9/11 हमला: अफगानिस्तान में अल-कायदा को खत्म करने के दावे से लेकर तालिबान को सत्ता सौंपने तक, जानें 20 साल का घटनाक्रम

अल-कायदा के आतंकियों ने 11 सितंबर 2001 की सुबह चार विमानों को हाईजैक कर लिया था। इन सभी का मकसद विमानों को अलग-अलग ऐतिहासिक स्थलों पर क्रैश कराने का था। सबसे पहला क्रैश अमेरिकन एयरलाइन फ्लाइट 11 का हुआ था, जो कि न्यूयॉर्क शहर में सुबह 8.46 बजे वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के उत्तरी टावर से टकराई थी। इसके 17 मिनट बाद ही यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 175 बिल्डिंग के दक्षिणी टावर से टकराई।
हाई अलर्ट जारी होने के बावजूद सुबह करीब 9.37 बजे अमेरिकन एयरलाइंस फ्लाइट 77 वॉशिंगटन स्थित अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन से टकराई। चौथे हाईजैक हुए विमान यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 93 का लक्ष्य व्हाइट हाउस या यूएस कैपिटल बिल्डिंग को निशाना बनाने का था, लेकिन यात्रियों से भिड़ंत की वजह से आतंकियों के हाथ से विमान का नियंत्रण छूट गया और यह पेन्सिलवेनिया के शैंक्सविल में मैदानी इलाके में गिर गया।

9/11 को हुई इन चार घटनाओं में 2977 लोगों की मौत हुई थी। इनमें 19 हाईजैकर भी शामिल रहे। जो लोग मारे गए उनमें चार विमानों में सवार 246 लोग, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और उसके आसपास के इलाके में 2606 लोग और पेंटागन में मौजूद 125 लोग शामिल थे। मारे गए ज्यादातर लोग आम नागरिक थे, लेकिन राहत और बचाव कार्य के दौरान 344 बचावकर्मी, 71 पुलिसकर्मी और 55 सैन्यकर्मी भी मारे गए थे।

हजारों ने गंवाई जान

9/11 हादसे में तीन हजार से अधिक लोगों ने जान गंवाई। इनमें करीब चार सौ पुलिसकर्मी और अग्निशमन दस्ते के सुरक्षाकर्मी भी शामिल थे। हमले में मारे गए 372 दुनिया के अलग- अलग देशों के लोग थे, जिनमें विमान अपहर्ताओं के अलावा 77 देशों के नागरिक भी शामिल थे। इन हमलों में लगभग 3,000 शिकार तथा 19 अपहरणकर्ता मारे गए। न्यूयॉर्क राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जून, 2009 तक अग्निशामकों एवं पुलिस कर्मियों सहित, 836 आपातसेवक मारे जा चुके हैं। वर्ल्ड ट्रेड सेन्टर पर हुए हमले में मारे गए 2,752 पीड़ितों में से न्यूयॉर्क शहर तथा पोर्ट अथॉरिटी के 343 अग्निशामक और 60 पुलिस अधिकारी थे। पेंटागन पर हुए हमले में 184 लोग मारे गए थे। हताहतों में 70 देशों के नागरिकों सहित नागरिकों की भारी संख्या थी।

यह भी देखे:-

जी .डी. गोयंका स्कूल में मनाया गया ग्रेजुएशन डे
घर में मिला वृद्ध महिला का शव , हत्या की आशंका, जांच में जुटी पुलिस
इलेक्ट्रॉनिक एंड प्रिंट मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन (इंडिया) द्वारा मीडिया कॉन्क्लेव 2018 का आयोजन
दुनिया के धनवान : जेफ बेजोस बनें एक बार फ़िर सबसे धनवान, जानिए शीर्ष 10 धनकुबेरों की कितनी है संपत्ति
ग्रेटर नोएडा वेस्ट रामलीला : मातृ -पितृ पूजन से दिया गया बड़ों के आदर का सन्देश
गलगोटिया यूनिवर्सिटी के छात्रों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से महिलाओं को किया जागरूक
तालिबान की भारत से पहली बातचीत, क्या हो सकते है दूरगामी परिणाम
जिला गौतम बुद्ध नगर में स्वीमिंग पूल बन्द करने के आदेश , बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर फैसला
सागर धनखड़ हत्याकांड: पहलवान सुशील ने ही की थी हत्या, पुलिस का चार्जशीट में दावा- वीडियो फुटेज से हु...
सोसाइटी की लिफ्ट गिरने से महिला को लगी गंभीर चोट
जी.एल बजाज में रक्तदान व वृक्षारोपण कार्यक्रम
वाटर प्लांट में कम्प्रेशर फटा, युवती की मौत
नेफोवा ने ग्रेटर नोएडा के सभी प्रोजेक्ट के एस्क्रौ अकाउंट के जांच की मांग उठाई
Ryan Greater Noida winners at National Games National Award Skating Championship
लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश में खुली बियर की दुकानें, समय निर्धारित  
हिंडन नदी को निर्मल बनाने के लिए मेरठ कमिश्नर प्रभात कुमार ने की पहल, 1000 पौधरोपण किया गया , सामाज...