‘आपने शहर का गला घोंट रखा है, क्या लोग बिजनेस बंद कर दें’,- सुप्रीम कोर्ट , किसान महापंचायत को लगाई फटकार

नई दिल्ली, एएनआइ। सुप्रीम कोर्ट में किसान महापंचायत की तरफ से जंतर-मंतर पर सत्याग्रह की अनुमति मांगी गई है। शुक्रवार को कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए तल्ख टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा कि आप पहले ही शहर का गला घोंट चुके हैं और अब आप शहर के अंदर आना चाहते हैं।

कोर्ट ने किसान महापंचायत से कहा, अगर आप कोर्ट आए हैं तो प्रोटेस्ट का क्या मतलब है। जब किसानों के वकील की तरफ से कहा गया कि हाईवे उन्होंने बंद नहीं किया है, पुलिस ने बंद किया है, तो इस पर कोर्ट ने उनसे हलफनामा दायर करने को कहा कि वे राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध करने वाले किसानों के विरोध का हिस्सा नहीं हैं। अब मामले की अगली सुनवाई सोमवार को होगी।

यह भी देखे:-

रोटरी क्लब ने बाँटी कॉपी व स्टेशनरी
विश्व महिला दिवस पर ग्रेनोवेस्ट में महिलाओं को जागरूक व आत्मनिर्भर बनाने के लिए हुआ प्रोग्राम ।
स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का विकास, ग्रामीण प्रतिभाओं को निखारने की जरूरत - अजीत सिंह दौला
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण  की  जनसुनवाई में 23 शिकायतें दर्ज, छह निपटीं
मेट्रो में बढ़ने वाले हैं कोच : मिलेगा अधिक यात्रियों को सफर का मौका
कोरोना का नया वेरिएंट देता है गंभीर बीमारी, मगर Covaxin कर सकती है इसका काम तमाम
यूपी : एक दर्जन से ज्यादा स्थानों पर लग रहे ऑक्सीजन प्लांट, जल्द दूर होगी किल्लत
DATA STORY: दुनियाभर में प्रति व्यक्ति हर साल चार पेड़ हो रहे हैं कम, भारत का यह है हाल
लखनऊ: आज आजम खान की कोर्ट में पेशी, सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश होंगे
कृषि अधिकारी की जनपद के किसानों के लिए एडवाइजरी
मुख्य न्यायाधीश को उम्‍मीद- 17 नवंबर तक तय हो जाएगा अयोध्‍या में राम मंदिर बनेगा या नहीं
अंतरिक्ष गोल्फ व्यू टू के रेसिडेंट्स का फूटा गुस्सा, नेफोवा के नेतृत्व में प्रदर्शन
गाँवो के लिए प्राधिकरण का बजट है नाकाफी - नोवरा
कोरोना का कहर: चुनावी राज्यों में रैलियों से कई गुना बढ़ा, विशेषज्ञ चिंतित
ग्रेटर नोएडा में हुआ ऐसा हादसा जिससे मानवता हुई शर्मसार
डंपिंग ग्राउंड के विरोध में धरना स्थल पर किया गया यज्ञ हवन