न वकीलों से मिलने दिया जा रहा और न दिखाई जा रही FIR की कापी- प्रियंका गांधी

नई दिल्ली, पीटीआइ। कांग्रेस महासचिव ने मंगलवार को आरोप लगाया कि 38 घंटे तक हिरासत में रखने के बाद भी उन्हें कोई नोटिस या एफआइआर नहीं दी गई है। प्रियंका ने कहा कि उन्हें अब तक किसी मजिस्ट्रेट या न्यायिक अधिकारी के समक्ष पेश तक नहीं किया गया है और न ही उन्हें अपने वकील से मिलने दिया गया है, जो की सुबह से ही परिसर के गेट पर खड़े हैं। बता दें कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका सोमवार सुबह से सीतापुर में द्वितीय वाहिनी पीएसी के गेस्ट हाउस में हैं। वह लखीमपुर खीरी जाने पर अड़ी हैं, लेकिन वहां धारा 144 लागू होने की वजह से यह अनुमति नहीं मिल पा रही है।

मंगलवार देर शाम प्रियंका ने कहा कि पीएसी परिसर लाए जाने के 38 घंटे बाद मंगलवार शाम 6.30 बजे तक पुलिस, प्रशासन या सरकार ने यह नहीं बताया कि उन्हें किन कारणों से और किन धाराओं में हिरासत में लिया गया है। 11 पाबंद लोगों में प्रशासन ने प्रियंका के साथ उन दो लोगों को भी नामजद कर दिया, जो लखनऊ से सिर्फ कपड़े देने आए थे। प्रियंका का कहना है कि मुझे सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह ने धारा 151 के तहत गिरफ्तार होने की मौखिक जानकारी दी थी।

यह भी देखे:-

कश्मीर में सुरक्षा परिदृश्य की समीक्षा करने श्रीनगर पहुंचे अमित शाह
जानिए 1 अप्रैल से बदलेंगे किन-किन बैंक शाखाओं के नाम
एक्टिव सिटीजन टीम की गांधीगिरी का असर, पोस्टर चिपकाने वाले अब मिलकर करेंगे शहर साफ़
IPL 2021, DC vs MI: दिल्ली से हार के बाद रोहित शर्मा को लगा एक और झटका, इस वजह से लगा 12 लाख का जुर्...
हमें शहरी विकास कार्यक्रमों में स्थानीय युवाओं को रोजगार देना चाहिए: सीएम योगी आदित्यनाथ
नन्हक फाउंडेशन द्वारा संचालित बिगिनिंग मिशन एजुकेशन सेंटर ने मनाया गणतंत्र दिवस
Weather Forecast: दिल्ली-एनसीआर सहित इन क्षेत्रों में छाया बादल, कुछ ही देर में होगी बारिश, जानें- अ...
दयाशंकर गुप्ता को महिला उन्नति संस्था का महाराष्ट्र अध्यक्ष बनाया
जनपद स्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन
धारा 144 के बावजूद  खुलेआम उड़ी नियमों  की धज्जियां, हुई हर्ष फायरिंग
कोरोना महामारी के बीच अपने बच्चों को स्कूल भेजते समय इन बातों का जरूर रखें ध्यान
पड़ोसी ने लूटवाया था 100 मोबाईल फ़ोन, पहुंचा हवालात
ओएसएम ने  आईओटी इंटीग्रेटेड फोर डोर कॉस्मिक रूफ इलेक्ट्रिक पैसेंजर व्हीकल म्यूज और इंडस्ट्री का पहला...
समाज सेवी रश्मि पाण्डेय को किया गया सम्मानित
डिजिटल इंडिया के छह वर्ष, प्रधानमंत्री मोदी अभियान के लाभार्थियों से कल करेंगे बातचीत
21 साल बाद मिला न्याय , आजीवन कारावास की सजा सुनते ही रो पड़ा हत्यारोपी