Chhath Puja 2021: बिहार में शुरू हुआ छठ का चार दिवसीय महापर्व

Chhath Puja Begins in Bihar: बिहार के तमाम हिस्‍सों में लोक आस्था का महापर्व छठ सोमवार को नहाय-खाय से आरंभ हो गया। व्रती नहाय-खाय के दिन गंगा स्नान करने के बाद प्रसाद स्वरूप अरवा चावल, चना की दाल, कद्दू की सब्जी, आंवले की चटनी आदि ग्रहण कर चार दिवसीय पर्व का अनुष्ठान शुरू करेंगी। इसके लिए आज भोर से ही पटना के गंगा घाटों पर व्रतियों की भीड़ उमड़ पड़ी। ऐसा ही नजारा राज्‍य की तमाम नदियों और जलस्रोतों के किनारे दिखा। इस बार महापर्व पर ग्रह-गोचरों का शुभ संयोग बना है।

मंगलवार को खरना का प्रसाद खीर ग्रहण करेंगे व्रती

सोमवार को नहाय-खाय के बाद कार्तिक शुक्ल की पंचमी मंगलवार को व्रती पूर्वाषाढ़ नक्षत्र व रवियोग में खरना का प्रसाद खीर, रोटी ग्रहण करने के बाद 36 घंटे का निर्जला व्रत रखेंगी। बुधवार 10 नवंबर को सूर्योपासना के तीसरे दिन छठ व्रती डूबते सूर्य को अघ्र्य देंगी। डूबते सूर्य को अघ्र्य देने से मानसिक शांति, उन्नति और प्रगति होती है। वहीं, गुरुवार को छठ व्रती उगते सूर्य को अघ्र्य देने के साथ महापर्व का समापन करेंगी।

यह भी देखे:-

बीमार सफाई कर्मियों के इलाज की मांग
सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य कामना के लिए कार्यकर्ताओं ने किया हवन व महामृत्युंजय का जा...
सिंगल यूज प्लास्टिक को रोकने में सभी की सहभागिता जरूरी:  डीजीएम
UP BEd JEE 2021: उत्तर प्रदेश बीएड प्रवेश परीक्षा स्थगित, कोविड-19 को देखते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय न...
देखें VIDEO, आर्षायण ट्रस्ट ने मनाया मकर संक्रांति उत्सव , 15 कुण्डीय यज्ञ में लोगों ने दी आहुति
GBU की प्रोफेसर डॉ. संध्या तरार यंग रिसर्चर अवार्ड हुई सम्मानित बेस्ट
ज़िन्दगी हार रही है मौत जीत रही है, जिम्मेदार कौन सिस्टम या समाज
किडनी ट्रांसप्लांटेशन के नाम पर धोखाधड़ी करने वाला डॉक्टर गिरफ्तार, उसके साथी की है तलाश
मुख्यमंत्री योगी का हमला : पहले नौकरी निकलती थी तो एक खानदान करता था वसूली
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल, एक और कोरोना मरीज ने दम  तोडा 
निखिल बने परिषदीय खेल कूद प्रतियोगिता के चैंपियन
किसानों की आड में, अपने राजनैतिक स्वार्थ और नेतागिरी चमकाने में लगे हुये हैं लोग : धीरेन्द्र सिंह
जीएल बजाज में पीजीडीएम बैच 2021-23 के छात्रों के लिए "ई-सेल का परिचय" का आयोजन
समाजवादी पार्टी ने की बैठक
कोरोना की तीसरी लहर आएगी, लेकिन कितनी घातक होगी, कहना मुश्किल  -चंडीगढ़ पीजीआई
वाराणसी: सावन में भक्त मंदिर चौक से करेंगे मां गंगा का दर्शन, श्री काशी विश्वनाथ धाम की हुई समीक्षा ...