अग्नि-5 मिसाइल से क्यों चिंतित हुआ चीन , भारत की मिसाइलों में कितना है दम

नई दिल्‍ल। नई दिल्‍ली और बीजिंग के बढ़ते तनाव के बीच भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण करके अपनी क्षमता से सबको चौंका दिया है। भारत की अग्नि-5 मिसाइल से आखिर क्‍यों चिंतित हुआ चीन

चीन की चिंता की बड़ी वजह

1- दरअसल, भारतीय इंटरकान्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) अग्नि-5 अपनी मारक क्षमता के कारण चीन के लिए चिंता का सबब है। अभी तक भारतीय मिसाइलों की जद से चीन के प्रमुख शहर शामिल नहीं थे। अग्नि-5 मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद अब इसकी पहुंच चीन के प्रमुख शहरों तक है। इसकी मारक क्षमता 5000 किलोमीटर है। खासकर चीन के प्रमुख औद्योगिक शहरों को यह जलाकर राख कर सकती है। यह मिसाइल परमाणु बम गिराने में सक्षम है। इसका निशाना अचूक है। यह अपने लक्ष्‍य को भेदने में बेहद कारगर है। उधर, चीन का कहना है कि अग्नि-5 की मारक क्षमता आठ हजार किलोमीटर तक है। चीन का कहना है कि इस मिसाइल की जद में पूरे एशिया और यूरोप के 70 फीसद हिस्‍से है।

2- यह 29,401 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से अपने लक्ष्‍य को भेदने में सक्षम है। अग्नि-5 मिसाइल 1500 किलोग्राम तक के परमाणु हथियार अपने साथ ले जा सकती है। दुश्मन के किसी भी शहर को यह देखते ही देखते नेस्तनाबूद कर सकती है। इसका वजन करीब 50 हजार किग्रा है। मिसाइल 1.75 मीटर लंबी है। इसका व्यास 2 मीटर है। यह अपने साथ 1.5 टन वारहेड ले जाने में समर्थ है। यह मिसाइल भारत की सतह से सतह पर मार करने वाली सबसे घातक मिसाइल है। इसे डीआरडीओ और भारत डायनेमिक्स लिमिटेड ने तैयार किया है। एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से भारत ने इसका सफल परीक्षण किया। डीआरडीओ अग्नि के अलग-अलग वैरियंट को महाविनाशक बनाने की तैयारी में जुटा है।

अग्नि मिसाइलों की रेंज

मिसाइल – रेंज – परीक्षण

अग्नि-1 – 700 – 22 मई, 1989

अग्नि-2 – 2000 – 11 अप्रैल, 1999

अग्नि-3 – 3000 – 09 जुलाई, 2006

अग्नि-4 – 4000 – 10 दिसंबर, 2010

अग्नि-5 – 5000 – 19 अप्रैल, 2012

यह भी देखे:-

"आवर लाइफ एक्सपीरिएन्सेस" विषय पर जीएल बजाज संस्थान में हुई पैनल चर्चा
IPL 2021 MI vs RCB Match LIVE: मुंबई की बल्लेबाजी शुरू, रोहित और लिन क्रीज पर
जानिए दोपहर 1:00 बजे तक जिला गौतम बुध नगर में चुनाव प्रतिशत क्या रहा
मातम में बदला नई कार का जश्न
एम्स के प्रमुख रणदीप गुलेरिया बोले, बच्चों की वैक्सीन आने से साफ होगा स्कूल खुलने का रास्ता
पैरा ओलंपिक खेल में सिल्वर मेडल जीतने पर जिलाधिकारी को संगठन के कार्यकर्ताओं ने फूलों का गुलदस्ता भे...
ग्रेटर नोएडा के BJP ओबीसी मोर्चा ने मनाया पीएम मोदी का जन्मदिन, दीर्घायु के लिए किया हवन पूजन
एनटीपीसी दादरी में गांधी जयंती के अवसर पर स्वच्छता का संदेश
कोरोना संक्रमित परिवारों को भोजन उपलब्ध करा रहा आई आईएमटी  कॉलेज
गौरव चंदेल हत्यकांड में पुलिस के हाथ लगा पहला सुराग
आईजीआई एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी, शौचालय से मिली पर्ची से हड़कंप
हक के लिए मजदूरों ने भरी हुंकार सीटू के आहावान पर सड़कों पर उतरे मजदूर जगह-जगह जलूस निकाल कर किये विर...
प्राथमिक विद्यालय चचूरा में शिक्षक संकुल मासिक बैठक का हुआ आयोजन
ग्रेनो प्राधिकरण के सीईओ से मिले कर्टनी वॉल्स
जो नदियों का पानी पाकिस्तान जाता था, प्रोजेक्‍ट बनाकर उनको यमुना में लाएंगे: नितिन गडकरी
राष्ट्र के युवाओं का दायित्व है 2047 तक विकसित भारत का निर्माण: श्रीचंद शर्मा'