श्री सनातन धर्म रामलीला मंचन :  श्रीराम ने अग्नि बाण से किया रावण का दहन

नोएडा स्टेडियम में श्री सनातन धर्म रामलीला समिति द्वारा नो दिन से चल रही रामलीला  का रावण दहन के साथ समापन हुआ .  रावण दहन के दौरान मेले में हजारों की संख्या में लोग पहुँचे वही पूर्व केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा व नोएडा विधायक पंकज सिंह ने कहा कि विजय दशमी का  पर्व हमें बुराई पर अच्छाई की जीत का सन्देश देता है।   सत्य ही सर्वोपरि है।

श्री सनातन धर्म रामलीला  समिति द्वारा रामलीला मैदान, नोएडा स्टेडियम में आयोजित रामलीला मंचन के नवें दिन रामलीला मंचन का शुभारम्भ हुआ मुख्य अतिथि सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा, विधायक एवं उपाध्यक्ष यूपी भाजपा नोएडा पंकज सिंह एवं पुलिस उपायुक्त राजेश एस.  द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया।  मंच के संचालक  व उनके सहयोगियों द्वारा सभी अतिथियों व उपस्थित जनों का स्वागत किया गया.
इसके बाद रामलीला का मंचन शुरू किया गया।   प्रथम दृश्य में रावण के कहने पर अहिरावण ने युद्ध से पहले युद्ध शिविर में उतरकर राम और लक्ष्मण का अपहरण कर लिया। वह दोनों को पाताल लोक ले गया और एक गुप्त स्थान पर बंधक बनाकर रख लिया। राम और लक्ष्मण के अपहरण से वानर सेना भयभीत व शोकाकुल हो गई, लेकिन विभीषण ने यह भेद हनुमान के समक्ष प्रकट कर दिया कि कौन अपहरण करके ले जा सकता है। तब हनुमानजी वेग की गति से पाताल पुरी पहुंच गए। हनुमान ने अहिरावण का वध कर प्रभु श्री राम और लक्ष्मण को मुक्त कराया । भाई की मृत्यु का समाचार सुन रावण शोकाकुल हो जाता है। वह क्रोधित होकर युद्ध स्थल पहुंचता है और भगवान राम को युद्ध की चुनौती देता है। भगवान राम ने कहा कि रावण तुमने जो पाप किया है, उसकी पाप अग्नि में तुम जलकर राख हो जाओगे। अभी भी समय है, यदि तुम मेरी शरण में आ जाओ तो मैं तुम्हें सभी पापों से मुक्त कर दूंगा। रावण ने कहा कि यह समय प्रवचन देने का नहीं बल्कि युद्ध करने का है। वीरों की भांति युद्ध करो। प्रभु राम ने कहा कि रावण जब मनुष्य के सर्वनाश का समय निकट आ जाता है तो उसे धर्म व आचरण की बातें मिथ्या लगती हैं। यदि तुम युद्ध चाहते हो तो यही होगा। श्री राम व रावण के बीच युद्ध का शुभारंभ होता है। रावण तमाम छल बल का सहारा लेता है। अचानक विभीषण भगवान श्री राम के कान में कुछ कहते हैं तो रावण के चेहरे पर शिकन आ जाती है। इसके बावजूद वह युद्ध भूमि में डटा रहता है। भगवान श्री राम ब्रह्मास्त्र का आह्वान कर राक्षसराज रावण की नाभि को लक्ष्य बना बाण छोड़ते हैं और बाण रावण की नाभि में स्थित कुंड को तहस-नहस कर देता है। इसके बाद रावण के मुख से भी भगवान श्री राम का उदबोधन होता है। इसके साथ श्री रामलीला के मंच से दर्शकों में जयश्री राम के जयकारे लगने शुरू हो जाते हैं। तत्पश्चात मुख्य अतिथि सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री  महेश शर्मा ने रामलीला स्थल पर उपस्थित दर्शकों एवं श्री सनातन धर्म रामलीला समिति  के रामलीला मंचन के आयोजकों को  विजयदशमी की बधाई दी ।उन्होंने कहा कि विजयदशमी असत्य पर सत्य की विजय की जीत का प्रतीक है। हमें मर्यादा पुरुषोत्तम राम के जीवन से सीख लेनी चाहिए। समिति के अध्यक्ष संजय  बाली ने बताया कि रविवार सोलह अक्टूबर को भरत मिलाप,श्री राम राजतिलक, उत्सव की लीला का मंचन किया जायेगा।

यह भी देखे:-

भक्ति संगीत नृत्य प्रतियोगिता में इन स्कूलों के बच्चों ने मारी बाज़ी , पढ़ें पूरी खबर
29 सितम्बर से साईट -4 ग्रेटर नोएडा में विजय महोत्सव शुभारम्भ, पहली बार भरत मिलाप और श्री राम राज्यभि...
रामलीला मैदान की साफ़ सफाई के साथ श्री धार्मिक रामलीला कमेटी ने शुरू की तैयारी
श्री धार्मिक रामलीला मंचन : राम ने तोड़ा शिव धनुष, परशुराम हुए नाराज, लक्ष्मण-परशुराम संवाद देख दर्श...
श्री रामलीला कमेटी साईट - 4 ने किया भूमि पूजन, इस बार रामलीला मंचन में क्या रहेगा विशेष , पढ़ें पूरी ...
ग्रेटर नोएडा में श्री धार्मिक रामलीला कमेटी का भूमि पूजन 9 सितम्बर को
श्री धार्मिक रामलीला कमेटी ने किया भूमि पूजन, 7 अक्टूबर से दशहरा महोत्सव रामलीला मंचन का होगा आगाज़
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में जन्मे राम , अयोध्या में दौड़ी ख़ुशी की लहर
आदर्श रामलीला मंचन सूरजपुर : परशुराम लक्ष्मण संवाद देख दर्शक हुए रोमांचित
आदर्श रामलीला सूरजपुर में सजा रावण का दरबार
भक्ति संगीत नृत्य प्रतियोगिता के साथ आज शाम विजय महोत्सव का होगा आगाज
श्रीराम मित्र मंडल रामलीला : दूल्हा बने प्रभु श्री राम, लोगों ने की पुष्पवर्षा
श्री धार्मिक रामलीला पाई 1: रावण ने छल से किया सीता का हरण, देख जटायु ने किया रावण पर प्रहार
श्री रामलीला कमेटी रामलीला : गणेश पूजन के साथ रामलीला मंचन का आगाज
श्रीराम मित्र मंडल रामलीला : शिव धनुष तोड़ सिया के हुए राम
नारद मोह प्रसंग के साथ शुरू हुआ आदर्श रामलीला सूरजपुर का मंचन