सीएम योगी ने सम्राट मिहिर भोज के प्रतिमा का किया अनावरण, कही ये ख़ास बात, पढ़े पूरी खबर

ग्रेटर नोएडा/ दादरी : आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने दादरी के मिहिर भोज पीजी कॉलेज परिसर में  सम्राट मिहिर भोज के प्रतिमा का अनावरण किया।  इस मौके  पर उन्होंने जो ख़ास बातें कही —

  •  देश में गुलामी का कारण एक ही था क्योंकि हम अलग-अलग थे। हम जाति के बंधन में बंधे थे। हम संप्रदाय के बंधन में बंधे थे। कोई भी विदेशी आक्रांता आता था, वो हमारी बहू-बेटियों के साथ छेड़छाड़ करता था.
  • 2017 से पहले कोई कांवड़ यात्रा नहीं निकलने दी जाती थी। दुर्गा पूजा का त्योहार नहीं मनाने दिया जाता था। तब कोई विदेशी आक्रमणकारी तो यहां शासन नहीं कर रहा था, लेकिन आज की स्थिति बदली है। आज सभी व्यवस्था हो रही है.
  • 2017 में हमारी सरकार बनने के तुरंत बाद अवैध बूचड़खाने को बंद करा दिया गया। बहन-बेटियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया गया.
  • राष्ट्रधर्म सबसे पहला धर्म होना चाहिए। अगर देश की सुरक्षा पर कोई आंच आई, तो हम सब सुरक्षित नहीं होंगे। इसलिए हमें राष्ट्रधर्म को सर्वोपरि रखना होगा.

ग्रेटर नोएडा (Greator NOIDA) में सम्राट मिहिर भोज (Samrat Mihir Bhoj) के वंशज होने का राजपूत और गुर्जरों के बीच बना गतिरोध लगातार जारी है. इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया. इस दौरान सीएम योगी ने दादरी विधानसभा की 12 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण किया. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे. जिन्होंने विदेशी आक्रांताओं के छक्के छुड़ा दिए थे. मैं उनको नमन करता हूं. जो कौम अपने इतिहास और परम्परा को विस्मृत कर देती है, वो अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि आप उस महान परम्परा के वारिस हैं, गर्व करिए. कौन ऐसा भारतीय है? जो पन्ना धाय के बलिदान को भुला सकता है. गर्व करिए उस परंपरा पर. उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री जी ने आज़ादी के अमृत महोत्सव को शुरू करते हुए इस बात को कहा था कि जिन महान विभूतियों को हम भूल चुके हैं. उन्हें सम्मान दिलाना होगा. बलिदानियों का बलिदान किसी जाति, क्षेत्र विशेष के लिए नहीं था. ये भारत के स्वाभिमान के लिए था. महान बलिदानियों का बलिदान देश के लिए दिया था.

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पिछले कुछ समय में आप ने अंतरराष्ट्रीय स्तर की कुछ घटनाओं को देखा होगा. अभी काबुल में आपने देखा होगा कि कैसे तालिबानियों ने कब्जा कर लिया? लोग जान बचाकर भागे. क्या स्थिति रही होगी? ये अराजकता पैदा करने वाले तत्व गुलामी की सोच पैदा करते हैं, जो मुट्ठी भर के आक्रांता यहां आते थे और शासन करते थे. हम कुछ नहीं कर पाते थे. हमें उन बलिदानों को नहीं भूलना होगा.

सीएम योगी ने कहा, “4 साल पहले का समय पश्चिम उत्तर प्रदेश के लोग नहीं भूल सकते. यहां कांवड़ यात्रा नहीं निकाली दी जाती थी. दुर्गा पूजा नहीं मनाने दिया जाता था. 5 अगस्त 2020 के तिथि याद करिये कैसे भगवान राम के भव्य मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो चुका है, जो भव्यता के साथ आगे बढ़ रहा है. हर भारतीय गर्वित महसूस करता है.”

यह भी देखे:-

द्रौण मेले के दंगल में देश के नामी- गिरामी पहलवानों ने की कुश्ती, बारिश में भी लोगों ने लुत्फ़ उठ...
ठाकुर द्वारा मंदिर : अमृत वर्षा मेमोरीयल गौशाला का उद्घाटन
प्रतिभा सम्मान समारोह की तैयारी को लेकर हुई बैठक
श्रम विधि एवम विभाग द्वारा संचालित योजनाओं से उद्यमी रूबरू हुए , यस बैंक ने YES MSME योजना के बारे म...
जूते की फैक्ट्री में लगी आग, लाखों का नुकसान
ग्रामीणों ने लगाया रास्ता ख़त्म करने का आरोप
11.56 लाख रेल कर्मचारियों को दशहरे से पहले बड़ा तोहफा, हजारों रुपए का बोनस मिलेगा
हिन्दू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष चैंनपाल प्रधान ने  मुख्य कार्यपालक अधिकारी ग्रेनो को लिखा पत्र , गा...
उर्स पर निकला चादरपोशी का जुलूस, चिश्तिया लुत्फ़िया दरगाह दनकौर पर चादरपोशी
लूट की मोबाइल के साथ शातिर लुटेरे गिरफ्तार
बिजली संकट : देश मे क्यूँ बढ़ रही है बिजली की समस्या, पढें कारण
कासना व्यापारियों ने समस्या को लेकर सीईओ ग्रेटर नोएडा से की मुलाकात
प्रीती अग्रवाल बनी रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा की अध्यक्ष, नई कार्यकारणी ने कार्यभार संभाला
धर्मेन्द्र चंदेल ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब के निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित
रामनाथ कोविंद जीते राष्ट्रपति चुनाव, 25 जुलाई को 14 वें राष्ट्रपति पद की लेंगे शपथ
ट्रेन की चपेट में आए रिटायर्ड फौजी की मौत