कोरोना की स्वदेशी दवा उमीफेनोविर : सीडीआरआई ने बनाई दवा, पांच दिन में वायरल लोड खत्म करने का दावा

केंद्रीय औषधिक अनुसंधान संस्थान (सीडीआरआई), लखनऊ ने कोरोना की स्वदेशी दवा उमीफेनोविर बनाने का दावा किया है। संस्थान के अनुसार इस एंटीवायरल दवा के तीसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल सफल रहा है। संस्थान का दावा है कि उमीफेनोविर कोरोना के हल्के व लक्षणरहित रोगियों के इलाज में बहुत प्रभावी है और उच्च जोखिम वाले रोगियों के लिए रोगनिरोधी के रूप में उपयोगी है। यह पांच दिन में वायरल लोड को पूर्ण रूप से खत्म कर देता है।

 

सीडीआरआई के निदेशक प्रो. तपस कुंडू ने बताया कि औषधि महानियंत्रक, भारत सरकार (डीसीजीआई) ने गत वर्ष जून में केजीएमयू, एरा लखनऊ मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल और राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के सहयोग से सीडीआरआई को लक्षणविहीन, हल्के और मध्यम कोविड-19 रोगियों पर तीसरे चरण के क्लिनिकल परीक्षण की अनुमति दी थी। सीएसआईआर ने 16 दवाएं सुझाई थीं, जिनमें से ट्रॉयल के लिए उमीफेनोविर (आर्बिडोल) का चयन किया गया।

 

डेल्टा वेरियंट पर भी हो सकती है कारगर
निदेशक प्रो. कुंडू ने बताया कि उमीफेनोविर टैबलेट के रूप में है। इसे सिरप और इनहेलर के रूप में भी विकसित करने पर काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि परीक्षण में ऐसे मरीज भी शामिल थे, जिनमें वायरस का डेल्टा वेरियंट मिला था। ऐसे में माना जा रहा है कि यह डेल्टा वेरिएंट पर भी कारगर हो सकती है। उन्होंने बताया कि 132 मरीजों पर क्लिनिकल परीक्षण किया गया।

पांच दिन की दवा का खर्च 600 रुपये
निदेशक ने बताया कि उमीफेनोविर सार्स कोविड-19 के सेल कल्चर को बेहद प्रभावी तरीके से नष्ट करता है। यह मानव कोशिकाओं में इस वायरस के प्रवेश को रोकता है। इसकी पांच दिन की दवा का खर्च करीब 600 रुपये तक आता है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने क्लीनिकल परीक्षण रिपोर्ट का मूल्यांकन किया है और आपातकालीन स्वीकृति देने के लिए और अधिक संख्या में हल्के लक्षण वाले रोगियों पर अध्ययन जारी रखने के लिए कहा है।

 

यह भी देखे:-

यूपी में नहीं बढ़ेंगी बिजली दरें, राज्य विद्युत नियामक आयोग ने जारी किया टैरिफ ऑर्डर
ग्रेटर नोएडा वेस्ट ऐस सिटी में धूमधाम से की गई चित्रगुप्त व कलम, दवात की पूजा
यूपी पुलिस भर्ती 2021 : दरोगा बनना चाहते है तो ये खबर आपके लिए है, जानें योग्यता, सैलरी, आवेदन समेत ...
शिक्षा मित्रों ने केंद्रीय मंत्री का किया घेराव
बिलासपुर की ममता शर्मा ने जीता मिसेज यूपी फोटोजेनिक टाइटल खिताब
मीडिया में प्रकाशित ख़बरों का प्रशासन ने लिया संज्ञान, राशन कार्डों में फर्जी यूनिट मामले में जांच के...
ICC Test Rankings: रोहित-अश्विन का दबदबा, 'हिटमैन' करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंचे
सीबीएसई 12 वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा अब अप्रैल में, 10 वीं पर सस्पेंस
पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक वृक्ष लगाएं - डीएम बी. एन. सिंह
ग्रेटर नोएडा : बीटा - 2 में श्रीमद् भागवत महापुराण का आयोजन
सुरक्षित होगा ऑटो का सफर, कलर कोड से डाले जाएंगे नंबर
नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 से दुष्प्रचार का शिकार न खुद हों, न किसी और को होने दें : धीरेन्द्र सि...
सेल्स मैनेजेर की कातिल बीवी गिरफ्तार
इन 5 चीज़ों को डाइट में शामिल कर रख सकते हैं अपनी किडनी को हेल्दी
यूपी पुलिस भर्ती के नोटिफिकेशन में ही सरकार ने कह दिया, किसी भी समय निरस्त हो सकती है भर्ती
पीसी गुप्ता गैंग का एक और जमीन खरीद घोटाला उजागर , करोड़ों का लगाया चूना