पिता की प्रेरणा से ही मैं अधिवक्ता बना

पिता की प्रेरणा से ही मैं अधिवक्ता बना
बिलासपुर(खालिद सैफी):जिला सत्र एव न्यायालय सूरजपुर में अधिवक्ता ब्रजेश शास्त्री ने बताया कि कुछ अच्छा करने की मन में इच्छा हो तो हमें उसी तरह के लाेग मिलते चले जाते हैं । ऐसा मैंने खुद अनुभव किया है । गरीब और जरूरतमंद लोगों की मदद करने से जो खुशी मुझे मिलती है । उसकी न तो मैं व्याख्या करना चाहता हूं और न ही वर्णन क्योंकि ये अनुभूति आपको खुद से प्राप्त करनी चाहिए । अधिवक्ता ब्रजेश शास्त्री ने बताया कि मेरे पिता गौतम सिंह अधिवक्ता जरूरतमंद लोगों की मदद करते थे । ये बात मुझे बहुत ही आकर्षित करती थी और जब से मैंने न्यायालय में काम करना शुरू किया है । तब से मुझे गरीबों व मजलुमो की मदद करने की आदत से पड़ गई है । पिताजी की प्रेरणा से ही में  अधिवक्ता बना ओर समाजसेवा की प्रेरणा उन्हीं से विरासत में मिली। पिताजी भी न्यायालय में 35 वर्ष तक अधिवक्ता के रुप में रहते हुए समाजसेवा की उन्हीं के राह पर चलने की पूरी कोशिश है

यह भी देखे:-

विश्व हिन्दू परिषद द्वारा सम्पन्न हुआ धर्म रक्षा निधि कार्यक्रम
फूमियो किशिदा होंगे जापान के अगले प्रधानमंत्री, वैक्सीन मंत्री तारो कोनो को मिली हार
नोएडा में आगामी 24 अगस्त को होगा रोजगार मेले का आयोजन
भव्य माता की चौकी में उमड़े हजारों श्रद्धालु
जुमे की नमाज से पहले पुलिस ने निकाला फ्लैग मार्च, किया मॉक ड्रिल
लोकेश भाटी बने समाजवादी पार्टी मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य
सीएम योगी ने ग्रेनो में बनाये गये देश के सबसे बडे़ योट्टा डाटा सेंटर का किया लोकार्पण, अब सुरक्षित ...
अवैध संबंधों के चलते दोस्त के साथ मिलकर चचेरे भाई की ईंट से पीट-पीटकर हत्या, पार्क में पड़ा मिला शव
फर्जीवाड़ा कर लापता व्यक्ति की बेच डाली जमीन , मचा हंगामा
यमुना प्राधिकरण की 71 वीं बोर्ड बैठक संपन्न, क्या फैसले लिए गए पढ़ें
लोकसभा चुनाव 2019: दनकौर व जेवर क्षेत्र के इन गाँव के प्रधानों ने किया एलान .... पढ़ें पूरी खबर
बताइए, कितनों को दिलवाई सजा, कितने केस पेंडिंग, CBI का रिपोर्ट कार्ड तैयार करेगा सुप्रीम कोर्ट
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अफसरों के ट्रांसफर
हाईकोर्ट : मनमाने तरीके से बंगलों पर कर्मचारी तैनात नहीं कर सकेंगे पुलिस अफसर
एयर इंडिया की 70 साल बाद घर वापसी, सबसे ज्यादा बोली लगाकर टाटा ग्रुप ने खरीदा: रिपोर्ट
एकादशी के पावन पर्व पर पिलाया शरबत