वेब पोर्टल और यूट्यूब चैनलों पर FAKE NEWS चलाने वालों पर सुप्रीम कोर्ट सख़्त, बोले- ये कुछ भी चला रहे हैं

सुप्रीम कोर्ट ने नियामक तंत्र के अभाव में वेब पोर्टल्स और यूट्यूब चैनलों पर चलने वाले फेक न्यूज पर गंभीर चिंता व्यक्त की। शीर्ष कोर्ट ने कहा कि बिना किसी जवाबदेही के वेब पोर्टल पर सामग्री परोसी जा रही है। वे कुछ भी प्रसारित कर रहे हैं। चीफ जस्टिस ने कहा कि इस देश में सब कुछ एक सांप्रदायिक कोण से दिखाया जाता है।

बता दें कि मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना की अध्यक्षता वाली पीठ जमीयत उलेमा-ए-हिंद द्वारा दायर याचिकाओं के एक बैच की सुनवाई कर रही थी, जिसमें केंद्र को मरकज निजामुद्दीन में एक धार्मिक सभा से संबंधित फर्जी समाचार के प्रसार को रोकने और सख्त कदम उठाने का निर्देश देने की मांग की गई थी। इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई।

पीठ ने सवाल करते हुए कहा कि निजी समाचार चैनलों के एक हिस्से में दिखाई जाने वाली लगभग खबर में सांप्रदायिक रंग होता है। अंतत: इस देश की बदनामी होने वाली है। क्या आपने कभी इन निजी चैनलों को विनियमित करने का प्रयास किया। सोशल मीडिया केवल शक्तिशाली आवाजों को सुनता है और बिना किसी जवाबदेही के न्यायाधीशों, संस्थानों के खिलाफ कई चीजें लिखी जाती हैं।

पीठ ने कहा कि वेब पोर्टलों और यूट्यूब चैनलों में फेक न्यूज पर कोई नियंत्रण नहीं है। अगर आप यूट्यूब पर जाएं, तो आप पाएंगे कि कैसे फर्जी खबरें आसानी से प्रसारित होती हैं और कोई भी यूट्यूब पर एक चैनल शुरू कर सकता है।

 

यह भी देखे:-

मिलिट्री डायरेक्ट वेबसाइट का अध्ययन: विश्व की चौथी सबसे मजबूत सेना भारत की
एमएसएमई ने राज्यमंत्री को समस्याओं से कराया अवगत
जून के पहले हफ्ते से लाकडाउन से राहत, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी सावधानी से निर्णय लेने की सलाह
भारत में कोरोना ने मचाया कोहराम, 24 घंटे में करीब 3 लाख नए मामले, 2 हजार से अधिक की मौत
आईईसी कालेज में टेकफेस्ट “इनोविजन – 2022” का आगाज
एसएसपी वैभव कृष्ण के समर्थन में भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक), सीएम योगी को भेजा ज्ञापन
DCGI का विशेषज्ञ समूह Covaxin के थर्ड फेज ट्रायल के डेटा का करेगा अध्ययन, वैक्सीन की प्रभावी क्षमता ...
उत्तर प्रदेश: जिस जेल में बंद है मुख्तार अंसारी वहां की सुरक्षा में भारी चूक, उठे सवाल
एक सूचना दीजिए हजार रुपये लीजिए
क्रिकेट का कुंभ: 17 अक्तूबर से यूएई में हो सकता है टी-20 विश्व कप, खतरे में भारत की मेजबानी!
पीएम मोदी ने देश में शहरी विकास को नई दिशा व दिशा दी: राजनाथ सिंह
नोएडा- ग्रेटर नोएडा के पेट्रोल पम्पों पर प्रशासन का छापा , एक पेट्रोल पम्प की यूनिट सीज
SSC : खुशखबरी, एसएससी भर्ती परीक्षा में असफल अभ्यर्थी भी पा सकेंगे नौकरी
जिम्स अस्पताल का भवन असुरक्षित, जिला प्रशासन ने भेजी रिपोर्ट
प्रोफेसर डॉक्टर अरविन्द भानू को नोवरा सम्मान, एमिटी लॉ स्कूल के एक्टिंग डायरेक्टर , गरीब एवं दिव्या...
गलगोटिया कॉलेज में फोर्टिस हॉस्पिटल, ग्रेटर नोएडा ने "हेल्दी हार्ट हेल्दी टॉक" का किया आयोजन