वायु प्रदूषण रोकने के लिए ऐक्शन में आया ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, आठ जोन में बांटकर प्रदूषण रोकने का खाका तैयार किया

ग्रेटर नोएडा। सर्दियों में वायु प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटते हुए जोनल अधिकारी तैनात कर दिए हैं। ऐक्शन प्लान को प्रभावी ढंग से लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। इसी विषय पर जानकारी देने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ऑडिटोरियम में सोमवार को कार्यशाला भी आयोजित हुई, जिसमें ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ के अलावा कॉन्ट्रैक्टर व यूपीपीसीबी के अधिकारी शामिल हुए। यह कार्यशाला नोडल अधिकारी केआर वर्मा की तरफ से आयोजित की गई है
कार्यशाला में शामिल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने बताया कि एनजीटी के नियमों का अक्षरशः पालन कराने के लिए प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटा गया है। हर जोन का एक जोनल अधिकारी नियुक्त किया गया है। सभी आठ जोन से तालमेल बनाने व वायु प्रदूषण रोकने के नियमों को लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि 20 हजार वर्ग मीटर से बड़े निर्माण साइटों पर एंटी स्मॉग गन शीघ्र लगाए जाएंगे। धूल को रोकने के लिए पानी के छिड़काव किया जाएगा। अतिरिक्त टैंकर के इंतजाम क लिए गए हैं। महाप्रबंधक ने बताया कि सभी जोनल अधिकारी एक्शन रिपोर्ट नियमित रूप से नोडल अधिकारी को भेंजेगे। नोडल अधिकारी रिपोर्ट को सीनियर अफसरों को उपलब्ध कराएंगे। जोनल अधिकारी सभी निर्माण साइटों पर नजर रखेंगे और एनजीटी से सभी तय नियमों का पालन कराएंगे। उन्होंने कहा कि अगर कहीं ट्रैफिक जाम लग रहा हो तो उसकी सूचना यातायात पुलिस को शीघ्र दें। अगर कोई एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करता है तो उस पर तगड़ा जुर्माना भी लगाने का प्रावधान है। कार्यशाला में मौजूद उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के ग्रेटर नोएडा के क्षेत्रीय अधिकारी भुवन यादव ने ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ को बताया कि अगर कहीं कूड़ा दिखे तो उसे तत्काल उठा लें, ताकि उसे जलाया न जाए। किसी सड़क पर धूल दिखे तो सिर्फ पानी का छिड़काव ही नहीं, बल्कि धूल को तत्काल उठा लें। कार्यशाला में डीजीएम प्रोजेक्ट केआर वर्मा, आरके ओझा समेत प्रोजेक्ट के सभी अधिकारी व कॉन्ट्रैक्टर , जनस्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी, सैनिटरी इंस्पेक्टर व कॉन्ट्रैक्टर मौजूद रहे।
—————————–
कंट्रोल रूम को दें जानकारी
——————————-
वायु प्रदूषण रोकने के लिए नोडल अफसर नियुक्त केआर वर्मा ने बताया कि वायु प्रदूषण रोकने के लिए कंट्रोल रूम का गठन किया गया है। ग्रेटर नोएडा के निवासी कहीं पर भी वायु प्रदूषण दिखे तो इस कंट्रोल रूम पर कॉल कर सूचना सकते हैं। यह नंबर 0120-2336046, 47, 48 व 49 है। इसके अलावा व्हाट्स एप नंबर पर मैसेज दे सकते हैं। मसलन कूड़े में आग लगा हो या फिर कहीं धूल उड़ रहा हो तो व्हाट्स नंबर 8800882124 पर मैसेज, लोकेशन व फोटो डाल दें। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की टीम तत्काल कार्रवाई करेगी।

यह भी देखे:-

LIVE IND vs ENG, 4th Test Day-3: आर अश्विन और अक्षर पटेल की जोड़ी का कमाल, पारी और 25 रन से भारत ने ...
गौतम बुद्ध नगर कोरोना अपडेट, जानिए
श्री धार्मिक रामलीला ग्रेटर नोएडा , इंडोनेशिया के तर्ज पर होगा मात्र तीन घंटे में सम्पूर्ण रामलीला...
नोएडा: 8वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस  के मौके पर  बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा नोएडा वासियों...
प्रधानमंत्री बने तो क्या करेंगे, राहुल गांधी ने बताया अपना मास्टरप्लान
कोरोना संकट : जेवर विधयक धीरेन्द्र सिंह ने सीएम कोविड केयर फण्ड में दिया दान, कहा मदद के लिए आगे आएं
भारतीय प्रदर्शनी उद्योग संघ ने इंडियन हैंडीक्राफ्ट्स एंड गिफ्ट फेयर को देश का अग्रणी व्यापारिक शो घो...
पांचवी मंजिल से गिरी 90  वर्षीया महिला मौत 
सरदार पटेल विद्यालय ने अपने स्थापना दिवस पर दिया पृथ्वी को बचाने का संदेश
थर्मोकोल फ़ैक्टरी में लगी भीषण आग
टीकाकरण की तेज रफ्तार, सिर्फ 19 दिन में लगाई गई 10 करोड़ डोज: स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री
पटना में लगे नीतीश के पोस्टर, लिखा-हो गईल जय-जयकार, फिर नीतीश...
यूपी में कब दूर होगा ऑक्‍सीजन का संकट? रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दी ये जानकारी
जेवर व रबूपुरा के मदरसे में हर्षोल्लास से मना स्वतंत्रता दिवस, विधायक जेवर ने देश की तरक्की के लि...
भारतीय हस्तशिल्प मेला दुनिया भर के खरीदारों को अपनी ओर कर रहा है आकर्षित
"GACS का एक और मंथन कार्यक्रम " 15 फ़रवरी को