भारत की अफसर बिटिया, जिसने इमरान को मुंहतोड़ जवाब दिया

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच से भारत के खिलाफ जहर उगलने में कोई कसर नहीं छोड़ी, मगर हर बार की तरह इस बार भी भारत ने पाकिस्तान को कड़ी फटकार लगाई और आतंकवाद पर उसे आईना दिखा दिया। हालांकि, इस बार इमरान खान को करारा जवाब देने वालीं भारत की बेटी का नाम है स्नेहा दुबे। संयुक्त राष्ट्र में भारत की प्रथम सचिव स्नेहा दुबे ने राइट टू रिप्लाई का इस्तेमाल कर पाकिस्तान के सारे पाप गिनाए और कहा कि आंतकियों को पनाह देना और आतंकवाद का खुला समर्थन करना पाकिस्तान का इतिहास रहा है। तो चलिए जानते हैं आखिर कौन हैं स्नेहा दूबे, जिनकी चर्चा खूब हो रही है।

भारत की बेटी स्नेहा दुबे 2012 बैच की आईएफएस (भारती विदेश सेवा) अधिकारी हैं। उन्होंने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई गोवा से की है। इसके बाद उन्होंने पुणे के फर्ग्यूसन कॉलेज में अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त की और अंत में दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज से एमफिल किया।

जब से वह 12 वर्ष की थीं, तभी से वह भारतीय विदेश सेवा में शामिल होना चाहती थीं और वर्ष 2011 में अपने पहले प्रयास में ही सिविल सेवा परीक्षा पास कर गईं। घूमने-फिरने की शौकीन स्नेहा का मानना है कि आईएफएस ऑफिसर बनने से उन्हें देश का प्रतिनिधित्व करने का बेहतरीन मौका मिला है। स्नेहा अपने परिवार में सरकारी सेवाओं में शामिल होने वाली पहली हैं। उनके पिता एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करते हैं जबकि उनकी मां एक स्कूल टीचर हैं।

विदेश सेवा के लिए चुने जाने के बाद स्नेहा दुबे की पहली नियुक्ति विदेश मंत्रालय में हुई थी। फिर अगस्त 2014 में उन्हें मैड्रिड स्थित भारतीय दूतावास भेज दिया गया। स्नेहा वर्तमान में संयुक्त राष्ट्र में भारत की पहली सचिव हैं। यहां बताना जरूरी है कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे, जहां वह पाकिस्तान को आतंकवाद पर घेर सकते हैं।

यह भी देखे:-

Auto Expo – The Motor Show 2018 commences with exclusive media preview
लखनऊ : अब जमीन पर बैठकर नहीं पढ़ेंगे प्राथमिक स्कूलो के बच्चे
हिन्दू युवा वाहिनी ने दनकौर में शहीद भगत सिंह की जयंती मनाई 
जीएनआईओटी प्रबंध  संस्थान ग्रेटर नोएडा में आउटबाउंड ट्रेनिंग का आयोजन
अवैध सरिया माफिया को किया गिरफ्तार
मुठभेड़ 50 हजार के इनामी बदमाश गोली लगने से घायल
पीएम मोदी 9 सितम्बर को ग्रेटर नोएडा में, तैयारी में जुटा प्रशासन, पुलिस अलर्ट
बिलासपुर कस्बे में बूढ़े बाबा के मेले में उमड़े हजारो श्रद्धालु,सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस रही अलर्ट
किसान आंदोलन में शामिल हुए सपाई
रोटरी क्लब ने पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाव के लिये मास्क, ग्लब्स व सेनेटाइजर भेंट किये
आईएएस रानी नागर प्रकरण जन आन्दोलन संगठन ने सीएम खट्टर को लिखा पत्र
पूरी फिल्मी है धनंजय सिंह की कहानी, कभी एनकाउंटर में मार गिराने का पुलिस ने किया था दावा
ग्रेटर नोएडा शहर में बंदरों का आतंक , मुसीबत में लोगों की जान
ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब ने बाढ़ पीड़ितों के लिए बढाए हाथ
सरकार की सफाई: मजबूत रिपोर्टिंग व्यवस्था के चलते मौतों का आंकड़ा छिपाना असंभव
मेहंदी लगाने वालों हाथों ने जीता शूटिंग का खिताब