टाटा को मिलेगा एयर इंडिया?: अमित शाह की अध्यक्षता में भविष्य पर फैसला, इसी हफ्ते हो सकती है बैठक

घाटे में चल रही सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया की कमान इस सप्ताह उसके नए मालिक को सौंप दी जाएगी। नए मालिक का फैसला इस सप्ताह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में मंत्रियों के पैनल में किया जाएगा। संभव है कि एक सप्ताह बाद एयर इंडिया की घर वापसी हो और सरकार टाटा ग्रुप को दोबारा एयर इंडिया की कमान सौंप दे।

दअरसल, टाटा ग्रुप एयर इंडिया की बोली में सबसे आगे चल रहा है। इस दौड़ में स्पाइस जेट के प्रमोटर अजय सिंह भी शामिल हैं। हालांकि, अंतिम निर्णय एक सप्ताह बाद ही होना है।

रिजर्व प्राइस से करीब 3,000 करोड़ रुपये ज्यादा है टाटा की बोली
एक रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा ग्रुप की बोली सरकार द्वारा तय किए गए रिजर्व प्राइस से करीब 3,000 करोड़ रुपये ज्यादा है। टाटा की बोली स्पाइसजेट के चेयरमैन अजय सिंह द्वारा लगाई गई बोली से लगभग 5,000 करोड़ रुपये अधिक है।

 

यह भी देखे:-

भारत ने लद्दाख में तैनात किया K-9 वज्र, एलएसी पर बढ़ेंगी मारक क्षमता
जमीन कब्जा लेने गई प्रशासन की टीम पर हमला, पढ़ें पूरी खबर
बिसहड़ा : पूर्व प्रधान के बेटे की गोली लगने से मौत , इखलाक काण्ड से कोई सम्बन्ध नहीं - गौतमबुद्ध नगर ...
एक सितम्बर को सम्राट महिर भोज जयंती पर मनाया जाएगा इंटरनेशनल गुर्जर डे
बिकरू कांड : UPSTF को मिली बड़ी कामयाबी, विकास दुबे को पनाह देने वाले गिरफ्तार
गौतमबुद्धनगर ; वांटेड गैंगस्टर को थाना नाॅलेज पार्क पुलिस ने दबोचा
नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जी की 125वीं जयंती पर वाद-प्रतियोगिता का आयोजन
कोरोना टीकाकरण: आयु सीमा हटाने के लिए तैयार नहीं है मोदी सरकार, जानिए क्या है वजह
निकाय चुनाव में कानून तोड़ने वालों को बख्शा नहीं जायेगा - डीएम बी.एन सिंह , ड्रोन कैमरे से होगी मतदा...
एसपी शर्मा बने आईआईए ग्रेनो चैप्टर के चेयरमैन 
आईएएस की तैयारी छोड़ बेचने लगा चाय, आज 100 करोड़ का है मालिक, जानें इस शख्स की दिलचस्प कहानी
सूरजपुर में प्राचीनकालीन ऐतिहासिक बाराही मेला-2022 धूम धाम से शुरू-
भारत-बांग्लादेश जिंदाबाद... PM नरेंद्र मोदी के स्वागत में सजीं ढाका की सड़कें
₹349 में पाएं हर दिन 3GB डेटा, अनलिमिटेड कॉल और कई फ्री ऑफर्स
आईटीएस डेन्टल में एमडीएस के विद्यार्थियों का नया सत्र हुआ प्रारम्भ
Tokyo Olympics के सिल्वर मेडलिस्ट रवि कुमार दहिया को क्यों कहा जाता है शांत तूफान, जानिए