तय समय पर काम पूरा न करने पर ठेकेदार को काली सूची में डाला

अब ठेकेदार दो साल तक ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में नहीं कर सकेगा काम

-बचे हुए कामों के लिए दोबारा से होगा टेंडर, अतिरिक्त व्यय भी ठेकेदार भरेगा
————————————-

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा के सेक्टर दो व नॉलेज पार्क -5 में विकास कार्यों का ठेका लेने के बाद तय समय पर काम न पूरा करना ठेकेदार पर भारी पड़ गया। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने ठेकेदार को दो साल के लिए काली सूची में डाल दिया है। अब वह दो साल तक ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में काम नहीं कर सकेगा। प्राधिकरण दोनों सेक्टरों के बचे हुए कार्यों का ठेका फिर से जारी करेगा और देरी के कारण तय बजट से जितना भी अधिक व्यय होगा, तो उसकी भरपाई भी वही ठेकेदार करेगा।
दरअसल, सेक्टर दो ग्रेटर नोएडा का रिहायशी सेक्टर है। यहां लोग प्लॉट पर पजेशन ले चुके हैं। प्राधिकरण ने सेक्टर के आंतरिक विकास कार्यों के लिए 2016 में टेंडर जारी किया था। करीब 4.36 करोड़ रुपये का काम होना था। सर्वांगिक इंफ्रा प्रा. लि. (पूर्व में डिवाइन कंस्ट्रक्शन) को बिड के जरिए इन कामों का ठेका मिला। ठेकेदार को एक साल में काम पूरा करना था, लेकिन वहां अभी तक काम अधूरा है। इसी तरह सर्वांगिक इंफ्रा को ही 2015 में नॉलेज पार्क- फाइव में 12 मीटर, 24 मीटर व 60 मीटर रोड और ड्रेन का निर्माण करने का ठेका मिला था। इन सड़कों को बनाने में करीब 4.37 करोड़ रुपये खर्च होने थे। एक साल में काम पूरा होना था, लेकिन अभी तक काम नहीं हुआ है। इस बीच प्राधिकरण की तरफ से कई बार ठेकेदार को मौखिक व लिखित चेतावनी भी दी गई, लेकिन उस पर कोई असर नहीं पड़ा। बीते दिनों सीईओ नरेंद्र भूषण ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित साइट ऑफिस में जनसुनवाई कर रहे थे। उसी दौरान सेक्टर 2 और नॉलेज पार्क 5 में विकास कार्यों के न होने की शिकायत मिली। आम नागरिकों को हो रही परेशानी को देखते हुए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। मुख्य महाप्रबंधक (परियोजना) ए.के. अरोड़ा ने ठेकेदार को दो साल के लिए काली सूची में डाल दिया। वरिष्ठ प्रबंधक एनके जैन की तरफ से इस बाबत पत्र जारी कर दिया गया। अब प्राधिकरण बचे हुए कार्यों के लिए नए सिरे से टेंडर जारी करेगा। देरी होने के कारण बचे हुए कार्यों को पूरा कराने में जो भी अतिरिक्त खर्च आएगा, प्राधिकरण उसकी भरपाई सर्वांगिक इंफ्रा प्रा. लि. से करेगा। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने चेताया है कि विकास कार्यों को तय समय पर न पूरा करने और गुणवत्ता में खामी मिलने पर किसी भी ठेकेदार को बख्शा नहीं जाएगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को समय पर पूरा न करने से आम नागरिकों को परेशानी होती है, जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।
——————–

यह भी देखे:-

कम्पनी कर्मी ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी
रमाबाई मैदान में तय होगी प्रसपा (लोहिया) की भविष्य की रणनीति : बब्बल भाटी
श्री धार्मिक रामलीला पाई 1 : नारद मोह का सजीव मंचन देख गदगद हो उठे दर्शक
LOCK DOWN 3: पब्लिक के लिए जारी किया गया गाइडलाइन्स - RESIDENT GUIDELINES
दनकौर : विवेकानंद विद्यापीठ स्कूल में नवरात्रि और दशहरा पर्व के उपलक्ष्य मे फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता...
ट्रायल के दौरान दीवार तोड़ बाहर निकली चालक रहित मेट्रो
कवि ओम रायज़ादा की रचना "कार्तिक माह की चौथ को, कहते .... "
रात्रि कर्फ्यू में सख्ती : मुख्यमंत्री योगी ने कहा- 10 बजे के बाद न खुलीं हों दुकानें, दुकानें बंद क...
रोड जाम कर सड़क पर उतरने को मजबूर हुए मोजरबेयर कंपनी के ये कर्मचारी
ड्रग विभाग के छापे से हड़कंप, तीन मेडिकल स्टोर सीज
जल भराव के बीच जज्बे और जोश के साथ पुलिसकर्मियों ने तिरंगा को सलामी दिया
एलनप्रो ने इंडिया इंटरनेशनल हॉस्पीटैलिटी एक्सपो 2019 (आईएचई 19) में अपने नए उत्पाद पेश किए
डॉक्टर्स डे: मुख्यमंत्री योगी ने की चिकित्सकों की तारीफ, कहा- कोरोना के दौरान उन्होंने उदाहरण प्रस्त...
अशुद्ध गणित से छप रहे हैं वर्तमान में प्रकाशित सारे ही पञ्चाङ्ग, कल 5 अक्टूबर  को है दीपावली : आचार...
सभी कार्यकर्ता विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाएं:नवीन शर्मा
बिल्डर से परेशान HOME BUYER ने आत्महत्या की इजाजत मांगी