की मौत
कोरोना संकट, पीएम मोदी हालात की समीक्षा के लिए कल करेंगे ताबड़तोड़ बैठकें, रद किया बंगाल का दौरा
प्राधिकरण की दमनकारी नीतियों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन मैदान में
देश के प्रति मन में रखे पवित्र जज्बा : रेणु चतुर्वेदी
श्रम कल्याण परिषद की हुई बैठक सीटू नेताओं ने बैठक में लिया हिस्सा- गंगेश्वर दत्त शर्मा
एनटीपीसी दादरी को सेफ्टी इन्नोवेशन पुरस्कार-2020 मिला
Petrol और Diesel के दाम एक बार फिर बढ़े, नई ऊंचाई पर पहुंचे
ग्रेटर नोएडा : नवमी पर मां दुर्गा के दर्शनों को काली बाड़ी उमड़े श्रद्धालु, माँ सिद्धदात्री की हुई पू...
सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना संबंधी स्थिति को नेशनल इमरजेंसी बताया, आज होगी सुनवाई