अफगानिस्तान : 1 करोड़ बच्चों को है मानवीय सहायता की दरकार- UNICEF

न्यूयार्क, एएनआइ।  तालिबान ने जबसे अफगानिस्तान पर कब्जा किया है वहाँ पर सबसे  ज़्यादा यदि किसी कि दयनीय हालत है तो वहां के मौजूद बच्चे है।।            अफगानिस्तान में UNICEF के  प्रतिनिधि  हर्वे लुडोविक डे लिस (Herve Ludovic De Lys) ने बताया है कि ये बच्चे अपने मूल अधिकारों से वंचित है। इन्हें स्वस्थ और सुरक्षित बचपन नहीं मिल पा रहा। उन्होंने कहा,’इस संकट के लिए सबसे कम जिम्मेदार बच्चे हैं और इन्हें ही सबसे अधिक कीमत चुकानी पड़ रही है। काबुल में पिछले सप्ताह हुए आतंकी हमले में अनेकों बच्चों की मौत हो गई और कई जख्मी हैं।’ उन्होंने बताया कि बच्चे ऐसी जगहों पर रहने को मजबूर हैं जहां सूख के कारण पानी तक नहीं है।

प्रतिनिधि ने आगे बताया, ‘इन मासूमों को जिंदगी बचाने वाली पोलियो समेत कई बीमारियों से जूझने के लिए वैक्सीन तक नहीं मिल  पा रहा। अनेकों बच्चे कुपोषण के शिकार हैं।’ सोमवार सुबह संयुक्त राष्ट्र  से मेडिकल दवाओं की खेप अफगानिस्तान पहुंची। तालिबान के कब्जे के बाद यह  UN शिपमेंट की पहली खेप है।

 

यह भी देखे:-

मांगों को मनवाने शिक्षामित्रों का उग्र प्रदर्शन
समाजवादी छात्र सभा करेगी बड़ा आंदोलन
अन्ना हजारे के समर्थन में करप्शन फ्री इंडिया का जिला मुख्यालय पर धरना
रात भर बेटे को खोजते रहे परिजन, सुबह रेलवे ट्रैक पर मिला शव
कानपुर सेंट्रल स्टेशन : ट्रेन मे थे लगभग 1.40 करोड़ रुपये, पंचायत चुनाव मे थी खपाने की योजना, जीआरपी...
कलक्ट्रेट में डी.एम. बी.एन. सिंह ने किया झंडारोहण
भाजपा का जेवर मंडल में प्रशिशक्षण शिविर शुरू 
जिला गौतमबुद्ध नगर में CONTAINMENT ZONE की नई सूची जारी
ग्रेटर नोएडा में दो दिवसीय युवा संगीत सम्मेलन कल से
दार्जिलिंग में बोले शाह- दीदी ने भाजपा-गोरखा एकता तोड़ने का प्रयास किया, देना है मुंहतोड़ जवाब
वर्चुअल आर्ट एग्जीबिशन देखें Indigalleria.com पर कल 15 अगस्त से 
यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में अडानी समूह विकसित करेगा लॉजिस्टिक हब , बनी सहमती
जहरीली शराब पीने से चार की मौत, सीएम योगी ने दिए जांच के आदेश
पार्कों में जल्द दिखेंगे प्लास्टिक वेस्ट से बने बेंच व ट्री गार्ड
पटना के मासूम आयांश के इलाज को 16 करोड़ जुटा रहे तेज प्रताप; PM मोदी व CM नीतीश से भी मांगी मदद
यूपी : भ्रष्टाचार की शिकायत पर आगरा विवि के कुलपति का काम छिना, लविवि के कुलपति को अतिरिक्त चार्ज