कोरोना की स्वदेशी दवा उमीफेनोविर : सीडीआरआई ने बनाई दवा, पांच दिन में वायरल लोड खत्म करने का दावा

केंद्रीय औषधिक अनुसंधान संस्थान (सीडीआरआई), लखनऊ ने कोरोना की स्वदेशी दवा उमीफेनोविर बनाने का दावा किया है। संस्थान के अनुसार इस एंटीवायरल दवा के तीसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल सफल रहा है। संस्थान का दावा है कि उमीफेनोविर कोरोना के हल्के व लक्षणरहित रोगियों के इलाज में बहुत प्रभावी है और उच्च जोखिम वाले रोगियों के लिए रोगनिरोधी के रूप में उपयोगी है। यह पांच दिन में वायरल लोड को पूर्ण रूप से खत्म कर देता है।

 

सीडीआरआई के निदेशक प्रो. तपस कुंडू ने बताया कि औषधि महानियंत्रक, भारत सरकार (डीसीजीआई) ने गत वर्ष जून में केजीएमयू, एरा लखनऊ मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल और राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के सहयोग से सीडीआरआई को लक्षणविहीन, हल्के और मध्यम कोविड-19 रोगियों पर तीसरे चरण के क्लिनिकल परीक्षण की अनुमति दी थी। सीएसआईआर ने 16 दवाएं सुझाई थीं, जिनमें से ट्रॉयल के लिए उमीफेनोविर (आर्बिडोल) का चयन किया गया।

 

डेल्टा वेरियंट पर भी हो सकती है कारगर
निदेशक प्रो. कुंडू ने बताया कि उमीफेनोविर टैबलेट के रूप में है। इसे सिरप और इनहेलर के रूप में भी विकसित करने पर काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि परीक्षण में ऐसे मरीज भी शामिल थे, जिनमें वायरस का डेल्टा वेरियंट मिला था। ऐसे में माना जा रहा है कि यह डेल्टा वेरिएंट पर भी कारगर हो सकती है। उन्होंने बताया कि 132 मरीजों पर क्लिनिकल परीक्षण किया गया।

पांच दिन की दवा का खर्च 600 रुपये
निदेशक ने बताया कि उमीफेनोविर सार्स कोविड-19 के सेल कल्चर को बेहद प्रभावी तरीके से नष्ट करता है। यह मानव कोशिकाओं में इस वायरस के प्रवेश को रोकता है। इसकी पांच दिन की दवा का खर्च करीब 600 रुपये तक आता है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने क्लीनिकल परीक्षण रिपोर्ट का मूल्यांकन किया है और आपातकालीन स्वीकृति देने के लिए और अधिक संख्या में हल्के लक्षण वाले रोगियों पर अध्ययन जारी रखने के लिए कहा है।

 

यह भी देखे:-

वाराणसी:  रविदास जयंती ,सियासी हस्तियों का जमावड़ा, धर्मेन्‍द्र प्रधान ने टेका मत्‍था, एक ही समय पर ...
कोरोना का कहर: केरल ने बढ़ाई चिंता, लगातार दो दिनों से 22 हजार से ज्यादा नए मामले, 131 मरीजों की मौत
एसएसपी वैभव कृष्ण ने 1 दरोगा दो कांस्टेबल को निलम्बित किया, जानिए क्या है वजह
दादरी विधायक तेजपाल नागर ने बाढ़ पीड़ित इलाकों का किया दौरा प्रशासन को दिए आवश्यक दिशा निर्देश
रक्तदान जीवन का आधार - ध्रुव गलगोटिया।, गलगोाटिया विश्वविद्यालय में हुआ एक दिवसीय रक्तदान शिविर का आ...
होमगार्ड की हत्या के आरोप में दो सगे भाई गिरफ्तार
दरोगा पर पचास हजार रुपए मांगने का आरोप
रिपोर्ट: राष्ट्रीय स्तर पर एक महीने के ‘लॉकडाउन’ से जीडीपी में हो सकता है दो प्रतिशत नुकसान
ग्रेटर नोएडा : बिसरख में विश्व जनसंख्या दिवस को लेकर, निकाला जागरूकता कार्यक्रम।
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के प्रबंधकों व आये अभियंताओं को कार्य आवंटित, देखें सूची
राज्यसभा में पीएम मोदी की किसानों से अपील- आंदोलन खत्म करें
कांग्रेस जिला मुख्यालय पर मनाई गई राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती
2700 करोड़ रुपये की बिजनेस के साथ IHGF हेंडीक्राफ्ट मेला का हुआ समापन
होण्डा बदल रहा है भारत की राइडिंग का तरीका, 11 मॉडल लॉन्च किया
ग्रीन सिटी हॉस्पिटल ने धूमधाम से मनाया अपना 10वां स्थापना दिवस, शानदार उपलब्धियों पर हुई चर्चा
गृहमन्त्री व प्रधानमन्त्री, जाट समाज को दिये अपने वायदे को पूरा करें- यशपाल मलिक