President in Gorakhpur: कोरोना को नियंत्रित करने में आयुष की भूमिका अहम : कोविंद

गोरखपुर। President Kovind Gorakhpur Visit :  उत्तर प्रदेश के पहले आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वैदिककाल से प्रतिष्ठित आयुष प्रविधियों की महत्ता को आधुनिक काल में स्थापित करते हुए कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में आयुष ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। यह विश्वविद्यालय आयुर्वेद, योग, यूनानी, होम्योपैथी व सिद्ध के अलग-अलग महाविद्यालयों के सत्र, पाठ्यक्रम, परीक्षा और परिणाम के नियमन तथा इन चिकित्सा पद्धतियों का लाभ आमजन तक और सुलभ कराने का काम करेगा। प्राचीन एवं परंपरागत चिकित्सा पद्धतियों के संरक्षण व संवर्धन की दिशा में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर स्थापित होने वाला यह विश्वविद्यालय परम्परागत चिकित्सा पद्धति के विकास में मील का पत्थर स्थापित करेगा। पूर्वांचल के लिए गौरव की बात यह होगी कि इस आयुष विश्वविद्यालय का नाम योग की तमाम विधाओं के प्रणेता महायोगी गोरखनाथ के नाम पर होगा।

राष्ट्रपति ने वैदिक मंत्रोचार के बीच भूमि पूजन कर रखी विश्‍वविद्यालय की आधारशिला

भटहट के पिपरी में महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास स्थल पर पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सबसे पहले वैदिक मंत्रोच्चार के बीच भूमि पूजन कर आधारशिला रखी और इसके बाद मुख मंच से शिलान्यास पट्टिका का बटन दबाकर अनावरण किया। भूमि पूजन कार्यक्रम में उनकी पत्नी व देश की प्रथम महिला सविता कोविंद, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। शिलान्यास समारोह में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने वैदिक काल से ही आरोग्य को सर्वाधिक महत्व दिया है।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा : 10 वें दिन भी जारी रहा भाकियू का धरना
ग्रेटर नोएडा : जलाधिकार फाउंडेशन ने जल वन्दन कार्यक्रम किया आयोजित ,
करप्शन फ्री इंडिया संगठन की जिला कार्यकारिणी का हुआ विस्तार
BREAKING NEWS
भारत बनेगा सैन्‍य सामान के सबसे बड़े खरीदार से सबसे बड़ा निर्माता, उठाया अहम कदम
जन्माष्टमी व्रत कल, बन रहा है जयंती योग : पंडित सागर शर्मा
गुमशुदा मूक बधिर वृद्ध महिला : अपनों को खोजती आँखे , यदि पहचानें तो तुरंत संपर्क करें।
कमजोर न पड़ जाए कोरोना पर प्रहार, जुलाई में राज्यों को सिर्फ 12 करोड़ टीके ही देगी केंद्र सरकार
नोएडा की दवा कंपनी में भीषण आग 
कोरोना से मौत पर चार लाख का मुआवजा देने पर विचार कर रही सरकार, जानें- सुप्रीम कोर्ट में क्या कहा
नोएडा में जारी है डंपिंग ग्राउंड का विरोध
गौतम बुद्धा विश्विद्यालय में दो दिवसीय स्टाफ डेवलपमेंट प्रोग्राम का समापन
Tokyo Olympics: फाइनल में पहुंचने से चूके बजरंग पूनिया, कांस्य पदक जीतने की उम्मीद कायम
हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के टॉपर को किया सम्मानित
वाराणसी : गंगा में डाला जा रहा काशी विश्वनाथ धाम का मलबा, गंगाजल से उठ रही बदबू, प्रवाह बाधित
ग्रीन बेल्ट में पेड़ो में लगी दीमक से हो रहे नुकसान को लेकर करप्शन फ्री इंडिया संगठन का प्राधिकरण पर ...