WHO बोला- 53 देशों में कोरोना वायरस की नई लहर का खतरा, यूरोप कोरोना महामारी का केंद्र

जिनेवा, एपी। कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ है। वैक्सीन के बावजूद भी यूरोप कोरोना महामारी का केंद्र बना हुआ है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के शीर्ष अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि यूरोप में पिछले महीने कोरोना वायरस के मामलों में 50 फीसदी से अधिक की बढ़ोतरी हुई है, जिससे टीकों की पर्याप्त आपूर्ति के बावजूद यह महामारी का केंद्र बना हुआ। विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से कहा गया कि यूरोप और मध्य एशिया के 53 देश आने वाले हफ्तों में कोरोना वायरस महामारी के पुनरुत्थान के ‘वास्तविक खतरे’ का सामना कर सकते हैं, जो पहले से ही संक्रमण की एक नई लहर से जूझ रहे हैं। संगठन ने इन देशों में कोरोना वायरस की एक और लहर के खतरे का अंदेशा जताया है।

वहीं WHO के 53 देशों के यूरोप क्षेत्र के निदेशक डॉ. हंस क्लूज ने कहा कि कोरोना मामलों की संख्या फिर से करीब-करीब रिकार्ड स्तर तक बढ़ने लगी है और क्षेत्र में संक्रमण की रफ्तार गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने डेनमार्क के कोपनहेगन में संगठन के यूरोप मुख्यालय में पत्रकारों से कहा कि हम महामारी के उभार को लेकर एक अहम मोड़ पर खड़े हैं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने वाले उपायों और कुछ क्षेत्रों में टीकाकरण की कम दर के कारण मामले बढ़ रहे हैं। पिछले एक हफ्ते में 53 देशों में कोरोना के चलते लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की दर दोगुनी से ज्यादा बढ़ी है और अगर यह स्थिति जारी रहती है तो क्षेत्र में फरवरी तक पांच लाख और लोगों की महामारी के कारण मौत हो सकती है।

यह भी देखे:-

8 अप्रैल का इतिहास: आज के दिन ही हुई थी मंगल पांडे को फांसी,
आतंकवादी और चरमपंथी शब्दों का ना करें इस्तेमाल -तहरीक-ए-तालिबान, पत्रकारों को दी चेतावनी
जमालपुर कांड के बाद दनकौर पुलिस हुई सतर्क, लोगों से की अपराधिक घटनाओं की तुरंत जानकारी देने की अपील
पूर्व कृषि मंत्री ने किसानों को किया जागरूक
वेव इन्फ्राटेक ने खुद को दिवालिया घोषित करने की एनसीएलटी में दी अर्जी
कोविड-19 महामारी के दौरान  एनटीपीसी दादरी प्रबंधन का सराहनीय सहयोग 
अपने आपको कविता में ढालना स्वयं का मंथन
कार ने बाइक सवार तीन युवकों को मारी टक्कर, एक की मौत
एक्टिव सिटीज़न टीम के सदस्यों ने आज फूल डे को मनाया कूल डे
भाजपा बिसरख मंडल का जनसंपर्क अभियान शुरू
शारदा यूनिवर्सिटी में एनपीसी नवोन्मेष बिजनेस-2018 का आयोजन
सुपरटेक खरिदारों ने किया हगांमा, जानिए क्यों
उत्तराखंड: 'फटी जींस' के बाद अब सामने आया सीएम तीरथ का 'शॉर्ट्स' को लेकर बयान, खूब हो रही आलोचना
राज्य जीएसटी विभाग ने लगाया व्यापारी जागरूकता कैंप
राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान को मान्यता मिली, अब होगी एमबीबीएस की पढ़ाई
गौतमबुद्ध नगर में आज कोरोना का हाल जानिए